Pradhan Mantri Garib Kalyan Anna Yojana: केंद्र सरकार नवंबर तक देगी मुफ्त राशन, अगर डीलर ना करे, तो यहां करें शिकायत

Pradhan Mantri Garib Kalyan anna Yojana | Pradhan Mantri Garib Kalyan Yojana | PM garib kalyan yojana|प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना|प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न स्कीम | pm garib kalyan anna yojana online application

Pradhan Mantri Garib Kalyan anna Yojana
Pradhan Mantri Garib Kalyan Anna Yojana: केंद्र सरकार नवंबर तक देगी मुफ्त राशन, अगर डीलर ना करे, तो यहां करें शिकायत 4

नमस्कार प्यारे दोस्तों आज हम आपको प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना की विस्तार पूर्वक जानकारी देने जा रहे हैं। हम आपको बताएंगे कि भारत के प्रधानमंत्री ने गरीब कल्याण योजना 2021 में क्या क्या ऐलान किया है। अगर आप भी इस योजना का लाभ लेना चाहते हैं तो इस आर्टिकल को पूरा पढ़ें। हम आपको बताएंगे कि किस प्रकार इस पीएम गरीब कल्याण अन्य योजना का लाभ ले सकते हैं।

Latest updates

Latest Updates:- सरकार ने जुलाई 2021 से नवंबर, 2021 तक प्रधान मंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के विस्तार को मंजूरी दे दी है। लगभग 80 करोड़ एनएफएसए लाभार्थियों को अब हर 8 महीने के लिए अतिरिक्त 5 किलो खाद्यान्न मुफ्त में आवंटित किया जायेगा।

अगर कोई राशन डीलर आपको राशन देने के इंकार करें तो यहां कर सकते हैं शिकायत

  • मध्यप्रदेश- 181
  • बिहार- 1800-3456-194
  • छ्त्तीसगढ़- 1800-233-3663
  • गोवा- 1800-233-0022
  • गुजरात- 1800-233-5500
  • हरियाणा – 1800–180–2087
  • हिमाचल प्रदेश – 1800–180–8026
  • झारखंड – 1800-345-6598, 1800-212-5512
  • कर्नाटक- 1800-425-9339
  • केरल- 1800-425-1550
  • महाराष्ट्र- 1800-22-4950
  • मणिपुर- 1800-345-3821
  • मेघालय- 1800-345-3670
  • मिजोरम- 1860-222-222-789, 1800-345-3891
  • नागालैंड- 1800-345-3704, 1800-345-3705
  • ओड़िशा – 1800-345-6724 / 6760
  • पंजाब – 1800-3006-1313
  • राजस्थान – 1800-180-6127
  • कश्मीर – 1800–180–7011
  • अण्डमान और निकोबार द्वीपसमूह – 1800-343-3197
  • चण्डीगढ़ – 1800–180–2068
  • दादरा और नगर हवेली और दमन और दीव – 1800-233-4004
  • लक्षद्वीप – 1800-425-3186
  • सिक्किम – 1800-345-3236
  • तमिलनाडू – 1800-425-5901
  • तेलंगाना – 1800-4250-0333
  • त्रिपुरा- 1800-345-3665
  • उत्तरप्रदेश- 1800-180-0150
  • उत्तराखंड – 1800-180-2000, 1800-180-4188
  • पुदुच्चेरी – 1800-425-1082
  • आंध्रप्रदेश – 1800-425-2977
  • अरुणाचल प्रदेश – 03602244290
  • असम – 1800-345-3611
  • पश्चिम बंगाल – 1800-345-5505
  • दिल्ली – 1800-110-841
  • जम्मू – 1800-180-7106

Pradhan Mantri Garib Kalyan anna Yojana

योजना का नामप्रधानमंत्री वन धन योजना (Pradhan Mantri Garib Kalyan anna Yojana)
इनके द्वारा शुरू की गयीप्रधानमंत्री जी के द्वारा (One Nation One Ration Card)
लॉन्च की तारीक2 मई 2020 को
लाभार्थीआदिवासी
उद्देश्यरोजगार प्रदान करना

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना | Pradhan Mantri Garib Kalyan anna Yojana

राष्ट्र को संबोधित करते वक्त प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि त्योहारों का यह समय जरूरतें भी बनाता है, खर्चे भी बढ़ाता है, और इन सभी बातों को ध्यान में रखते हुए मैंने यह फैसला लिया है कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना का विस्तार नवंबर महीने के आखिर तक कर दिया गया है। इस योजना के अंतर्गत 80 करोड़ से 85 करोड़ लोगों को 5 किलो गेहूं या चावल मुफ्त में देने का एलान किया गया है। सरकार उनको नवंबर तक 5 किलो गेहू अन्यथा चावल और हर परिवार को 1 किलो चना देगी। 

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्य स्कीम के लाभ कुछ इस प्रकार हैं

इस योजना के अंतर्गत 80 करोड़ लोगों को नवंबर महीने तक 5 किलो गेहूं या चावल मुफ्त में दिया जाएगा।

भारत सरकार नवंबर तक 5 किलो गेहूं या चावल हर परिवार को राशन देने वाली है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि आज गरीब को जरूरतमंद को राशन की सख्त जरूरत है इसी के लिए सरकार ने यह कदम उठाया है।

राशन कार्ड धारक नवंबर तक 5 किलो गेहूं या चावल प्रति व्यक्ति के हिसाब से फ्री ले सकेगा साथ ही प्रति परिवार 1 किलो चना भी मुफ्त दिया जाएगा।

राशन कार्ड धारक पहले से मिल रहे मौजूदा कोटे का प्रति व्यक्ति 5 किलो गेहूं या चावल पैसे देकर राशन की दुकान से ले सकेंगे।

नवम्बर के अंत तक प्रति व्यक्ति कुल 10 किलो अनाज लाभार्थी राशन की दुकानों से ले पाएंगे।

AP Yuva Nestam scheme 2021 || Mukhyamantri Kanya Utthan Yojana 2021

पीएम धन योजना में पंजीकरण कैसे करें

देश के जो गरीब लोग इस योजना के अंतर्गत सब्सिडी पर राशन सरकार से लेना चाहते हैं तो उन्हें नीचे दिए गए दिशा-निर्देशों को पढ़ना होगा और उस हिसाब से कार्य करना होगा प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत लाभ प्राप्त करने के लिए। इस योजना कलभ लेने के लिए कोई पंजीकरण की आवश्यकता नहीं है। देश के जो इच्छुक लाभार्थी इस योजना के अंतर्गत ₹2 प्रति किलो की दर से गेहूं और ₹3 प्रति किलो की दर से चावल प्राप्त करना चाहते हैं तो वह राशन की दुकान पर जाकर अपने राशन कार्ड के जरिए यह राशन प्राप्त कर सकते हैं। सब्सिडी पर राशन लेकर देश के गरीब लोग अपना जीवन यापन आसानी से कर सकेंगे ऐसा प्रधानमंत्री मोदी ने कहा है।

तो दोस्तों कैसी लगी है जानकारी हमें जरूर बताएं और इस जानकारी को अधिक से अधिक लोगों तक पहुंचाएं ताकि सभी इस योजना का लाभ ले सके।

क्या है प्रधान मंत्री गरीब अन्न योजना ?

राष्ट्र को संबोधित करते वक्त प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि त्योहारों का यह समय जरूरतें भी बनाता है, खर्चे भी बढ़ाता है, और इन सभी बातों को ध्यान में रखते हुए मैंने यह फैसला लिया है कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना का विस्तार अब नवंबर महीने के आखिर तक कर दिया जाए। प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना को नवंबर तक बढ़ाने का यह ऐलान प्रधानमंत्री ने स्वयं किया है राष्ट्र को संबोधित करते वक्त। इस योजना के अंतर्गत 80 करोड़ से 85 करोड़ लोगों को 5 किलो गेहूं या चावल मुफ्त में दे ने का एलान किया गया है।

प्रधान मंत्री गरीब अन्न योजना को कब तक बढ़ाया गया है ?

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना का विस्तार नवंबर के आखिरी तक के लिए किया जा रहा है। राष्ट्र के नाम अपने संबोधन में प्रधानमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के इस विस्तार में 80 से 85 हजार करोड़ रुपए से ज्यादा खर्च होंगे।

प्रधान मंत्री गरीब अन्न योजना के लाभ क्या क्या है?

इस योजना के अंतर्गत 80 करोड़ से 85 करोड़ लोगों को 5 किलो गेहूं या चावल मुफ्त में दे ने का एलान किया गया है। सरकार उनको नवंबर तक 5 किलो गेहू अन्यथा चावल और हर परिवार को 1 किलो चना नवंबर तक देगी।

प्रधान मंत्री गरीब अन्न योजना के क्या क्या मुफ्त मिलेगा?

5 किलो गेहूं या चावल और किलो चना भी मुफ्त में दे ने का एलान किया गया है नवंबर महीने तक।