PLI Yojana 2021[ उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना ]

PLI Yojana 2021। पीएलआई योजना । Utpadan aadharit protsahan Yojana।Production Based Incentive Scheme 2021 । उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना आवेदन प्रक्रिया। उत्पादन आधारित प्रशासन योजना अप्लाई ऑनलाइन।PLI Yojana 2021 Apply Online। उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना

PLI Yojana 2021

जैसा कि आप सभी जानते कि हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने आत्मनिर्भर बनाने के लिए कई योजनाओं की शुरुआत की है।उत्पादन के क्षेत्र में हमारे देश को आत्मनिर्भर बनाने के लिए उन्होंने पहले मेक इन इंडिया नाम के अभियान को शुरू किया था। हमारे देश की केंद्र सरकार देश में उत्पादन क्षमता को बढ़ाने के लिए भरपूर प्रयास कर रही है। इसी प्रकार हमारी देश की केंद्र सरकार ने उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना की शुरुआत की है।

PLI Yojana 2021। पीएलआई योजना

उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना की शुरुआत हमारे देश के  प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा 11 नवंबर 2020 को की गई है। उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना के अंतर्गत घरेलू विनिर्माण उत्पादन को प्रोत्साहित किया जाएगा। उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना के अंतर्गत केंद्र सरकार के द्वारा आने वाले 5 वर्षों में दो लाख करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे। Utpadan aadharit protsahan Yojana के अंतर्गत खर्च की जाने वाली राशि को 10 प्रमुख क्षेत्रों में इन्वेस्ट किया जाएगा। उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना की शुरुआत करने से हमारे देश में आयात की कमी होगी और निर्यात को बढ़ावा दिया जाएगा।

उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना के तहत नए रोजगार के अवसर भी उपलब्ध होंगे।हमारी देश की केंद्र सरकार का कहना है कि इस योजना में 145980 करोड रुपए खर्च किए जाएंगे। उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना  के माध्यम से आत्मनिर्भर भारत को भी बढ़ावा दिया जाएगा। Utpadan aadharit protsahan Yojana के अंतर्गत सरकार के द्वारा कॉपरेटिव टैक्स में 25 फ़ीसदी कटौती की जाएगी।

हमारी देश की केंद्र सरकार उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना की शुरुआत करने के पीछे का मुख्य उद्देश्य भारत को वैकल्पिक वैश्विक मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर का प्रमुख केंद्र बनाना है। इस योजना के अंतर्गत आने वाले समय में विभिन्न  उत्पादन क्षेत्रों में कार्य करने हेतु सरकार द्वारा बजट आवंटित किया जाएगा। उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना के अंतर्गत आने वाले समय में आठ निर्माण क्षेत्रों को ओर सम्मिलित किया जाएगा। 

Manufacturing Fields Budget covered under PLI Yojana 2021

क्षेत्र बजट
एडवांस केमिस्ट्री सेल बैटरी 18,100 करोड़ रुपये
इलेक्ट्रॉनिक एंड टेक्नोलॉजी प्रोडक्ट 5000 करोड़ रुपये
ऑटोमोबाइल और ऑटो कॉम्पोनेंट्स 57,042 करोड़ रुपये
फार्मास्यूटिकल ड्रग्स 15000 करोड़ रुपये
टेलीकॉम एंड नेटवर्किंग प्रोडक्ट 12,195 करोड़ रुपये
टेक्सटाइल उत्पाद 10,683 करोड़ रुपये
फूड प्रोडक्ट्स 10,900 करोड़ रुपये
सोलर पीवी माड्यूल 4500 करोड़ रुपये
व्हाइट गुड्स 6,238 करोड़ रुपये
स्पेशलिटी स्टील 6,322 करोड़ रुपये

Manufacturing Fields covered under PLI Yojana 2021

➡️ एडवांस केमिकल सेल बैटरी

➡️ इलेक्ट्रॉनिक एंड टेक्नोलॉजी प्रोडक्ट्स

➡️ ऑटोमोबाइल और ऑटो कॉम्पोनेंट्स

➡️ फार्मास्यूटिकल ड्रग्स

➡️ टेलीकॉम एंड नेटवर्किंग प्रोडक्ट

➡️ टेक्सटाइल उत्पादन

➡️ फूड प्रोडक्ट्स

➡️ सोलर पीवी माड्यूल

➡️ व्हाइट गुड्स

➡️ स्पेशलिटी स्टील

PLI Yojana 2021 Objective

उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना का मुख्य उद्देश्य हमारे देश को पूरे एशिया में प्रमुख वैकल्पिक वैश्विक मैन्युफैक्चरिंग केंद्र बनाना है। उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना के अंतर्गत घरेलू विनिर्माण को भी बढ़ावा दिया जाएगा।इससे हमारा देश आत्मनिर्भर तथा सशक्त बनेगा। और हमारे देश में आयात कम होगा तथा निर्यात बढ़ेगा। और इससे हमारे देश की इकोनॉमी भी बढ़ेगी।

PLI Yojana 2021 Key Features

➡️ उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना की शुरुआत हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा 11 नवंबर 2020 को की गई है।

➡️ उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना के तहत केंद्र सरकार के द्वारा आगामी 5 वर्षों के लिए दो लाख करोड़ रुपए का बजट आवंटित किया गया है।

➡️ इस योजना के अंतर्गत उत्पादन के 10 प्रमुख क्षेत्रों विभिन्न कार्य किए जाएंगे।

➡️ उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना के अंतर्गत कॉर्पोरेट टैक्स में केंद्र सरकार के द्वारा 25 फ़ीसदी कटौती की जाएगी।

➡️ उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना के जरिए हमारे देश में आयात कम होगा और निर्यात को बढ़ावा दिया जाएगा।

➡️ उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना का मुख्य उद्देश्य भारत को पूरे विश्व का प्रमुख वैकल्पिक वैश्विक मैन्युफैक्चरिंग केंद्र बनाना है।

➡️ उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना के तहत 16 फ़ीसदी योगदान जीडीपी के द्वारा किया जाएगा।

PLI Yojana 2021 Required Documents

➡️ आधार कार्ड

➡️ आय प्रमाण पत्र

➡️ पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ

➡️ मोबाइल नंबर

➡️ मैन्युफैक्चरिंग प्रमाण पत्र

PLI Yojana 2021 Application Procedure

जैसा कि आप सभी जानते हैं कि उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना की शुरुआत हमारे देश के प्रधानमंत्री जी के द्वारा 11 नवंबर 2020 को की गई है ।इस योजना के अंतर्गत हाल ही में कोई भी आवेदन प्रक्रिया शुरू नहीं की गई है। उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना के अंतर्गत जैसे ही कोई आधिकारिक वेबसाइट या पोर्टल लांच किया जाएगा या फिर इसकी आवेदन प्रक्रिया शुरू की जाएगी हम आपको हमारे इस लेख के माध्यम से सूचित कर देंगे।

For more details visit the official website

Helpful Link–>>. Bihar Rajya Fasal Sahayata Yojana। ₹ 7500 से ₹10000 की आर्थिक सहायता

उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना की शुरुआत कब की गई है?

उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना की शुरुआत हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा 11 नवंबर 2020 को की गई है।

उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना के अंतर्गत कितने क्षेत्रों को सम्मिलित किया गया है?

उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना का मुख्य उद्देश्य भारत को एशिया का प्रमुख वैकल्पिक वैश्विक मैन्युफैक्चरिंग केंद्र बनाना है।

केंद्र सरकार के द्वारा इस योजना के लिए कितना बजट आवंटित किया गया है?

केंद्र सरकार के द्वारा उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना के अंतर्गत 200000 करोड रुपए का बजट आवंटित किया गया है।