Uttarakhand Pension Yojana 2021 | ऑनलाइन आवेदन कर इसका लाभ प्राप्त कर सकते है । 525.64 करोड़ रुपए खर्च

Uttarakhand Pension Yojana 2021: 525.64 करोड़ रुपए खर्च ।  Uttarakhand Pension Yojana Apply | उत्तराखंड पेंशन योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन | उत्तराखंड पेंशन योजना पेंशन स्टेटस | Uttarakhand Pension Yojana ।  ssp.uk.gov.in Online Portal ।  उत्तराखंड पेंशन योजना 2020

Uttarakhand Pension Yojana 2021: 525.64 करोड़ रुपए खर्च

उत्तराखंड राज्य सरकार द्वारा उत्तराखंड पेंशन योजना की शुरुआत राज्य के नागरिको को आर्थिक सहायता प्रदान करने के लिए चलाई गई है। इस योजना के अंतर्गत राज्य के नागरिको को 4 प्रकार की पेंशन योजनाएं से लाभान्वित किया जाएगा। इस योजना के तहत उत्तराखंड राज्य के लोगो आर्थिक सहायता प्रदान कर उनके जीवन स्तर में सुधार लाया जाएगा। आज हम आपको उत्तराखंड पेंशन योजना से जुडी सम्पूर्ण जानकारी जैसे इसके प्रकार, उद्देश्य, विशेषताएं, लाभ, पात्रता, महत्वपूर्ण दस्तावेज, आवेदन प्रक्रिया, आदि। के बारे में चर्चा परिचर्चा करेंगे।

Uttarakhand Pension Yojana | उत्तराखंड पेंशन योजना 

Uttarakhand Pension Yojana 2021 का संचालन उत्तराखंड के समाज कल्याण विभाग द्वारा किया जा रहा है। उत्तराखंड पेंशन योजना के अंतर्गत चार प्रकार ( वृद्धावस्था पेंशन, दिव्यांग पेंशन, किसान पेंशन तथा विधवा पेंशन ) की पेंशन योजना को उत्तराखंड राज्य के नागरिको के लोक कल्याण करने के लिए शुरू किया है। वर्तमान में उत्तराखंड पेंशन योजना के लिए 525.64 करोड़ रुपए खर्च किए जा चुके हैं। उत्तराखंड राज्य के नागरिको द्वारा हर साल इस योजना के लिए आवेदन किया जाता है राज्य के इच्छुक नागरिक इस योजना पर ऑनलाइन आवेदन कर इसका लाभ प्राप्त कर सकते है । 

Types of Uttarakhand Pension yojana

वृद्धावस्था पेंशन-

वृद्धावस्था पेंशन -इस योजना के अंतर्गत राज्य के वृद्धजन नागरिकों को आर्थिक सहायता राशि प्रदान की जायगी ।इस योजना के तहत राज्य सरकार द्वारा प्रतिमाह 1200₹ प्रोत्साहन राशि के रूप में प्रदान की जायगी। वृद्धावस्था पेंशन के तहत 6 माह के अंतराल में पेंशन का दो किस्तों के रूप में भुगतान किया जाएगा। वर्तमान समय में इस योजना के लिए राज्य सरकार द्वारा 334.83 करोड़ रुपए व्यय किए जा चुके हैं।

दिव्यांग पेंशन-

इस योजना के पात्र उत्तराखंड राज्य के दिव्यांग (विकलांग ) होंगे। दिव्यांग पेंशन योजना के अंतर्गत राज्य के दिव्यांग नागरिको को प्रति माह 1200₹ आर्थिक सहायता राशि के रूप में प्रदान किए जायेगे।इस आर्थिक सहायता राशि का भुगतान 6 माह के अंतराल में दो किस्तों के रूप में किया जाता है। इस योजना के लिए राज्य सरकार द्वारा अभी तक 52.99 करोड़ रुपए व्यय किए जा चुके हैं।

किसान पेंशन-

इस योजना के अंतर्गत उत्तराखंड राज्य के वृद्ध किसानो को प्रति वर्ष14400 रुपए की आर्थिक सहायता राशि प्रदान की जायगी। यह आर्थिक सहायता राशि राज्य सरकार द्वारा 6-6 महीने के अंतराल पर दो किस्तों के रूप में प्रदान की जायगी। किसान पेंशन योजना के पात्र केवल वही वृद्ध किसान होंगे जिनकी आयु 60 वर्ष से अधिक है। इस योजना के अंतर्गत उत्तराखंड राज्य सरकार द्वारा अभी तक 1539 करोड रुपए व्यय किए जा चुके हैं

विधवा पेंशन-

इस योजना के अंतर्गत उत्तराखंड राज्य की विधवा महिलाओं को प्रतिमाह ₹1200 की आर्थिक सहायता राशि प्रदान की जायगी । विधवा पेंशन योजना के तहत आर्थिक सहायता राशि का भुगतान 6 माह के अंतराल में दो किस्तों के रूप में किया जाएगा । इस योजना के लिए राज्य सरकार द्वारा 122.43 करोड़ रुपए व्यय किए जा चुके हैं।

यह भी देखे–>> उत्तराखंड रोजगार पंजीकरण

Key Highlights Of Uttarakhand Pension Yojana 2021

योजना का नाम उत्तराखंड पेंशन योजना
किस ने लांच की उत्तराखंड सरकार
लाभार्थी उत्तराखंड के नागरिक
उद्देश्य प्रदेश के जरूरतमंद लोगों को आर्थिक सहायता प्रदान करना
आधिकारिक वेबसाइट https://ssp.uk.gov.in/
साल 2021
अब तक किया गया खर्च 525.64 करोड़ रुपए
पेंशन राशि ₹1200 प्रतिमाह

Aim Of Uttarakhand Pension Yojana 2021

उत्तराखंड पेंशन योजना का मुख्य उद्देश्य राज्य के नागरिको को आर्थिक सहायता राशि प्रदान कर उनके जीवन स्तर में सुधार लाना है। इस योजना के द्वारा राज्य के नागरिक अपना व अपने घर परिवार का भरण-पोषण अच्छे से कर पाएंगे। उत्तराखंड पेंशन योजना के जरिए से राज्य के नागरिक सशक्त व आत्मनिर्भर बनेगे। इस योजना के माध्यम से राज्य के गरीब लोगो की आर्थिक स्थिति में सुधार लाया जाएगा। उत्तराखंड पेंशन योजना के अंतर्गत आर्थिक सहायता राशि लाभार्थी के बैंक अकाउंट में ट्रांसफर कर दिए जाएगे

 Benefits Of Uttarakhand Pension Yojana 2021

उत्तराखंड पेंशन योजना के अंतर्गत राज्य के नागरिको को आर्थिक सहायता राशि प्रदान की जायगी। यह सहायता राशि ₹1200 प्रतिमाह होगी ।

➥  इस योजना के तहत आर्थिक सहायता राशि 6 महीने के अंतराल में 2 किस्तों के रूप में की जायगी।

उत्तराखंड पेंशन योजना से राज्य के नागरिको (विकलांग ,वृद्धजन , किसान ) को लाभान्वित किया जाएगा।

इस योजना के माध्यम से राज्य के गरीब लोग ठीक से अपना जीवन यापन कर पाएंगे। 

इस योजना की शुरुआत उत्तराखंड के समाज कल्याण विभाग द्वारा की गई है।

इस योजना के अंतर्गत राज्य सरकार द्वारा चार प्रकार (वृद्धावस्था पेंशन , दिव्यांग पेंशन , किसान पेंशन , विधवा पेंशन ) योजनाओ को शुरू किया है।

सामाजिक सुरक्षा राज्य पोर्टल पर उत्तराखंड पेंशन योजना के लिए पंजीकरण किया जा सकता है।

उत्तराखंड पेंशन योजना के जरिए से राज्य के नागरिक सशक्त व आत्मनिर्भर बनेगे।

उत्तराखंड पेंशन योजना के लिए राज्य सरकार द्वारा 525.64 करोड रुपए व्यय किए जा चुके हैं।

 

उत्तराखंड पेंशन योजना स्टैटिसटिक्स

पेंशन योजना पात्र पेंशनर (वर्तमान) कुल प्रोसैस्ड पेंशनर पेंशन राशि
वृद्धावस्था पेंशन योजना 453307 458666 334.83 crore
दिव्यांग पेंशन योजना 72475 73497 52.99 crore
किसान पेंशन योजना 25927 25910 15.39 crore
विधवा पेंशन योजना 169103 170715 122.43 crore
टोटल 720812 728788 525.64 crore

Eligibility criteria & Required Documents of Uttarakhand Pension Yojana 2021

आवेदक उत्तराखंड राज्य का स्थायी निवासी होना अनिवार्य है

लाभार्थी के परिवार की सालाना आय ₹48000 से कम होना अनिवार्य है।

आधार कार्डराशन कार्ड

निवास प्रमाण पत्र

आय प्रमाण पत्र

पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ

मोबाइल नंबर

  Uttarakhand Pension Yojana Application Procedure 

सबसे पहले आवेदक को उत्तराखंड सामाजिक सुरक्षा राज्य पोर्टल की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा।

Uttarakhand Pension Yojana

इसके बाद वेदक के सामने होमपेज खुल जाएगा।

इस होम पेज पर आवेदक को नागरिक सेवाओं के अंतर्गत आवेदन करें, स्थिति जाने के विकल्प पर क्लिक करना होगा।

अब आवेदक को नया ऑफलाइन आवेदन करें के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।

Uttarakhand Pension Yojana

अब आपको जिस पेंशन योजना के अंतर्गत पंजीकरण करना चाहते हैं उसका चयन करना होगा।

इसके बाद डाउनलोड के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।

आवेदन पत्र डाउनलोड जाने के बाद आपको इस फॉर्म का प्रिंट निकालना होगा।

इसके पश्चात आवेदन पत्र में पूछी गई सभी आवश्यक जानकारी भरनी होगी इसके बाद सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों को संग्लन करना होगा।

इसके पश्चात आवेदक को इस आवेदन पत्र को उत्तराखंड के समाज कल्याण विभाग में जमा करवाना होगा।

इस प्रकार आपका आवेदन सफल हो जाएगा। 

उत्तराखंड पेंशन योजना क्या है ?

उत्तराखंड राज्य सरकार द्वारा उत्तराखंड पेंशन योजना की शुरुआत राज्य के नागरिको को आर्थिक सहायता प्रदान करने के लिए चलाई गई है।

उत्तराखंड पेंशन योजना के अंतर्गत कितनी योजनाओ की शुरुआत की गई है ?

उत्तराखंड पेंशन योजना के अंतर्गत चार प्रकार ( वृद्धावस्था पेंशन, दिव्यांग पेंशन, किसान पेंशन तथा विधवा पेंशन ) ।

उत्तराखंड पेंशन योजना के अंतर्गत राज्य सरकार द्वारा कितने पैसे व्यय किए गये है ?

उत्तराखंड पेंशन योजना के लिए 525.64 करोड़ रुपए खर्च ।