Swami Vivekananda Etihasik Paryatan Yatra Yojana 2021। ₹12000 की वित्तीय सहायता राशि

Swami Vivekananda Etihasik Paryatan Yatra Yojana | Swami Vivekananda Etihasik Paryatan Yatra Yojana Apply | स्वामी विवेकानंद ऐतिहासिक पर्यटन यात्रा योजना ऑनलाइन आवेदन | Swami Vivekananda Etihasik Paryatan Yatra Yojana Application Form| Swami Vivekananda Etihasik Paryatan Yatra Yojana 2021।₹12000 की वित्तीय सहायता राशि | Swami Vivekananda Etihasik Paryatan Yatra Yojana Application Form PDF । स्वामी विवेकानंद ऐतिहासिक पर्यटन यात्रा योजना

Contents

Swami Vivekananda Etihasik Paryatan Yatra Yojana 2021

जैसा कि आप सभी जानते हैं कि हमारे देश में धार्मिक पर्यटन स्थलों को यात्रा को कितना शुभ माना जाता है ।इस बात को मध्य नजर रखते हुए हमारे देश की सरकार ने स्वामी विवेकानंद ऐतिहासिक पर्यटन  यात्रा योजना की शुरुआत की है। आज हम आपके साथ हमारे इस लेख के माध्यम से स्वामी विवेकानंद ऐतिहासिक पर्यटन यात्रा योजना से जुड़ी सभी आवश्यक जानकारी जैसे आवेदन प्रक्रिया मुख्य उद्देश्य पात्रता आवश्यक दस्तावेज आदि पर चर्चा पर चर्चा करेंगे। और साथ में यह भी बताएंगे कि स्वामी विवेकानंद ऐतिहासिक पर्यटन  यात्रा योजना क्या है।

Swami Vivekananda Etihasik Paryatan Yatra Yojana 2021 । स्वामी विवेकानंद ऐतिहासिक पर्यटन यात्रा योजना

स्वामी विवेकानंद ऐतिहासिक पर्यटन यात्रा योजना के अंतर्गत उत्तर प्रदेश राज्य सरकार की द्वारा राज्य के श्रमिकों को ऐतिहासिक पर्यटन स्थलों की यात्रा करने के लिए आर्थिक सहायता राशि प्रदान की जाएगी।स्वामी विवेकानंद ऐतिहासिक पर्यटन यात्रा योजना के अंतर्गत श्रमिकों को उत्तर प्रदेश राज्य सरकार के द्वारा ₹12000 की वित्तीय सहायता राशि पर्यटन स्थलों की यात्रा के लिए प्रदान की जाएगी। स्वामी विवेकानंद ऐतिहासिक पर्यटन यात्रा योजना के अंतर्गत उत्तर प्रदेश राज्य के 6.5  लाख श्रमिक जो 20500 फैक्ट्रियों में कार्य करते हैं उन सभी को लाभान्वित किया जाएगा। स्वामी विवेकानंद ऐतिहासिक पर्यटन योजना के तहत सभी श्रमिक धार्मिक स्थलों की यात्रा कर सकेंगे। इस योजना के अंतर्गत 1.5 करोड़ श्रमिकों को लाभान्वित किया जाएगा।

Swami Vivekananda Etihasik Paryatan Yatra Yojana 2021 Highlights

योजना का नाम स्वामी विवेकानंद ऐतिहासिक पर्यटन यात्रा योजना
किस ने लांच की उत्तर प्रदेश सरकार
लाभार्थी उत्तर प्रदेश के नागरिक
उद्देश्य श्रमिकों को धार्मिक यात्रा के लिए आर्थिक सहायता प्रदान करना।
आधिकारिक वेबसाइट यहां क्लिक करें
साल 2021
आर्थिक सहायता ₹12000

Swami Vivekananda Etihasik Paryatan Yatra Yojana 2021 Aim

स्वामी विवेकानंद ऐतिहासिक पर्यटन यात्रा योजना का मुख्य उद्देश्य सभी श्रमिकों को धार्मिक स्थलों की यात्रा का अवसर उपलब्ध करवाना है स्वामी विवेकानंद ऐतिहासिक पर्यटन यात्रा योजना के अंतर्गत उत्तर प्रदेश राज्य सरकार के द्वारा श्रमिकों को धार्मिक स्थलों की यात्रा करने के लिए ₹12000 की वित्तीय सहायता राशि मुहैया की जाएगी जिससे वह धार्मिक स्थलों की यात्रा आसानी से कर पाएंगे । अब किसी भी व्यक्ति को आर्थिक तंगी के कारण धार्मिक यात्रा से वंचित नहीं रहेगा।

Swami Vivekananda Etihasik Paryatan Yatra Yojana 2021 Religious sites 

अयोध्या
मथुरा
प्रयागराज
वाराणसी
हस्तिनापुर (मेरठ)
गोरखपुर का गोरखनाथ मंदिर
शाकुंभरी देवी तथा वैष्णो देवी मंदिर

यह भी देखे–>> UP Rojagar Mission

Swami Vivekananda Etihasik Paryatan Yatra Yojana 2021 Key Features

स्वामी विवेकानंद ऐतिहासिक पर्यटन यात्रा योजना के तहत उत्तर प्रदेश राज्य सरकार के द्वारा सभी श्रमिकों को धार्मिक स्थलों की यात्रा करने के लिए वित्तीय सहायता राशि प्रदान की जाएगी।

इस योजना के अंतर्गत उत्तर प्रदेश राज्य के 20500 फैक्ट्रियों में कार्य करने वाले श्रमिकों को लाभान्वित किया जाएगा।

इस योजना के अंतर्गत उत्तर प्रदेश राज्य सरकार के द्वारा 1.5 करोड़ श्रमिकों को लाभान्वित किया जाएगा।

उत्तर प्रदेश राज्य सरकार के द्वारा स्वामी विवेकानंद ऐतिहासिक पर्यटन यात्रा योजना के अंतर्गत ₹12000 की वित्तीय सहायता राशि धार्मिक स्थलों की यात्रा करने के लिए प्रदान की जाएगी।

स्वामी विवेकानंद ऐतिहासिक पर्यटन यात्रा योजना के अंतर्गत उत्तर प्रदेश राज्य सरकार के द्वारा आवेदन प्रक्रिया 24 जनवरी 2021 से शुरू की जाएगी।

Swami Vivekananda Etihasik Paryatan Yatra Yojana 2021 Eligibility Criteria

इस योजना के अंतर्गत आवेदन करने वाला व्यक्ति उत्तर प्रदेश राज्य का स्थाई निवासी होना चाहिए

स्वामी विवेकानंद ऐतिहासिक पर्यटन यात्रा योजना के अंतर्गत आवेदन करने वाला व्यक्ति पंजीकृत श्रमिक होना चाहिए।

इस योजना के अंतर्गत आवेदन करने वाले व्यक्ति  का लेबर वेलफेयर बोर्ड के अंतर्गत पंजीकृत होना अनिवार्य है।

इस योजना के अंतर्गत आवेदन करने वाले व्यक्ति फैक्ट्री वर्कर होना अनिवार्य है।

Swami Vivekananda Etihasik Paryatan Yatra Yojana 2021 Required Documents

आधार कार्ड
राशन कार्ड
श्रमिक आईडी कार्ड
निवास प्रमाण पत्र
पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
मोबाइल नंबर

Swami Vivekananda Etihasik Paryatan Yatra Yojana 2021 Registration Procedure

सर्वप्रथम आवेदक को स्वामी विवेकानंद ऐतिहासिक पर्यटन योजना के अंतर्गत आवेदन करने हेतु इस लिंक पर क्लिक करना होगा।

अब आवेदक के सामने स्वामी विवेकानंद ऐतिहासिक पर्यटन यात्रा योजना का आवेदन पत्र पीडीएफ खुल जाएगा आवेदक को इस पीडीएफ को डाउनलोड करके प्रिंट आउट निकालना होगा।

आवेदक को आवेदन पत्र में पूछी गई सभी आवश्यक जानकारी ध्यानपूर्वक दर्ज करनी होगी। 

सभी आवश्यक जानकारी दर्ज करने के पश्चात आवेदक को सभी आवश्यक दस्तावेजों को संगलन करके आवेदन पत्र को श्रम विभाग कार्यालय में जाकर जमा करवाना होगा।

इस प्रकार आप की आवेदन प्रक्रिया समाप्त होती है।

स्वामी विवेकानंद ऐतिहासिक पर्यटन यात्रा योजना की शुरुआत किस राज्य में की गई है?

स्वामी विवेकानंद ऐतिहासिक पर्यटन यात्रा योजना की शुरुआत उत्तर प्रदेश राज्य में की गई है।

उत्तर प्रदेश राज्य सरकार के द्वारा श्रमिकों को धार्मिक स्थलों की यात्रा करने के लिए कितनी आर्थिक सहायता राशि प्रदान की जाएगी?

उत्तर प्रदेश राज्य सरकार के द्वारा स्वामी विवेकानंद ऐतिहासिक पर्यटन यात्रा योजना के अंतर्गत श्रमिकों को ₹12000 की वित्तीय सहायता राशि धार्मिक स्थलों की यात्रा करने के लिए प्रदान की जाएगी।

स्वामी विवेकानंद ऐतिहासिक पर्यटन यात्रा योजना के अंतर्गत आवेदन प्रक्रिया कब से शुरू की जाएगी?

स्वामी विवेकानंद ऐतिहासिक पर्यटन यात्रा योजना के अंतर्गत आवेदन प्रक्रिया 24 जनवरी 2021 से शुरु की जाएगी।