Uttar Pradesh Shramik Registration – Shramik Card क्या है, जाने लाभ और बनाये UP Shramik Majdur कार्ड Online,2021

Uttar Pradesh Shramik Registration-: नमस्ते ! मित्रो आज हम बात करेंगे श्रमिक पंजीकरण के बारे में सरकार पूरी कोशिश करती है की उनके द्वारा जो-जो योजनाए निकाली गयी है उनका लाभ सभी श्रमिक उठा पाए। उत्तर प्रदेश सरकार ने इस बात को मध्य नजर रखते हुए श्रमिक पंजीकरण शुरू किया।

हम आपको आज इस लेख के द्वारा श्रमिक पंजीकरण की सारी जानकारी देंगे। जैसे की इसका उद्देश्य, लाभ, विशेषताएं, पात्रता, महत्वपूर्ण दस्तावेज, आवेदन प्रक्रिया आदि। विस्तार से जानने के लिए आप सभी हमारे इस लेख को ध्यान से और अंत तक पढ़े।

Contents

Uttar Pradesh Shramik Registration

UP सरकार ने श्रमिक पंजीकरण शुरू किया। श्रमिक योजना के तहत UP के सभी मजदूर वर्ग को Registered किया जाएगा। इन Registered मजदूरों को सरकार के द्वारा दी गयी योजनाओ का लाभ उठा सकते है। श्रमिक योजना के तहत सभी श्रमिक APPLY कर सकते है ।

इस योजना के द्वारा श्रमिकों को सरलता से आर्थिक सहायता दी जायेगी। यह सहायता मजदूरों के BANK ACCOUNT डाली जायेगी वर्तमान में उप सरकार द्वारा ₹12000 -₹100,000 की आर्थिक सहायता दी जायेगी। इस योजना का लाभ उठाने के लिए सभी श्रमिकों को APPLY OFFICIAL WEBSITE पर करवाना होगा। APPLY करवाने के लिए Minimum आयु 18 वर्ष तथा Maximum आयु 60 वर्ष है।

उत्तर प्रदेश श्रम विभाग पंजीकरण

UP श्रमिक कार्ड सभी UP के मजदूर वर्ग के परिवारों के लिए बनवाया जा रहा है। यह कार्ड बनवाने के लिए श्रमिकों को OFFICIAL WEBSITE पर जाकर online APPLY करना होगा। Online APPLY करने के बाद आपका श्रमिक कार्ड बनकर आ जाएगा। Online APPLY भी किया जा सकता है तथा जन सेवा केंद्र के माध्यम से भी किया जा सकता है।

Online APPLY करने के लिए श्रमिकों को किसी भी सरकारी कार्यालय के चक्कर काटने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी। आप घर बैठे INTERNET के माध्यम से अपना पंजीकरण करवा सकते हैं। श्रमिक कार्ड के माध्यम से श्रमिक परिवारों को सरकारी योजनाओं के लाभ प्रदान किए जाएंगे।

Shramik Panjikaran 2021 Highlights

योजना का नामSHRAMIK PANJIKARN
इनके द्वारा शुरू की गयीउत्तर प्रदेश सरकार
लाभार्थी राज्य के श्रमिक लोग
पंजीकरण का प्रकारONLINE
OFFICIAL WEBSITE  

Uttar Pradesh Shramik Registration

हम अब बात करेंगे UP श्रमिक पंजीकरण की इसका मुख्य उद्देश्य है कि जो लोग अपनी आर्थिक ज़रूरतों को पूरा करने और जीवन बिताने के लिए मजदूरी करते है। तथा किसी निर्माण क्षेत्र में कार्य कर रहे है तो उन सभी लोगो को आर्थिक सहायता पहुंचाने के लिए सरकार ने श्रमिक पंजीकरण का PROCESS शुरू किया है।

श्रमिक पंजीकरण योजना के माध्यम से UP के मजदूर लोगो को तथा उनकी बालिका और बालक को UP की श्रमिक से जुड़ी सरकारी योजना से अवगत कराना और उन्हें आर्थिक सहायता प्रदान करना | राज्य के सभी श्रमिक अपना पंजीकरण करवाकर श्रमिक कार्ड बनवा सकते है और उससे कई तरह के लाभ प्राप्त कर सकते है |

श्रमिक पंजीकरण करवा सकते है

  • बिल्डिंग का कार्य करने वाले
  • कुआ खोदने वाले
  • छप्पर छानेवाले
  • कारपेंटर का कार्य करने वाले
  • राजमिस्त्री
  • लोहार
  • प्लम्बर
  • सड़क निर्माण करने वाले
  • बिजली वाले
  • पुताई करने वाले
  • हतोड़ा चलानेवाले
  • मोजेक पोलिश
  • चट्टान तोड़ने वाले
  • निर्माण स्थल पर चौकीदारी करने वाले
  • पत्थर तोड़ने वाले
  • लेखाकार का काम करने वाले
  • बांध प्रबंधक ,भवन निर्माण के अधीन कार्य करने वाले
  • खिड़की ग्रिल एवं दरवाज़ों की गढ़ाई और स्थापना करने वाले
  • इट भट्टों पर इट का निर्माण करने वाले
  • सीमेंट ,पत्तर ढोने का काम करने वाले
  • चुना बनाने का काम करने वाले

इन 17 सरकारी योजनाओ का लाभ उठा सकते है श्रमिक मजदूर वर्ग के लोग

  • मेधावी छात्र पुरुस्कार योजना
  • शिशु हितलाभ योजना
  • निर्माण कामगार बालिका मदद योजना
  • निर्माण श्रमिक भोजन सहायता योजना
  • मातृत्व हितलाभ योजना
  • संत रविदास शिक्षा सहायता योजना
  • कौशल विकास तकनीकी योजना
  • आवासीय विद्यालय योजना
  • सोर ऊर्जा सहायता योजना
  • चिकित्सा सुविधा योजना
  • कन्या विवाह योजना
  • आवास सहायता योजना
  • गंभीर बीमारी सहायता योजना
  • अक्षमता पेंशन योजना
  • पेंशन सहायता योजना
  • निर्माण कामगार मृत्यु एवं विकलांगता सहायता योजना
  • निर्माण कामगार अन्ते यष्टि योजना

श्रमिक पंजीकरण के अन्य लाभ

UP सरकार द्वारा मजदूरों के लिए विभिन्न योजनाओं का संचालन किया जाता है जिसका लाभ प्राप्त करके श्रमिक आत्मनिर्भर एवं सशक्त बनते हैं। इन योजनाओं का लाभ प्राप्त करने के लिए श्रमिकों को RAGISTRD होना आवश्यक होता है। श्रमिकों के लिए संचालित की जा रही योजनाएं एवं उनके लाभ कुछ इस प्रकार है।

मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना: इस योजना के द्वारा श्रमिकों के बच्चों को एवं प्रदेश के उन बच्चों को जो आर्थिक स्थति के कारण COACHING प्राप्त नहीं कर पाते हैं उन्हें FREE competitive Exams के लिए COACHING प्रदान की जाती है।

बीमा कवर एवं आकस्मिक मृत्यु: इस योजना के तहत श्रमिकों की अचानक मृत्यु या विकलांगता होने पर ₹200000 का बीमा कवर दिया जाता है इसी के साथ उन्हें ₹500000 का स्वास्थ्य बीमा कवर भी प्रदान किया जाता है।

PM गरीब कल्याण योजना: इस योजना के द्वारा 5 मई से श्रमिकों को FREE का वितरण किया जाएगा। कोरोना महामारी के दौरान सन 2020 में सरकार द्वारा FREE राशन के साथ श्रमिकों को भरण-पोषण भत्ता भी किया जाएगा।

UP श्रम आयोग द्वारा की जाएगी मदद: सरकार द्वारा कोरोना महामारी को देखते हुए वित्तीय सहायता भी दी जा रही है। जिससे कि 54 लाख मजदूरों को लाभ पहुंचा है। राज्य में लगभग 40 लाख श्रमिक वापस लौटे हैं। इन सभी श्रमिकों को भी आर्थिक सहायता दी गई है। इन सभी श्रमिकों के लिए उत्तर प्रदेश श्रम आयोग द्वारा रोजगार भी ढूंढा जाएगा।

बेटियों की शादी के लिए आर्थिक सहायता: सरकार द्वारा कन्या विवाह सहायता योजना का संचालन किया जाता है। जिसके तहत श्रमिकों की बालिकाओ की शादी पर आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है। इसके अलावा श्रमिकों के बच्चों को शिक्षा प्रदान की जाती है और उन्हें FREE छात्रावास की सुविधा भी प्रदान की जाती है। जिसके लिए 18 संभागों में से प्रत्येक में अटल आवासीय विद्यालय स्थापित किए गए हैं।

श्रमिकों के लिए COVID KIT: Weekend Curfew के दौरान औद्योगिक इकाइयां कार्य करना जारी रखेंगी। इन सभी इकाइयों में COVID Helpdesk की स्थापना की जाएगी और यदि श्रमिकों को किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो वह इन Helpdesk पर संपर्क करके अपनी समस्या का समाधान कर सकते हैं। इसके अलावा काम के स्थल पर Sanitizer, Thermal Scanner, Pulse Oximeter आदि भी प्रदान किए जाएंगे।

मातृत्व, शिशु एवं बालिका मदद योजना

योजना का नाममातृत्व, शिशु एवं बालिका मदद योजना
पात्रताश्रमिक द्वारा केवल दो प्रसावो तक ही इस योजना का लाभ उठाया जा सकता है। केवल संस्थागत प्रसव में ही इस योजना का लाभ महिला श्रमिक को देय होगा। बालिका मदद योजना का लाभ पहली संतान कन्या एवं दूसरी संतान कन्या होने पर देय होगा। सभी निसंतान दंपति जिन्होंने कानूनी रूप से कन्या को गोद लिया है वह भी इस योजना का लाभ उठा सकते हैं।
महत्वपूर्ण दस्तावेजअद्यतन पंजीयन, परिवार Ragister , आधार कार्ड, बैंक पासबुक की छायाप्रति, वाद्यानिक गोदनामा, Online जारी जन्म प्रमाण पत्र, राजकीय अस्पताल में संस्थागत प्रसव/गर्भपात/नसबंदी होने संबंधित प्रमाण पत्र
लाभमातृत्व हितलाभ के अंतर्गत पुरुष कामगार को ₹6000 प्रदान किए जाएंगे। सभी महिला कामगार संस्थागत प्रसव की स्थिति में तीन महा का न्यूनतम वेतन के समर्थन धनराशि तथा ₹1000 चिकित्सा बोनस प्राप्त कर सकेंगी।

यदि महिला का गर्भपात हो जाता है तो 6 सप्ताह का समतुल्य न्यूनतम वेतन प्रदान किया जाएगा। यदि महिला नसबंदी करवाती है तो 2 सप्ताह का समतुल्य न्यूनतम वेतन प्रदान किया जाएगा। यदि पंजीकृत कामगार का शिशु पुत्र होता है तो इस स्थिति में ₹20000 प्रदान किए जाएंगे और ज्यादा पुत्री होती है |

तो  इस स्थिति में ₹25000 प्रदान किए जाएंगे। यदि परिवार की पहली संतान बालिका एवं दूसरी संतान भी बालिका होती है तो इस स्थिति में ₹25000 की सावधि जमा की जाएगी। यदि जन्म लेने वाली संतान दिव्यांग बालिका होती है तो उस स्थिति में ₹50000 की सावधि जमा की जाएगी। यह राशि बालिका को 18 वर्ष की आयु पूरी होने के बाद प्रदान की जाएगी

संत रविदास शिक्षा सहायता योजना

योजना का नामसंत रविदास शिक्षा सहायता योजना
पात्रताआवेदक उत्तर प्रदेश का स्थाई निवासी होना अनिवार्य है। आवेदक की आयु 25 वर्ष या फिर उससे कम होनी चाहिए।
महत्वपूर्ण दस्तावेजआधार कार्ड बैंक अकाउंट पासबुक कॉलेज प्रवेश प्रमाण पत्र निवास प्रमाण पत्र जन्म प्रमाण पत्र पंजीकृत प्रमाण पत्र दसवीं कक्षा मार्कशीट
लाभकेवल एक परिवार के दो बच्चों द्वारा ही इस योजना का लाभ उठाया जा सकता है। वे सभी बालिका जिन्होंने कक्षा 10 एवं 12 उत्तीर्ण कर ली है उनको साइकिल प्रदान की जाएगी। कक्षा 1 से 5 तक ₹150 प्रतिमाह, कक्षा 6 से 10 तक ₹200 प्रतिमाह तथा कक्षा 11 से 12 तक ₹250 प्रति माह इस योजना के अंतर्गत प्रदान किए जाएंगे।

स्नातक पाठ्यक्रम वाले छात्र को ₹1000, परास्नातक छात्र को ₹2000 एवं मेडिकल/ इंजीनियरिंग पाठ्यक्रम वाले छात्र को ₹8000 प्रदान किए जाएंगे।

मेधावी छात्र पुरस्कार योजना

योजना का नाममेधावी छात्र पुरस्कार योजना
पात्रताआवेदक उत्तर प्रदेश का स्थाई निवासी होना अनिवार्य है। कक्षा 5 से 9 तक आवेदक द्वारा कम से कम 55% अंक प्राप्त किए होने चाहिए। छात्र द्वारा कक्षा 10 से 12 तक कम से कम 50% अंक प्राप्त किए होने चाहिए। आवेदक द्वारा ITI B.A, B.COM , MA.,M.COM आदि में 60% अंक प्राप्त किए होने चाहिए।
महत्वपूर्ण दस्तावेजआधार कार्ड फीस रिसिप्ट बैंक खाता पासबुक पंजीकृत प्रमाण पत्र परीक्षा प्रमाण पत्र अगली परीक्षा में प्रवेश लेने हेतु प्रमाण पत्र इस
लाभइस योजना के तहत छठी कक्षा उत्तीर्ण होने पर पुरस्कार राशि प्रदान की जाएगी। यदि कोई छात्र कक्षा उत्तीर्ण करने में असफल रहता है तो उसे दूसरी किस्त की राशि नहीं प्रदान की जाएगी।  

आवासीय विद्यालय योजना

योजना का नामआवासीय विद्यालय योजना
पात्रताइस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदक UP का स्थाई निवासी होना चाहिए। आवेदक की आयु 6 से 14 वर्ष के बीच होनी चाहिए।
महत्वपूर्ण दस्तावेजपंजीयन प्रमाण पत्र अद्यतन अंशदान जमा प्रमाण पत्र आधार कार्ड
लाभइस योजना को प्रदेश के 12 जनपदों में संचालित किया जा रहा है। इस योजना को अटल आवासीय विद्यालय में प्रारंभ होने के बाद विलय किया गया है। सरकार द्वारा इस योजना के तहत निशुल्क आवास, भोजन, वस्त्र एवं अन्य सुविधाएं उपलब्ध करवाई जाएंगी। सभी 6 से 14 वर्ष के श्रमिकों के पुत्र पुत्री को निशुल्क आवासीय शिक्षा प्रदान की जाएगी।

कौशल विकास, तकनीकी उन्नयन एवं प्रमाणन योजना

योजना का नामकौशल विकास, तकनीकी उन्नयन एवं प्रमाणन योजना
पात्रताआवेदक का उत्तर प्रदेश(UP) का स्थाई निवासी होना अनिवार्य है। आवेदक स्वयं श्रमिक होना चाहिए या फिर उसकी पति या पत्नी श्रमिक होनी चाहिए। पुत्र की अधिकतम आयु 21 वर्ष होनी चाहिए। इस योजना के तहत पत्नी और अविवाहित पुत्री की कोई आयु सीमा नहीं है। आवेदक की आयु 18 से 35 वर्ष के बीच होनी चाहिए।
महत्वपूर्ण दस्तावेजप्रशिक्षण आवेदन पत्र पंजीयन प्रमाण पत्र आधार कार्ड
लाभइस योजना के माध्यम से श्रमिकों को विकास मिशन के अंतर्गत निशुल्क प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा। प्रशिक्षण पूर्ण होने पर न्यूनतम वेतन से समतुल्य राशि प्रदान की जाएगी। इस योजना के माध्यम से श्रमिकों से मूल्यांकन परीक्षा भी कराई जाएगी।

सौर ऊर्जा सहायता योजना

योजना का नामसौर ऊर्जा सहायता योजना
पात्रताआवेदक श्रमिक उत्तर प्रदेश का स्थाई निवासी होना चाहिए। श्रमिक पंजीकृत होना चाहिए। इस योजना का लाभ परिवार का केवल एक व्यक्ति एक बार ही उठा पाएगा। 9 से 12 कक्षा में पढ़ रहे आवेदकों के बच्चों को वरीयता दी जाएगी।
महत्वपूर्ण दस्तावेज₹25 का अतिरिक्त अंशदान आधार कार्ड पंजीयन प्रमाण पत्र वांछित वरीयता के अभिलेख
लाभइस योजना के तहत लगाए गए उपकरणों पर 5 वर्ष की गारंटी प्रदान की जाएगी। इस योजना के अंतर्गत दो LID बल्ब, एक DC टेबल फैन, एक सोलर पैनल चार्जिंग कंट्रोलर, एक मोबाइल चार्जर स्थापित किया जाएगा। इस योजना का लाभ श्रमिकों को स्थाई आवास में प्रदान किया जाएगा।

कन्या विवाह अनुदान योजना

योजना का नामकन्या विवाह अनुदान योजना
पात्रताआवेदक श्रमिक उत्तर प्रदेश का स्थाई निवासी होना अनिवार्य है। आवेदक श्रमिक पंजीकृत होना अनिवार्य है। वह भी पंजीकृत श्रमिक होना चाहिए। आवेदक के पंजीकरण को 100 दिन पूर्ण हो चुके हो। इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए वधु की आयु 18 वर्ष एवं वर्ग की आयु 21 वर्ष होनी अनिवार्य है।
महत्वपूर्ण दस्तावेजघोषणा पत्र विवाह का प्रमाण पत्र वर का आयु प्रमाण पत्र पंजीयन प्रमाण पत्र आधार कार्ड
लाभइस योजना के तहत पंजीकृत श्रमिक की अविवाहित पुत्री को स्वजातीय विवाह में ₹55000 प्रति पुत्री एवं अंतरजातीय विवाह में ₹61000 प्रति पुत्री की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। यदि 11 जोड़ों का सामूहिक विवाह आयोजित किया जा रहा है तो इस स्थिति में ₹65000 की धनराशि प्रदान की जाएगी।

इसके अलावा प्रति जोड़ा ₹7000 का आयोजन व्यय भी बोर्ड द्वारा वाहन किया जाएगा। वर वधु के पोशाक के लिए ₹5000 भी प्रदान किए जाएंगे। विधवा विवाह एवं वाध्यानिक विवाह की स्थिति में सरकार द्वारा देय धनराशि वर वधु को उपलब्ध करवाई जाएगी।

आवास सहायता योजना

योजना का नामआवास सहायता योजना
पात्रताआवेदक उत्तर प्रदेश का स्थाई निवासी होना अनिवार्य है। आवेदक एक पंजीकृत श्रमिक होना चाहिए। श्रमिक एवं उसके परिवार के पास कोई भी रिहायशी मकान उपलब्ध नहीं होना चाहिए। केवल उनके पास मकान बनाने के लिए पर्याप्त भूमि होनी चाहिए।

आवेदक का पंजीकरण 5 वर्ष पुराना होना चाहिए एवं आवेदक की आयु 55 वर्ष या फिर उससे ज्यादा होनी चाहिए। श्रमिक द्वारा पहले से इस प्रकार की किसी योजना का लाभ नहीं उठाया जा रहा हो।
महत्वपूर्ण दस्तावेजBANK ACCOUNT पासबुक भूमि होने के कागजात स्थाई प्रमाण पत्र पंजीकृत प्रमाण पत्र आधार कार्ड
लाभइस योजना के माध्यम से श्रमिक को अपना खुद का आवास बनाने के लिए ₹100000 की धनराशि उपलब्ध करवाई जाएगी। पूर्व में उपलब्ध आवास के लिए ₹15000 की धनराशि मरम्मत हेतु उपलब्ध करवाई जाएगी। एक ही लाभार्थी दोनों योजनाओं का लाभ नहीं प्राप्त कर सकता।

शौचालय सहायता योजना

योजना का नामशौचालय सहायता योजना
पात्रताआवेदक उत्तर प्रदेश का स्थाई निवासी होना अनिवार्य है। आवेदक एक अद्यतन पंजीकृत श्रमिक होना अनिवार्य है। श्रमिक की आवास में पहले से शौचालय की सुविधा उपलब्ध नहीं होनी चाहिए। श्रमिक द्वारा इस प्रकार की किसी अन्य योजना का लाभ नहीं उठाया जा रहा हो। आवेदक के पास राष्ट्रीय कृत बैंक में खाता होना अनिवार्य है।
महत्वपूर्ण दस्तावेजBANK ACCOUNT पासबुक पंजीकृत प्रमाण पत्र आधार कार्ड
लाभइस योजना के तहत लाभार्थी को ₹12000 की धनराशि 2 Installments में प्रदान की जाएगी। यह धनराशि लाभार्थी के खाते में वितरित की जाएगी। जिला पंचायत राज अधिकारी द्वारा लाभार्थी का चयन किया जाएगा।

चिकित्सा सुविधा योजना

योजना का नामचिकित्सा सुविधा योजना
पात्रताश्रमिक उत्तर प्रदेश का स्थाई निवासी होना अनिवार्य है। आवेदक निर्माण श्रमिक बोर्ड में पंजीकृत होना अनिवार्य है। श्रमिक का अद्यतन अंशदान जमा होना चाहिए।
महत्वपूर्ण दस्तावेजBANK ACCOUNT पासबुक अद्यतन अंशदान जमा का प्रमाण पंजीयन प्रमाण पत्र आधार कार्ड
लाभइस योजना के माध्यम से विवाहित निर्माण श्रमिक को ₹3000 की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी एवं अविवाहित निर्माण श्रमिक को ₹2000 की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। यह आर्थिक सहायता प्रतिवर्ष प्रदान की जाएगी। विवाहित जोड़े में से केवल एक ही इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकता है। इस योजना के माध्यम से मिलने वाली धनराशि सीधे लाभार्थी के बैंक खाते में वितरित की जाएगी।  

आपदा राहत सहायता योजना

योजना का नामआपदा राहत सहायता योजना
पात्रताआवेदक UP का स्थाई निवासी होना अनिवार्य है। केवल अद्यतन रूप से पंजीकृत श्रमिक ही इस योजना का लाभ उठा सकते हैं।
महत्वपूर्ण दस्तावेजबैंक खाता विवरण आधार संख्या
लाभकेंद्र/राज्य सरकार द्वारा तय की गई अवधि (वार्षिक/अदवार्षिक/त्रैमासिक/मासिक) मैं पंजीकृत लाभार्थी को एकमुश्त ₹1000 की धनराशि प्रदान की जाएगी।

महात्मा गांधी पेंशन योजना

योजना का नामMAHATMA GANDHI PANTION YOJANA
पात्रताआवेदक उत्तर प्रदेश का स्थाई निवासी होना अनिवार्य है। श्रमिक की आयु 60 वर्ष या फिर उससे ज्यादा होनी चाहिए। पंजीकरण की न्यूनतम अवधि 10 वर्ष निर्धारित की गई है। आवेदक द्वारा किसी और सामान्य पेंशन योजना का लाभ ना उठाया जा रहा हो।
महत्वपूर्ण दस्तावेजनिवास प्रमाण पत्र BANK ACCOUNT पासबुक आधार कार्ड पेंशन धारक की मृत्यु की स्थिति में मृत्यु प्रमाण पत्र
लाभइस योजना के माध्यम से आवेदक को प्रति माह ₹1000 की राशि उपलब्ध करवाई जाएगी। प्रति 2 वर्ष के बाद पेंशन की राशि में ₹50 की वृद्धि की जाएगी। आवेदक की मृत्यु हो जाने पर पेंशन उसकी पत्नी को प्रदान की जाएगी।

गंभीर बीमारी सहायता योजना

योजना का नामगंभीर बीमारी सहायता योजना  
पात्रताआवेदक उत्तर प्रदेश का स्थाई निवासी होना अनिवार्य है। श्रमिक की पुत्र तथा पुत्री की आयु 21 वर्ष या फिर उससे कम होनी चाहिए। आवेदक द्वारा प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना तथा मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना का लाभ उठाया जा रहा हो।
महत्वपूर्ण दस्तावेजआधार कार्ड चिकित्सा प्रमाण पत्र बीमारी से संबंधित अभिलेख अविवाहित पुत्री का जन्म प्रमाण पत्र अद्यतन पंजीकृत प्रमाण पत्र
लाभइस योजना के माध्यम से आवेदक द्वारा सरकारी एवं निजी अस्पताल में इलाज करवाया जा सकेगा। इस योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा कोई भी अधिकतम राशि निर्धारित नहीं की गई है। यदि आवेदक द्वारा चिकित्सा एवं निजी अस्पताल में इलाज करवाया गया है तो इस योजना के अंतर्गत अग्रिम राशि का भुगतान किया जाएगा।

मृत्यु, विकलांगता सहायता एवं अक्षमता पेंशन योजना

योजना का नाममृत्यु, विकलांगता सहायता एवं अक्षमता पेंशन योजना  
पात्रताआवेदक उत्तर प्रदेश का स्थाई निवासी होना चाहिए। आवेदक द्वारा किसी और पेंशन योजना का लाभ ना उठाया जा रहा हो।
Important DocumentsDeath Certificate Aadhaar Card Bank Account Passbook
लाभइस योजना के माध्यम से कार्यस्थल पर दुर्घटना के समय मृत्यु होने पर ₹500000 की धनराशि प्रदान की जाएगी। यदि कार्यस्थल से भिन्न स्थाई विकलांगता होती है या फिर सामान्य मृत्यु होती है तो इस स्थिति में ₹200000 की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।

कार्यस्थल पर दुर्घटना के समय हुई स्थाई विकलांगता की स्थिति में ₹300000 की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। यदि अपंजीकृत श्रमिक की कार्यस्थल पर दुर्घटना मैं मृत्यु हो जाती है तो उस स्थिति में ₹50000 की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। किसी दुर्घटना या बीमारी के कारण पूर्ण आश्रम होने पर पूरे जीवन काल तक 1500–1250–1000 की पेंशन प्रदान की जाएगी।

अंत्येष्टि सहायता योजना

योजना का नामअंत्येष्टि सहायता योजना
पात्रताआवेदक उत्तर प्रदेश का स्थाई निवासी होना चाहिए। आवेदक बोर्ड में पंजीकृत होना चाहिए। आवेदक की मृत्यु हो चुकी हो।

Important Documents
मृत्यु प्रमाण पत्र अद्यतन जमा का प्रमाण पंजीयन प्रमाण पत्र आधार कार्ड
लाभइस योजना के माध्यम से ₹25000 की धनराशि मृतक के नॉमिनी को प्रदान की जाएगी।

श्रमिक पंजीकरण स्टैटिसटिक्स

Total registered labour93.92 lakh
Registered labour in 2020-2141.36 lakh
Total renewed labour62.70 lakh
Total renewed labour in 2020-2112.35 lakh
Total verified scheme in 2020-2131.55 lakh
Total transfer amount in 2020-21483.21 lakh

श्रमिक पंजीकरण के लाभ

  1. कन्या विवाह योजना के अंतर्गत दो बेटियों की शादी पर 55-55 हज़ार रूपये की आर्थिक सहायता सरकार द्वारा दी जाएगी |
  2. मेधावी छात्र योजना के तहत कक्षा 5 से 7 तक 4 हज़ार रूपये ,कक्षा 8 में 5 हज़ार रूपये ,कक्षा 9 व दस में 5 हज़ार रूपये ,कक्षा 11 व 12 में 8 हज़ार रूपये ,GREGUATION ,से ऊपर Engineering या Degree की पढाई करने पर 11 हज़ार रूपये से 22 हज़ार रूपये तक दिए जायेगे|
  3. BA के STUDENTS को 13 से 15 हज़ार रूपये और MA के STUDENTS को 15 से 17 हज़ार रूपये |
  4. मातृत्व हित लाभ योजना के तहत पंजीकरण महिलाओ को 12 हज़ार रूपये और शिशु लाभ हेतु लड़का होने पर 10 हज़ार रूपये और लड़की होने पर 12 हज़ार रूपये की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी |
  5. आवास योजना के तहत मकान बनाने के लिए 1 लाख रूपये तथा भवन मरम्मत के लिए 15 हज़ार रूपये दिए जायेगे |
  6. इन सभी योजनाओ का लाभ श्रमिक पंजीकरण करवा कर और श्रमिक कार्ड बनवाने के बाद मजदूर लोग उठा सकते है|

Shramik Panjikaran IMPORTENT DOCUMANTS

  • APPLY करने वाला UP का स्थायी निवासी होना चाहिए
  • आवेदक की आयु 18-60 वर्ष के बीच होनी चाहिए |
  • जिन श्रमिकों ने पिछले 12 महीने में कम-कम 3 महीने निर्माण श्रमिक के रूप में कार्य किया हो |
  • श्रमिक पंजीकरण में केवल परिवार के मुखिया के नाम पर ही श्रमिक कार्ड बनता है |
  • आधार कार्ड
  • राशन कार्ड
  • मतदाता पहचान पत्र
  • भामाशाह कार्ड
  • बैंक का विवरण
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • परिवार के सभी सदस्यों का पहचान पत्र

श्रमिक पंजीकरण करने का PROCESS

राज्य के जो इच्छुक लाभार्थी अपना पंजीकरण करना चाहते है तो वह नीचे दिए गए तरीके को Follow करे और सभी सरकारी योजना का लाभ उठाये |

प्रथम चरण

Step-1:  सबसे पहले आवेदक को श्रम विभाग की OFFICIAL WEBSITE पर जाना होगा | अब आपके सामने UP Labor Department की WEBSITE खुल जाएगी |

Uttar Pradesh Shramik Registration


Step-2: इसके पश्चात आपके सामने HOME PAGE खुल जायेगा इस HOME PAGE पर आपको अधिनियम प्रबंधन प्रणाली का LINK दिखाई देगा | फिर आपको इस LINK पर CLICK करना होगा |
Step-3: अब आपके सामने Labour Act Management System WEBSITE खुल जाएगी | इसके बाद आपको अपनी भाषा में चुनना होगा फिर WEBSITE पर दिए गए निर्देशों को पढ़े और फिर PORTAL के उपयोग हेतु पोर्टल की सदस्यता प्राप्त करनी होगी |
Step-4: यदि आप NEW USER हो तो Register Now BUTTON पर CLICK करना होगा फिर New Registration पर CLICK करना होगा | दिए गए FORM में अपना विवरण भरे और फिर USER ID और PASSWORD बनाये |
Step-5: इसके बाद USER NAME और PASSWORD दर्ज करके LOGIN करे | अब इस PORATL के अधिनियमों के तहत पंजीयन ,नवीनीकरण ,वार्षिक RETURNS आदि का उपयोग कर सकते है | सर्वप्रथम ACT को चुनेगे फिर पंजीकरण पर CLICK करे |
Step-6: CLICK करने के बाद अगले पेज पर दिए गए निर्देश पढ़े और ‘I Have Read All Instruction Carefully ‘पर टिक करके I Agree के विकल्प पर CLICK करे |

द्वितीय चरण

Step-1: इसके बाद FORM में पूछी गयी सभी जानकारी भरनी होगी FORM भरने के बाद FORM को SAVE करे | सुरक्षित आवेदन पर जाकर आप अपना सुरक्षित FORM देख सकते है | अब आप अपना सुरक्षित FORM का चयन करके उसको सम्पादित कर सकते है और ज़रूरी संलंगक लगा सकते है भुकतान कर सकते है इत्यादि |

Step-2: Upload Attachment BUTTON पर जा कर आप ज़रूरी दस्तावेज़ Attachment करके UPLOAD कर सकते है फिर Choose FILE में जा कर UPLOAD Attachment को SALECT करके OPEN करे फिर आप PAYMENT BUTTON पर जा कर आवेदन संख्या डालकर भुकतान का प्रकार का चयन कर सकते है |

भुगतान प्रकार के 2 प्रकार है 1 .चालान 2 .ONLINE |चालान पर CLICK करके आप चालान FORM DOWNLOAD कर सकते है अथवा ONLINE SALECT करके Proceed to Payment कर सकते है |

Step-3: ONLINE SALECT करने पर अब आप राजकोष की WEBSITE पर है यहाँ आप Pay without Registration पर क्लिक करके Department SALECT करे इसके बाद Division के column से सम्बंधित क्षेत्रीय कार्यलय का नाम डाले फिर Select Treasury के COLUMN से सम्बंधित जनपद कीTreasury को चुने फिर Depositor नाम में फर्म का नाम डाले इसके पश्चात् सावधानीपूर्वक सम्बंधित अधिनियम के हेड का चयन का शुल्क अंकित करे |

Step-4: फिर भुकतान के पश्चात् चालान नंबर ,दिनाक ,बैंक का नाम आदि भरकर SUBMIT करे अब आपकी Application सम्बंधित उप श्रमयुक्त के पास प्रेषित हो चुका है |इस तरह आपका आवेदन पूरा हो जायेगा |

OFFLINE श्रमिक पंजीकरण करने का PROCESS

Step-1: सबसे पहले आपको अपने जिले के श्रम विभाग में जाना होगा।
Step-2: फिर आपको वहां से RAGISTRETION FORM लेना होगा।
Step-3: इसके बाद आपको RAGISTRETION FORM में पूछी गई सभी जानकारी ध्यान पूर्वक भरनी होगी।
Step-4: इसके पश्चात् आपको सभी IMPORTENT DOCUMENT को RAGISTRETION FORM से Attached करना होगा।
Step-5: फिर आपको यह FORM श्रम विभाग में जमा करना होगा।
Step-6: इस प्रकार आप पंजीकरण करवा पाएंगे।

आवेदन की स्थिति देखने का PROCESS

Step-1: सर्वप्रथम आपको उत्तर प्रदेश भवन एवं अन्य सन्निर्माण कामगार कल्याण बोर्ड की OFFICIA WEBSITE पर जाना होगा।
Step-2: फिर आपके सामने HOME PAGE खुल कर आएगा।
Step-3: अब HOME PAGE पर आपको Schemes के OPTION पर CLICK करना होगा।
Step-4: इसके बाद आपको SCHEME APPLICATION STATUS  के OPTION पर CLICK करना होगा।

 

आवेदन की स्थिति देखने का PROCESS
Step-5: फिर आपके सामने एक नया PAGE खुल कर आएगा।
Step-6: अब आपको इस PAGE पर अपनी योजना आवेदन संख्या तथा पंजीयन संख्या डालनी होगी।
Step-7: अब आपको SUBMIT के OPTION पर CLICK करना होगा।
Step-8: APPLY की स्थिति आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर होगी।

Registration Number Verify करने का PROCESS

Step-1: सबसे पहले आपको Labor Department की OFFICIAL WEBSITE पर जाना होगा।
Step-2: फिर आपके सामने HOME PAGE खुल कर आएगा।
Step-3: अब HOME PAGE पर आपको Whats new के TAB पर CLICK करना होगा।
Step-4: अब आप को Verify Registration Number के LINK पर CLICK करना होगा।

 

Registration Number Verify करने का PROCESS


Step-5: इसके बाद आपको CLICK Here to Verify Registration Verify Number  के LINK पर CLICK करना होगा।

 

Registration Number Verify करने का PROCESS

 

Step-6: फिर आपके सामने एक नया PAGE खुल कर आएगा जिसमें आपको ACT का चयन करना होगा तथा RAGISTRETION नंबर डालना होगा।
Step-7: इसके बाद आपको SUBMIT के BUTTON पर CLICK करना होगा।
Step-8: इस प्रकार आप RAGISTRETION नंबर verify कर पाएंगे।

पंजीकरण रिन्यू करने की PROSCESS

Step-1: सबसे पहले आपको उत्तर प्रदेश भवन एवं अन्य सन्निर्माण कामगार कल्याण बोर्ड की OFFICIAL WEBSITE पर जाना होगा।
Step-2: फिर आपके सामने HOME PAGE खुल कर आएगा।
Step-3: अब HOME PAGE पर आपको LABOUR Renewal Application के OPTION पर CLICK करना होगा।

 

पंजीकरण रिन्यू करने की PROSCESS


Step-4: फिर आपके सामने एक नया PAGE खुल कर आएगा जिसमें आपको अपनी पंजीयन संख्या डालनी होगी।
Step-5: इसके बाद आपको SEARCH के OPTION पर CLICK करना होगा।
Step-6: अब आपके सामने RENEWAL FORM खुलकर आएगा।
Step-7: आपको इस RENEWAL FORM में पूछे गए सभी महत्वपूर्ण जानकारी डालनी होगी।
Step-8: इसके बाद आपको सभी Important Documents को UPLOADकरना होगा।
Step-9: अब आपको SUBMIT के OPTION पर CLICK करना होगा।
Step-10: इस प्रकार आप अपना पंजीकरण Renew कर पाएंगे।

नवीनीकरण का आवेदन एवं स्थिति देखने का PROCESS

Step-1: सबसे पहले आपको उत्तर प्रदेश भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड के OFFICIAL WEBSITE पर जाना होगा।
Step-2: फिर आपके सामने HOME PAGE खुल कर आएगा।
Step-3: अब HOME PAGE पर आपको श्रमिक के विकल्प पर CLICK करना होगा।

Step-4: इसके बाद आपको नवीनीकरण का आवेदन एवं स्थिति के विकल्प पर CLICK करना होगा।
Step-5: अब आपके सामने एक नया PAGE खुलकर आएगा जिसमें आपको अपनी पंजीयन संख्या डालनी होगी।
Step-6: फिर आपको SEARCH के विकल्प पर CLICK करना होगा।
Step-7: संबंधित जानकारी आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर होगी।

पंजीयन की स्थिति देखने का PROCESS

Step-1: सबसे पहले आपको उत्तर प्रदेश भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड के OFFICIAL WEBSITE पर जाना होगा।
Step-2: फिर आपके सामने HOME PAGE खुल कर आएगा।
Step-3: अब HOME PAGE पर आपको श्रमिक के विकल्प पर CLICK करना होगा।
Step-4: इसके पश्चात आपको पंजीयन की स्थिति के विकल्प पर CLICK करना होगा।

पंजीयन की स्थिति देखने का PROCESS
Step-5: इसके पश्चात आपको पंजीयन संख्या या फिर आवेदन संख्या एवं मोबाइल नंबर डालना होगा।
Step-6: अब आपको SEARCH के विकल्प पर CLICK करना होगा।
Step-7: पंजीयन की स्थिति आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर होंगी।

अपनी आवेदन/पंजीयन संख्या जानने का PROCESS

Step-1: सर्वप्रथम आपको उत्तर प्रदेश भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड के OFFICIAL WEBSITE पर जाना होगा।
Step-2: फिर आपके सामने HOME PAGE खुल कर आएगा।
Step-3: इसके बाद आपको श्रमिक के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
Step-4: फिर आगे आपको अपनी आवेदन/पंजीयन संख्या जाने के विकल्प पर CLICK करना होगा।

अपनी आवेदन/पंजीयन संख्या जानने का PROCESS


Step-5: इसके बाद आपके सामने एक नया PAGE खोलकर आएगा।
Step-6: इस PAGE पर आपको अपनी आधार कार्ड संख्या एवं मोबाइल नंबर डालना होगा।
Step-7: अब आपको SEARCH के विकल्प पर CLICK करना होगा।
Step-8: संबंधित जानकारी आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर होगी।

श्रमिक पंजीयन/संशोधन करने का PROCESS

Step-1: सबसे पहले आपको उत्तर प्रदेश भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड के OFFICIAL WEBSITE पर जाना होगा।
Step-2: फिर आपके सामने HOME PAGE खुल कर आएगा।
Step-3: अब HOME PAGE पर आपको श्रमिक के विकल्प पर CLICK करना होगा।
Step-4: इसके बाद आपको श्रमिक पंजीयन/संशोधन के विकल्प पर CLICK करना होगा।

 

श्रमिक पंजीयन/संशोधन करने का PROCESS


Step-5: अब आगे आपके सामने एक नया PAGE खोलकर आएगा।
Step-6: आपको इस PAGE पर निम्नलिखित जानकारी डालनी होगी।
Step-7: आधार कार्ड संख्या या आवेदन/पंजीयन संख्या
             मंडल
            जनपद
            मोबाइल नंबर
Step-8: इसके बाद आपको आवेदन/संशोधन करे के विकल्प पर CLICK करना होगा।
Step-9: इसके पश्चात आपके सामने आपका APPLY FORM खुलकर आएगा।
Step-10: अब आप इस FORM में संशोधन कर सकते हैं।

श्रमिकों के लिए उपलब्ध योजनाओं की सूची देखने का PROCESS

Step-1: सबसे पहले आपको उत्तर प्रदेश भवन एवं अन्य सन्निर्माण कामगार कल्याण बोर्ड की OFFICIAL WEBSITE पर जाना होगा।
Step-2: फिर आपके सामने HOME PAGE खुल कर आएगा।
Step-3: होम पेज पर आपको Schemes के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
Step-4: इसके बाद आपको ALL Schemes के विकल्प पर CLICK करना होगा।

 

श्रमिकों के लिए उपलब्ध योजनाओं की सूची देखने का PROCESS


Step-5: जैसे ही आप इस विकल्प पर CLICK करेंगे आपके सामने सभी Schemes की सूची खुलकर आ जाए।

लाभार्थी सूची देखने का PROCESS

Step-1: सबसे पहले आपको उत्तर प्रदेश भवन एवं अन्य सन्निर्माण कामगार कल्याण बोर्ड की OFFICIAL WEBSITE पर जाना होगा।
Step-2: फिर आपके सामने HOME PAGE खुल कर आएगा।
Step-3: इसके बाद आपको Schemes के TAB पर CLICK करना होगा।
Step-4: अब आपको List of Laborers Benefited From Scheme के OPTION पर CLICK करना होगा।

लाभार्थी सूची देखने का PROCESS
Step-5: इसके बाद आपको जनपद तथा योजना को चुनना होगा।
Step-6: अब आपको SUBMIT के OPTION पर CLICK करना होगा।
Step-7: लाभार्थी सूची आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर होगी।

श्रमिकों की सूची (जनपद वार/ब्लॉक वार) देखने का PROCESS

Step-1: सबसे पहले आपको उत्तर प्रदेश भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड के OFFCIAL WEBSITE पर जाना होगा।
Step-2: फिर आपके सामने HOME PAGE खुल कर आएगा।
Step-3: अब HOME PAGE पर आपको श्रमिक के विकल्प पर CLICK करना होगा।
Step-4: इसके बाद आपको श्रमिकों की सूची (जनपद वार/ब्लॉक वार) के विकल्प पर CLICK करना होगा।श्रमिकों की सूची (जनपद वार/ब्लॉक वार) देखने का PROCESS

Step-5: उसके बाद आपके सामने एक नया PAGE खुलकर आएगा।
Step-6: आपको इस PAGE पर अपना जनपद, नगर निकाय, विकास खंड एवं कार्य की प्रकृति को चुनना होगा।
Step-7: अब आपको SUBMIT के विकल्प पर CLICK करना होगा।
Step-8: श्रमिकों की सूची आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर होगी।

श्रमिक Certificate देखने का PROCESS

Step-1: सर्वप्रथम आपको उत्तर प्रदेश भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड के OFFICIAL WEBSITE पर जाना होगा।
Step-2: अब आपके सामने HOME PAGE खुल कर आएगा।
Step-3: इसके बाद आपको श्रमिक के विकल्प पर CLICK करना होगा।
Step-4: अब आपको SHARMIC Certificate के विकल्प पर CLICK करना होगा।

 

श्रमिक Certificate देखने का PROCESS


Step-5: अब आपके सामने एक नया PAGE खुल कर आएगा।
Step-6: इस PAGE पर आपको अपनी आधार कार्ड संख्या एवं पंजीयन संख्या डालनी होगी।
Step-7: अब आपको SEARCH के विकल्प पर CLICK करना होगा।
Step-8: श्रमिक सर्टिफिकेट आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर होगा।

विभागीय लोगिन करने का PROCESS

Step-1: सबसे पहले आपको उत्तर प्रदेश भवन एवं अन्य सन्निर्माण कामगार कल्याण बोर्ड की OFFICIAL WEBSITE पर जाना होगा।
Step-2: अब आपके सामने HOME PAGE खुल कर आएगा।
Step-3: फिर HOME PAGE पर आपको विभागीय LOGON के OPTION पर CLICK करना होगा।

 

विभागीय लोगिन करने का PROCESS


Step-4: इसके बाद आपके सामने एक नया PAGE खुल कर आएगा।
Step-5: इस पेज पर आपको USER के प्रकार को चुनना होगा।
Step-6: अब आपको User-Id तथा PASSWORD डालना होगा।
Step-7: इसके बाद आपको LOGIN करें के OPTION पर CLICK करना होगा।
Step-8: इस प्रकार आप विभागीय LOGIN कर पाएंगे।

Inquiry करने का PROCESS

Step-1: सबसे पहले आपको उत्तर प्रदेश भवन एवं अन्य सन्निर्माण कामगार कल्याण बोर्ड की OFFICIAL WEBSITE पर जाना होगा।
Step-2: फिर आपके सामने HOME PAGE खुल कर आएगा।
Step-3: अब HOME PAGE पर आपको संपर्क करें के OPTION पर CLICK करना होगा।
Step-4: इसके बाद आपको Inquiry के OPTION पर CLICK करना होगा।

 

Inquiry करने का PROCESS


Step-5: अब आपके सामने एक नया PAGE खुल कर आएगा।
Step-6: आपको इस PAGE पर अपना नाम, फोन नंबर, ईमेल आईडी, पता आदि डालना होगा।
Step-7: इसके बाद आपको SUBMIT के OPTION पर CLICK करना होगा।
Step-8: इस प्रकार आप Inquiry कर पाएंगे।

प्रवासन प्रमाण पत्र हेतु आवेदन एवं स्व घोषणा पत्र डाउनलोड करने का PROCESS

Step-1: सबसे पहले आपको उत्तर प्रदेश भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड के OFFICAL WEBSITE पर जाना होगा।
Step-2: फिर आपके सामने HOME PAGE खुल कर आएगा।
Step-3: अब आगे HOME PAGE पर आपको श्रमिक के विकल्प पर CLICK करना होगा।
Step-4: अब आपको प्रवासन प्रमाण पत्र हेतु आवेदन एवं स्व घोषणा पत्र DOWNLOAD करें के विकल्प पर CLICK करना होगा।

 

प्रवासन प्रमाण पत्र हेतु आवेदन एवं स्व घोषणा पत्र डाउनलोड करने का PROCESS


Step-5: जैसे ही आप इस विकल्प पर CLICK करेंगे आपके सामने PDF Format में स्व घोषणा पत्र खुलकर आ जाएगा।
Step-6: इसके बाद आपको DOWNLOAD के विकल्प पर CLICK करना होगा।
Step-7: इस प्रकार आप्रवासन प्रमाण पत्र हेतु आवेदन एवं संघ घोषणा पत्र DOWNLOAD कर पाएंगे।
Step-8: जैसे ही आप इस विकल्प पर क्लिक करेंगे आपके सामने PDF Format में स्व घोषणा पत्र खुलकर आ जाएगा।
Step-9: इसके पश्चात आपको DOWNLOAD के विकल्प पर CLICK करना होगा।
Step-10: इस प्रकार आप्रवासन प्रमाण पत्र हेतु आवेदन एवं संघ घोषणा पत्र DOWNLOAD कर पाएंगे।

स्व प्रमाण पत्र की प्रतिलिपि DOWNLOAD करने का PROCESS

Step-1: सर्वप्रथम ले आपको उत्तर प्रदेश भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड के OFFICIAL WEBSITE पर जाना होगा।
Step-2: फिर आपके सामने HOME PAGE खुल कर आएगा।
Step-3: इसके बाद आपको श्रमिक के विकल्प पर CLICK करना होगा।
Step-4: अब आपको स्व प्रमाण पत्र की प्रतिलिपि DOWNLOAD करें के विकल्प पर CLICK करना होगा।

 

स्व प्रमाण पत्र की प्रतिलिपि DOWNLOAD करने का PROCESS


Step-5: जैसे ही आप इस विकल्प पर CLICK करेंगे स्व प्रमाण पत्र आपकी स्क्रीन पर PDF Format में खुलकर आ जाएगा।
Step-6: अब आपको DOWNLOAD के विकल्प पर CLICK करना होगा।
Step-7: इस प्रकार आप स्व प्रमाण पत्र की प्रतिलिपि DOWNLOAD कर पाएंगे।

Government Order DOWNLOAD करने का PROCESS

Step-1: सर्वप्रथम आपको उत्तर प्रदेश भवन एवं अन्य सन्निर्माण कामगार कल्याण बोर्ड की OFFICIAL WEBSITE पर जाना होगा।
Step-2: फिर आपके सामने HOME PAGE खुल कर आएगा।
Step-3: HOME PAGE पर आपको E Citizen के TAB पर CLICK करना होगा।
Step-4: अब आपको GOVERNMENT ORDER  के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।

 

Government Order DOWNLOAD करने का PROCESS

 

Step-5: जैसे कि आप इस OPTION पर CLICK करेंगे आपके सामने सभी Government Order खुलकर आ जाएंगे।
Step-6: आपको अपनी आवश्यकतानुसार LINK पर CLICK करना होगा।
Step-7: इसके पश्चात आपके द्वारा चिन्हित किया गया Government Order आपकी स्क्रीन पर PDF Format में खुलकर आ जाएगा।
Step-8: अब आपको DOWNLOAD के OPTION पर CLICK करना होगा।
Step-9: इस प्रकार आप Government Order DOWNLOAD कर पाएंगे।

आधार सत्यापन करने का PROCESS

Step-1: सर्वप्रथम आपको उत्तर प्रदेश भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड के OFFICIAL WEBSITE पर जाना होगा।
Step-2: अब आपके सामने HOME PAGE खुल कर आएगा।
Step-3: इसके बाद आपको श्रमिक के विकल्प पर CLICK करना होगा।
Step-4: अब आपको अपना आधार सत्यापित करें के विकल्प पर CLICK करना होगा।
Step-5: इसके बाद आपके सामने एक नया PAGE खोलकर आएगा।

Step-6: इस PAGE पर आपका अपना मंडल, पंजीयन संख्या, आधार कार्ड नंबर, नाम, पिता/पति का नाम, लिंग, जन्म तिथि, आयु आदि डालना होगा।
Step-7: इसके बाद आपको आधार सत्यापन के विकल्प पर CLICK करना होगा।
Step-8: इस प्रकार आप अपने आधार को सत्यापित कर पाएंगे।

शिकायत दर्ज करने का PROCESS

Step-1: सर्वप्रथम आपको यूपी लेबर की OFFICIAL WEBSITE पर जाना होगा। OFFICIAL WEBSITE पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल जायेगा।
Step-2: इस HOME PAGE पर आपको ग्रीवांस का OPTION दिखाई देगा। आपको इस विकल्प पर CLICK करना होगा। OPTION पर CLICK करने के बाद आपके सामने अगला PAGE खुल जायेगा।

 

शिकायत दर्ज करने का PROCESS


Step-3: इसके बाद इस PAGE पर आपको ऐड नई ग्रीवांस का OPTION दिखाई देगा। आपको इस लिंक पर क्लिक करना होगा। LINK पर CLICK करने के बाद आपके सामने आगे का PAGE खुल कर आ जायेगा।

 

शिकायत दर्ज करने का PROCESS


Step-4: इस पेज पर आपको शिकायत दर्ज करने के लिए एक फॉर्म दिखाई देगा आपको इस FORM में पूछी गयी सभी जानकारी जैसे शिकायत ,शिकायत का प्रकार , नाम, जेंडर , ईमेल आईडी , मोबाइल नंबर , डिस्ट्रिक्ट एड्रेस , शिकायत दर्ज आदि भरनी होगी |
Step-5: सभी जानकारी भरने के बाद आपको SUBMIT के BUTTON पर CLICK करना होगा। इस तरह आपको शिकायत दर्ज हो जाएगी।

ग्रीवेंस स्टेटस चेक करने का PROCESS

Step-1: सबसे पहले आपको लेबर DEPARTMENT की OFFICIAL WEBSITE पर जाना होगा।
Step-2: फिर आपके सामने HOME PAGE खुल कर आएगा।
Step-3: अब HOME PAGE पर आपको ग्रीवेंस के TAB पर CLICK करना होगा।

 

ग्रीवेंस स्टेटस चेक करने का PROCESS


Step-4: इसके बाद आपके सामने एक नया PAGE खुलकर आएगा जिसमें आपको अपना ग्रीवेंस नंबर डालना होगा।
Step-5: अब आपको गो के BUTTON पर CLICK करना होगा।
Step-6: ग्रीवेंस स्टेटस आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर होगा।

FEEDBACK देने का PROCESS

Step-1: सर्वप्रथम आपको लेबर DEPARTMENT की OFFICIAL WEBSITE पर जाना होगा।
Step-2:  फिर आपके सामने HOME PAGE खुल कर आएगा।
Step-3: होम पेज पर आपको FEEDBACK के LINK पर CLICK करना होगा।

 

FEEDBACK देने का PROCESS


Step-4: अब आपके सामने FEEDBACK FORM खुलकर आएगा।
Step-5: आपको इस FEEDBACK FORM में पूछी गई सभी जानकारी जैसे कि Your Name, Email Id, Address, Mobile Number आदि डालना होगा।
Step-6: इसके बाद आपको SUBMIT के BUTTON पर CLICK करना होगा।
Step-7: इस प्रकार आप FEEDBACK दर्ज कर पाएंगे।

दर्पण डैशबोर्ड देखने का PROCESS

Step-1: सबसे पहले आपको Labour DEPARTMENT की OFFICIAL WEBSITE  पर जाना होगा।
Step-2: फिर आपके सामने HOME PAGE खुल कर आएगा।
Step-3: HOME PAGE  पर आपको दर्पण डैशबोर्ड के LINK पर CLICK करना होगा।

दर्पण डैशबोर्ड देखने का PROCESSV


Step-4: अब आपको Click Here to Darpan Dashboard के LINK पर CLICK करना होगा।

दर्पण डैशबोर्ड देखने का PROCESS


Step-5: जैसे ही आप इस LINK पर CLICK करेंगे आपके सामने डैशबोर्ड होगा।

Inspection Dashboard देखने का PROCESS

Step-1: आपको LABOUR DEPARTMENT की OFFICIAL WEBSITE पर जाना होगा।
Step-2: अब आपके सामने HOME PAGE खुल कर आएगा।
Step-3: होम पेज पर आपको Inspection Dashboard के LINK पर CLICK करना होगा।

Inspection Dashboard देखने का PROCESS
Step-4: इसके बाद आपको क्लिक Click Here to Inspection Dashboard के LINK पर CLICK करना होगा।
Step-5: जैसे ही आप इस LINK पर CLICK करेंगे आपके सामने INSPECTION Dashboard होगा।

Contact US

Step-1: सबसे पहले आपको यूपी लेबर की OFFICIAL WEBSITE पर जाना होगा। OFFICIAL WEBSITE पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल जायेगा।
Step-2: इस HOME PAGE  पर आपको CONTACT US का OPTION दिखाई देगा आपको इस OPTION पर CLICK करना होगा।

Official website 7 1


Step-3: OPTION पर CLICK करने के बाद आपके सामने अगले पेज पर CONTACT की पूरी Dateils खुल जाएगी।

Some Important Links

SACTIONCLICK HERE
RIGHT TO INFORMATIONCLICK HERE
GOVERMENT ODERCLICK HERE
CITIZEN CHARTERCLICK HERE
CIRCULARCLICK HERE
CENTALLY SPONSORED SCHEMES (BUDGET)CLICK HERE
TIMELINSS AND FEE FOR REGSTRATION AND RENEWALCLICK HERE
RAGISTRETION ,RENEWAL PROCEDURE DOCUMENTS CLICK HERE
INSPECTION PROCEDURE AND CHECK LIST CLICK HERE

यह सब कुछ आज आपने इस लेख के जरिये जाना है। उम्मीद है यह लेख आपके लिए लाभदायक रहा होगा। अगर आपको इस लेख में कुछ समझ नहीं आया हो तो आप कमेंट करके पूछ सकते है। हमारे इस लेख को अपने दोस्तों,रिश्तेदारों,इत्यादि तक शेयर करना न भूले।

मैं खुशबू देवतवाल आपका तहे दिल से शुक्रिया करती हूँ| कि आपने हमारे लेख को पूरा पढ़ा । और आपने अपना कीमती समय इसे पढ़ने में लगाया। एक बार फिर से दिल से धन्यावद !

Shramik Panjikaran योजना कहा की है?

Shramik Panjikaran योजना उत्तर प्रदेश की है।

Shramik Panjikaran योजना का उद्देश्य क्या है ?

श्रमिक योजना के तहत UP के सभी मजदूर वर्ग को Registered किया जाएगा। इन Registered मजदूरों को सरकार के द्वारा दी गयी योजनाओ का लाभ उठा सकते है।

श्रमिक पंजीकरण कौन-कौन करवा सकते है?

मेधावी छात्र पुरुस्कार योजना,शिशु हितलाभ योजना,निर्माण कामगार बालिका मदद योजना,निर्माण श्रमिक भोजन सहायता योजना,मातृत्व हितलाभ योजना,संतविदास शिक्षा सहायता योजना,कौशल विकास तकनीकी योजना,आवासीय विद्यालय योजना,सोर ऊर्जा सहायता योजना,चिकित्सा सुविधा योजना,कन्या विवाह योजना,आवास सहायता योजना,गंभीर बीमारी सहायता योजना,अक्षमता पेंशन योजना,पेंशन सहायता योजना,निर्माण कामगार मृत्यु एवं विकलांगता सहायता योजना,निर्माण कामगार अन्ते यष्टि योजना.इत्यादि।

उत्तर प्रदेश श्रम विभाग पंजीकरण कैसे करे ?

UP श्रमिक कार्ड सभी UP के मजदूर वर्ग के परिवारों के लिए बनवाया जा रहा है। यह कार्ड बनवाने के लिए श्रमिकों को OFFICIAL WEBSITE पर जाकर Online APPLY करना होगा। Online APPLY करने के बाद आपका श्रमिक कार्ड बनकर आ जाएगा। Online APPLY भी किया जा सकता है तथा जन सेवा केंद्र के माध्यम से भी किया जा सकता है। Online APPLY करने के लिए श्रमिकों को किसी भी सरकारी कार्यालय के चक्कर काटने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी।

किन-किन सरकारी योजनाओ का लाभ उठा सकते है मजदुर वर्ग के लोग ?

17 सरकारी योजनाओ का लाभ उठा सकते है EXAPLE-:मेधावी छात्र पुरुस्कार योजना,शिशु हितलाभ योजना,निर्माण कामगार बालिका मदद योजना,निर्माण श्रमिक भोजन सहायता योजना,मातृत्व हितलाभ योजना,संत रविदास शिक्षा सहायता योजना,कौशलविकास तकनीकी योजना,आवासीय विद्यालय योजना,सोर ऊर्जा सहायता योजना,विस्तार से जानने के लिए ऊपर दिए गए हमारे इस लेख को ध्यान से पढ़े।

श्रमिक पंजीकरण के अन्य लाभ क्या-क्या है?

मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना,बीमा कवर एवं आकस्मिक मृत्यु,PM गरीब कल्याण योजना,UP श्रम आयोग द्वारा की जाएगी मदद,बेटियों की शादी के लिए आर्थिक सहायता,श्रमिकों के लिए COVID किट इन योजनाओ के लाभ के बारे में अच्छे से जानने के लिए ऊपर दिए गए लेख में पढ़े।

शौचालय सहायता योजना के अंतर्गत कितनी धनराशि दी जाती है ?

शौचालय सहायता योजना के तहत 12000 रूपये की धनराशि प्रदान की जाती है।

श्रमिक पंजीकरण योजना के लाभ क्या-क्या है ?

कन्या विवाह योजना के अंतर्गत दो बेटियों की शादी पर 55-55 हज़ार रूपये की आर्थिक सहायता सरकार द्वारा दी जाएगी |
मेधावी छात्र योजना के तहत कक्षा 5 से 7 तक 4 हज़ार रूपये ,कक्षा 8 में 5 हज़ार रूपये ,कक्षा 9 व दस में 5 हज़ार रूपये ,कक्षा 11 व 12 में 8 हज़ार रूपये ,GREGUATION ,से ऊपर Engineering या Degree की पढाई करने पर 11 हज़ार रूपये से 22 हज़ार रूपये तक दिए जायेगे|
BA के STUDENTS को 13 से 15 हज़ार रूपये और MA के STUDENTS को 15 से 17 हज़ार रूपये |
मातृत्व हित लाभ योजना के तहत पंजीकरण महिलाओ को 12 हज़ार रूपये और शिशु लाभ हेतु लड़का होने पर 10 हज़ार रूपये और लड़की होने पर 12 हज़ार रूपये की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी |
आवास योजना के तहत मकान बनाने के लिए 1 लाख रूपये तथा भवन मरम्मत के लिए 15 हज़ार रूपये दिए जायेगे |
इन सभी योजनाओ का लाभ श्रमिक पंजीकरण करवा कर और श्रमिक कार्ड बनवाने के बाद मजदूर लोग उठा सकते है|

श्रमिक पंजीकरण के लिए महत्पूर्ण दस्तावेज ?

आधार कार्ड,राशन कार्ड,मतदाता पहचान पत्र,भामाशाह कार्ड,बैंक का विवरण,मोबाइल नंबर,पासपोर्ट साइज फोटो,परिवार के सभी सदस्यों का पहचान पत्र.इत्यादि।