Poultry Farming Business – मुर्गी पालन का व्यापार बिजनेस कैसे शुरू करें

Poultry Farming Business: नमस्ते ! मित्रो आज हम बात करेंगे मुर्गी पालन व्यापार की जैसा की में आपको बता देती हूँ। की भारत देश में दूध और अंडा इस समय सभी व्यक्ति लेते है। इसके लिए किसी स्थित इलाके पर पोल्टी फॉर्म और डेयरी फॉर्म की स्थापना की जाती है। पोल्टी फॉर्म और डेयरी फॉर्म को शुरू किसी मुख्य उद्देश्य से किया जाता है। इनका उद्देश्य होता है पशुपालन और व्यापार (BUSINESS) ये BUSINESS बहुत ही लाभदायक और सुखद होता है। जिसके लिए सरकार बहुत मदद करती है कम ब्याज दर पर ऋण भी देती है मुर्गी पालन व्यापार के बारे में अच्छे से जानने के लिए हमारे इस लेख को अंत तक पढ़े।

Poultry Farming Business

 

 

Poultry Farming Business का काम की स्थापना के लिए सही जगह की आवश्यकता

अब हम बात करेंगे मुर्गी पालने के लिए जगह की जरूरत है ? तो दोस्तों मुर्गी पालने के लिए जगह की आवश्यकता पड़ती है। ये तो आप जानते ही है। पोल्टी फॉर्म और डेयरी फॉर्म खोलने के लिए बहुत बड़ी जगह की आवश्यका पड़ती है इसके बारे में आगे विस्तार से जानें।

  • दोस्तों पोल्टी फॉर्म और डेयरी फॉर्म के लिए आप जगह चुनना चाहते है तो मैं आपको बताना चाहूंगी। की आप इसके लिए दूर की जगह चुने। अपने गाँव /शहर से दूर ताकि जानवरों को ध्वनि प्रदूषण (sound Pollution) से कोई परेशानी न हो
  • आप जंहा भी पोल्टी फॉर्म और डेयरी फॉर्म शुरू करना चाहते है। आपको ध्यान रहे की वंहा पानी की किसी भी प्रकार से कमी ना आये अगर आप घर के आस-पास पोल्टी फॉर्म और डेयरी फॉर्म खोलना चाहते है तो आपको पानी से जुडी किसी भी प्रकार की परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा।
  • आप जगह का चयन करने से पहले वहाँ Transportation की व्यवस्था का जायजा जरूर ले लें।

मुर्गी पालन का काम के लिए ऋण (Loan)

अब हम बात करेंगे मुर्गी पालन का काम के लिए ऋण की तो दोस्तों POLITY FORM  के लिए आपको सरकार आंशिक रूप से ऋण देती है। आप जरा सोचिये। आप POLITY FORM की स्थापना करना चाहते है। इसका बजट 1 लाख से ऊपर का बनाया है। तो इस पर सरकार आपको राजसहायता प्रदान करती है। जनरल जाति के लोगो को 25% (25000) की राजसहायता दी जायेगी। और अगर आप में से कोई ST /SC जाति के हो तो आपको 35% (35000) की राजसहायता मिलेगी। 

मुर्गी पालन का काम के लिए लोन के लिए कैसे APPLY करें

हम बात करेंगे मुर्गी पालन के लिए लोन की। आपको इस व्यापार को शुरू करने में कोई मदद करे या न करे लेकिन सरकार जरूर आपकी मदद करेगी | सरकार ने बहुत सारी योजना लागू की है इस BUSINESS को शुरू करने के लिए। क्योकि सरकार भी इस BUSINESS को बढ़ावा दे रही है। जिन लगो तक इन योजनाओ की जानकारी नहीं पहुंच पाती है वह इन योजनाओ का लाभ नहीं उठा पाते है। Subsidy का मतलब होता है। राजसहायता यानि आपको POLITY FORM  शुरू करना है ।

और आपको पैसों की जरूरत है तो आपको Subsidy (राजसहायता) मिल जाती है। आपको अपने घर का एक रुपया भी खर्च करने की जरूरत नहीं पड़ती है। इस व्यपार के लिए बैंको से बड़ी जल्दी से लोन मिल जाता है। भारत के विभिन बैंको में भारत सरकार ने आदेश दे रखे है की। वे फार्मिंग के लिए लोन दे। साथ ही सरकार फार्मिंग ऋण का रिस्क भी उठाती है।

मुर्गी पालन का काम के लिए ब्याज दर

मैं आपको बताना चाहूंगी | की आपने पोल्टी फॉर्म खोलने के लिए जो ऋण लिया है उसको चुकाते समय आपको कोई ब्याज देने की आवश्यकता नहीं है। बस जितना पैसा लिया है उतना ही लौटाना है वापस आपको।

Check this Also: Get a loan for a small business

मुर्गी पालन का काम के व्यवसाय को कैसे स्थापित करें

आगे हम बात करेंगे। मुर्गी पालन व्यापार को स्थापित करने की जैसे की हमे पता है की इस व्यापार में सरकार का पूरा सहयोग होता है अतः इस व्यापार को बहुत ही व्यवस्थित तरीके से स्थापित करना जरूरी होता है में आपको आगे विस्तार से बताना चाहूंगी।

स्थान का चयन:सर्वप्रथम स्थान को चुने। इस जगह पर पशुओ के रहने के लिए आवश्यक व्यवस्था पूरी होनी चाहिए खास तोर पर साफ सफाई का ध्यान रखे। साफ़ सफाई की व्यवस्था करे।
पंजीकरण:- अब आपको पंजीकरण करवाने की जरूरत पड़ेगी आप अपने POLITY FORM  को MSMI के द्वारा एक COMPANY के माध्यम से पंजीकृत करे। उद्योग पंजीकरण करवाने के लिए आवश्यक बातो का ध्यान रखे।

Step:-1 उद्योग आधार में ONLINE बहुत सरलता से पंजीकरण कर सकते है ONLINE पंजीकरण के लिए WEBSITE पर जाना है

Step:-2 अब WEBSITE पर जाने के बाद आपको वहाँ पर उद्यमी को आधार नंबर और उसका नाम डालना होता है। उसके बाद ‘Validate आधार’ वाले विकल्प पर Click करें.

poultry farming business

Step:-3 इस पर Click करते ही आपका आधार Validate हो जाता है और आगे का Process करना होता है।

Step:-4 अब आधार Validate हो जाने के बाद कंपनी का नाम, कम्पनी का प्रक्रार, व्यवसाय का पता, राज्य, जिला, पिन संख्या, मोबाइल संख्या, व्यवसाय की ईमल, व्यवसाय शुरू होने की तारीख, पूर्व पंजीकरण डिटेल, बैंक डिटेल, एनआईसी कोड, कम्पनी में काम करने वाले लोगों की संख्या, इन्वेस्टमेंट की राशि आदि दर्ज करने के बाद Captchaडालें.

Step:-5 फिर बाद SUBMIT Button पर Click करें.

Step:-6 अब MSMI की तरफ से Certificate Generate हो जाता है, इसके बाद आपके E-MAIL में भी Certificate आ जाता है. आप इस ईमेल से इसका प्रिंट करा कर अपने OFFICE में लगा सकते है।

इस तरह से आपकी कंपनी पंजीकृत हो जाती है और इसकी सहायता से आप ऋण भी ले सकते हैं या अन्य औपचारिक कार्यों में भी इसका प्रयोग कर सकते है।

हिसाब: अब आप खाली कागज पर POLTIY FORM  OR  DAIRY FORM  बनाने में जितना भी खर्चा हुआ है। (मसलन छत बनाने का, स्टैंड बनाने का, नेट आदि) उसका पूरा हिसाब कागज पर लिख दे। और अपना पता प्रमाण पत्र, अपनी पहचान पत्र आदि के साथ अपने आस-पास के बैंक में चले जाए।

सर्विस बैंक ऋण: सर्विस बैंक लोन लेने के बाद का PROCESS इस PROCESS के अंदर जिसको ऋण मिल रहा है उसे विभिन्न प्रकार के कागजो पर SINGHNETUR करने होंगे।

सब्सिड़ी रिलीज:  इसमें सबसे बढ़िया बात ये है की जिस बैंक से आप लोग ऋण ले रहे है ,वही बैंक नाबार्ड के माध्यम से Subsidy मेंशन करती है Subsidy आपके बैंक ACCOUNT में खुद ही आ जाती है।

इस तरह आपका मुर्गी पालन का काम स्थापित हो जाता है.

मुर्गी पालन के व्यापार के लाभ

  • वर्तमान समय में भारत देश में पोल्टी फॉर्म और डेयरी फॉर्म व्यवस्थित तरीके से नहीं हो रही है। सरकार इस व्यापार को बढ़ावा देने के लिए विभिन्न प्रकार की योजनाए निकाल रही है। 0% व्याज दर पर ऋण दे रही है।
  • यदि आप किसान है तो आपको जानवरो के खाने की चिंता करने की कोई जरूरत नहीं पड़ेगी
  • पोल्टी फॉर्म से बेरोगजगारी जायेगी और लोगो को रोजगार मिलेगा। पोल्टी फॉर्म में बहुत तरिके के काम होता है आप आराम से काम कर सकते है।
  • भारत देश में लगभग सभी प्रकार के डेयरी और पोल्टी फॉर्म से होने वाली वस्तुओ की जरूरत अधिक मात्रा में होती है। इससे भर लाभ उठा सकते है।
  • ये एक ऐसा व्यापार है, जिसे यदि अच्छे से चलाया जाए तो एक समय में सरकारी ऋण चूका कर एक अच्छे खासे पोल्ट्री फॉर्म का मालिक बना जा सकता है और अपने Business को बड़े ही शानदार तरीके से आगे बढ़ाया जा सकता है।

ये एक ऐसा व्यापार है, जिसे यदि अच्छे से चलाया जाए तो एक समय में सरकारी ऋण चूका कर एक अच्छे खासे पोल्ट्री फॉर्म का मालिक बना जा सकता है और अपने Business को बड़े ही शानदार तरीके से आगे बढ़ाया जा सकता है।

यह सब कुछ आज आपने इस लेख के जरिये जाना है। उम्मीद है यह लेख आपके लिए लाभदायक रहा होगा। अगर आपको इस लेख में कुछ समझ नहीं आया हो तो आप कमेंट करके पूछ सकते है। हमारे इस लेख को अपने दोस्तों,रिश्तेदारों,इत्यादि तक शेयर करना न भूले। मैं खुशबू देवतवाल आपका तहे दिल से शुक्रिया करती हूँ| कि आपने हमारे लेख को पूरा पढ़ा । और आपने अपना कीमती समय इसे पढ़ने में लगाया। एक बार फिर से दिल से धन्यावद !

मुर्गी पालन का बिज़नेस को शुरू करे ?

हम बात करेंगे मुर्गी पालन व्यापार की जैसा की में आपको बता देती हूँ। की भारत देश में दूध और अंडा इस समय सभी व्यक्ति लेते है। इसके लिए किसी स्थित इलाके पर पोल्टी फॉर्म और डेयरी फॉर्म की स्थापना की जाती है। पोल्टी फॉर्म और डेयरी फॉर्म को शुरू किसी मुख्य उद्देश्य से किया जाता है। इनका उद्देश्य होता है पशुपालन और व्यापार (BUSINESS) ये BUSINESS बहुत ही लाभदायक और सुखद होता है। आप इस व्यापार से बहुत आगे जा सकते है।

मुर्गी पालन के लिए किस तरह की जगह की आवश्यकता पड़ेगी?

1- दोस्तों पोल्टी फॉर्म और डेयरी फॉर्म के लिए आप जगह चुनना चाहते है तो मैं आपको बताना चाहूंगी। की आप इसके लिए दूर की जगह चुने। अपने गाँव /शहर से दूर ताकि जानवरों को ध्वनि प्रदूषण (sound Pollution) से कोई परेशानी न हो
2-आप जंहा भी पोल्टी फॉर्म और डेयरी फॉर्म शुरू करना चाहते है। आपको ध्यान रहे की वंहा पानी की किसी भी प्रकार से कमी ना आये अगर आप घर के आस-पास पोल्टी फॉर्म और डेयरी फॉर्म खोलना चाहते है तो आपको पानी से जुडी किसी भी प्रकार की परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा।
3- आप जगह का चयन करने से पहले वहाँ Transportation की व्यवस्था का जायजा जरूर ले लें।

मुर्गी पालन के व्यापार के लिए ऋण कैसे मिलेगा?

अब हम बात करेंगे मुर्गी पालन का काम के लिए ऋण की तो दोस्तों POLITY FORM  के लिए आपको सरकार आंशिक रूप से ऋण देती है। आप जरा सोचिये। आप POLITY FORM की स्थापना करना चाहते है। इसका बजट 1 लाख से ऊपर का बनाया है। तो इस पर सरकार आपको राजसहायता प्रदान करती है। जनरल जाति के लोगो को 25% (25000) की राजसहायता दी जायेगी। और अगर आप में से कोई ST /SC जाति के हो तो आपको 35% (35000) की राजसहायता मिलेगी। 

मुर्गी पालन व्यापार के लिए हमने जो ऋण लिया है उसका ब्याज कितना % लगेगा ?

मैं आपको बताना चाहूंगी | की आपने POLITY FROM खोलने के लिए जो ऋण लिया है उसको चुकाते समय आपको कोई ब्याज देने की आवश्यकता नहीं है। बस जितना पैसा लिया है उतना ही लौटाना है वापस आपको।आपका 0% ब्याज लगेगा।

मुर्गी पालन का काम के व्यवसाय को कैसे स्थापित करें?

स्थान का चयन:-सर्वप्रथम स्थान को चुने। इस जगह पर पशुओ के रहने के लिए आवश्यक व्यवस्था पूरी होनी चाहिए खास तोर पर साफ सफाई का ध्यान रखे। साफ़ सफाई की व्यवस्था करे।
पंजीकरण:-अब आपको पंजीकरण करवाने की जरूरत पड़ेगी आप अपने POLITY FORM  को MSMI के द्वारा एक COMPANY के माध्यम से पंजीकृत करे। उद्योग पंजीकरण करवाने के लिए आवश्यक बातो का ध्यान रखे।विस्तार से जानने के लिए आप हमारे ऊपर दिए गए लेख को फिर से पढ़े।

मुर्गी पालन के व्यापार के क्या-क्या लाभ है ?

वर्तमान समय में भारत देश में पोल्टी फॉर्म और डेयरी फॉर्म व्यवस्थित तरीके से नहीं हो रही है। सरकार इस व्यापार को बढ़ावा देने के लिए विभिन्न प्रकार की योजनाए निकाल रही है। 0% व्याज दर पर ऋण दे रही है।
यदि आप किसान है तो आपको जानवरो के खाने की चिंता करने की कोई जरूरत नहीं पड़ेगी
पोल्टी फॉर्म से बेरोगजगारी जायेगी और लोगो को रोजगार मिलेगा। पोल्टी फॉर्म में बहुत तरिके के काम होता है आप आराम से काम कर सकते है।
भारत देश में लगभग सभी प्रकार के डेयरी और पोल्टी फॉर्म से होने वाली वस्तुओ की जरूरत अधिक मात्रा में होती है। इससे भर लाभ उठा सकते है।
ये एक ऐसा व्यापार है, जिसे यदि अच्छे से चलाया जाए तो एक समय में सरकारी ऋण चूका कर एक अच्छे खासे पोल्ट्री फॉर्म का मालिक बना जा सकता है और अपने Business को बड़े ही शानदार तरीके से आगे बढ़ाया जा सकता है।

Step:-1