MP PANKH SCHEME 2021: मध्यप्रदेश पंख अभियान, संरक्षण, अधिकारों के प्रति जागरूकता, पोषण, ज्ञान, स्वास्थ्य

MP PANKH scheme | MP pankh yojana | pankh abhiyan full form | MP PANKH SCHEME 2021

आप सभी इस बात से भलीभांति परिचित होंगे कि हमारे देश में राष्ट्रीय बालिका दिवस हर वर्ष 2008 से 24 फरवरी को मनाया जाता है। राष्ट्रीय बालिका दिवस लड़कियों की के प्रति असमानता और अत्याचारों के बारे में जागरूकता फैलाने के लिए मनाया जाता है। मध्य प्रदेश राज्य सरकार के द्वारा राष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर राज्य की कन्याओं तथा महिलाओं के लिए पंख अभियान की शुरुआत की जा रही है।

मध्य प्रदेश सरकारने 24 जनवरी 2021 को MP पंख योजना शुरू किया है और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बेटी बचाओ बेटी बेटी पढ़ाओ योजना शुरुआत की है। इस अभियान का सारांश यह है की बालिकाओ के विकास में सहायता करना है।

MP PANKH SCHEME

“हम बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना के तहत पर पंख अभियान शुरू करने जा रहे है।,जिसमे ‘पी सुरक्षा के लिए, ए अपने अदिकारो के प्रति जागरूकता के लिए ,एन पोषण के लिए ,ज्ञान के लिए और हम आपको बता रहे है की “स्वास्थ्य के लिए अभियान एक साल तक चलेगा।”

इस योजना को देखते हुए महिला बालिकाओ के विकास के लिए उनकी सरकार द्वारा उठाये गए ये कदमो पर प्रकाश डालते हुए हमने यह कहा, की “जब में विधायक बनी , तो मैने गरीब परिवारों की लड़कियों की शादी के लिए एक योजना शुरू की ,ताकि उन्हें बोझ न समझा जाये। राष्ट्रीय बालिका दिवस 2008 से हर साल मनाया जाता है क्योकि यह दिन लोगो बहुत ही याद दिलाता है। कि बालिकाओ के हमारे समाज में अधिक समानता बनाने की आवश्कता है।

MP PANKH SCHEME

लड़कियों के लिए MP Pankh योजना  | 2021 MP  Pankh Scheme For Girls 

राज्य सरकार। मध्य प्रदेश ने बेटी बचाओ बेटी पढाओ योजना के तहत MP Pankh योजना शुरू की है। MP Pankh Yojana का पूर्ण रूप निम्न है: –

  • P – संरक्षण / Protection
  • A – उनके अधिकारों के प्रति जागरूकता / Awareness
  • N – पोषण / Nutrition
  • K – ज्ञान / Knowledge
  • H – स्वास्थ्य / Health

इस योजना में लड़कियों के संरक्षण, गरूकजाता, पोषण, ज्ञान और स्वास्थ्य के लिए एक राज्य स्तरीय कार्यक्रम है। और यह उन सभी बंदिशों को दूर करने में मदद करेगा जो वो सामना करते है जब अपने पंखो को फैलाना और उड़ना  चाहते है जैसा कि हम आपको बता रहे है पंख योजना एक मिशन के रूप में शुरू किया जायगा ताकि लड़किया आसमान के अंतरिक्ष में जा सके

पंच योजना के माध्यम से महिला सशक्तिकरण | Empowerment of women through MP pankh Scheme 

जैसे की हम आपको बता रहे है कि लड़कियों को न केवल जूडो और कराटे जैसी आत्म-रक्षा का प्रशिक्षण दिया जाना चाहिए बल्कि उन्हें हथियार भी दिए जाने चाहिए ताकि वे अपना खुद का सामना कर सके। इस योजना के माध्यम से लड़कियों की सुरक्षा, स्वास्थ्य और शिक्षा सुनिश्चित करने के बाद महिला सशक्तीकरण का सपना साकार होगा। मध्य प्रदेश सरकार ओटीटी प्लेटफार्मों पर अश्लील सामग्री के प्रदर्शन की जांच करने के लिए कानूनी प्रावधानों के साथ आएंगे जो युवा दिमाग पर प्रतिकूल प्रभाव डाल सकते हैं।

आयोजन के दौरान, मुख्यमंत्री ने विदिशा की एक महिला को बधाई दी, जिसने अपने पति के खिलाफ उनकी बेटी के साथ बलात्कार करने की शिकायत दर्ज की थी। वह आदमी अब जेल में है। पति को जेल भेजने के बाद महिला को आर्थिक सहायता प्रदान की गई। अन्याय का सामना करने पर अधिक से अधिक महिलाओं को इस तरह बहादुर कदम उठाने चाहिए।

MP Pankh अभियान में स्वास्थ्य / शिक्षा / सुरक्षा | Health, Safety ,Education  Pankh yojna 

MP Pankh योजना 2021 सासंद पंख अभियान लड़कियों को पुनजीवित करने के लिए काफी मदद करेगी ताकि वे अपनी परेशानी का अधिकतम उपयोग कर सके। पंच योजना के तहत अगले 2 महीनों के लिए कैलेंडर पहले ही तैयार कर लिया गया है और संबंधित विभिन्न विभागों की मदद से लड़कियों की स्वास्थ्य, शिक्षा और सुरक्षा सुनिश्चित की जाएगी। जैसा कि हम आपको बता रहे है हमेशा महिला कल्याण को प्राथमिकता दी है। और इसके बाद 1990 में विधायक बनने के बाद उन्होंने दोस्तों कि मदद से सामूहिक विवाह समोराह का आयोजन शुरू किया गय। और जब वह मध्य प्रदेश के CM बने तब भी उनकी सरकारने “लाड़ली लक्ष्मी “,कन्यादान और गांव कि लड़की “जैसी योजनाओ को प्रारम्भ किया गया।

यह भी देखे –>> MP Scholarship Portal | Get Scholarship Details

यह योजना 24 जनवरी 2021 में शुरू किया गया।  | MP PANKH Scheme Launched on 24th January 2021

अब हम आपको बता रहे है दोपहर 12 बजे से मेट्रो हॉल में कार्यक्रम प्रारम्भ किया कि जहां उन्होंने अपना भाषण (SPEECH) देने के बाद PRIME MINISTER मातृ वंदना योजना’ की हितग्राहियों को मातृ सहायता राशि प्रदान की। कार्यक्रम के दौरान पंख अभियान सबसे ज्यादा बातचीत हो रही थी ।

बेटियां हमारी साहस है शौर्य कर्म और शुभकामनाएं है ,फूलो सी कोमल ह्रदय वाली होती है यह हमारा संस्कार है हम बेटी कि नहीं ,बेटियां की पूजा करते है सचमुच में इनके बिना दुनिया नहीं चल सकती है। ।#NationalGirlChildDay2021 के अवसर पर भोपाल में #PANKH अभियान का शुभारंभ किया।

Launching of Pankh Books

जैसा की हम आपको बता रहे है कि इस योजना का मुख्य उद्देश्य बेटियों के शारीरिक, मानसिक, भावनात्मक एवं मनोवैज्ञानिक विकास से है। जिससे प्रदेश की बेटियों का समग्र विकास होगा। सीएम के संबोधन के बाद ‘मध्य प्रदेश गान’, ‘लाडली लक्ष्मी योजना’ पर नृत्य नाटक और ‘जीने दो’ गाने का प्रस्तुतीकरण हुआ। सीएम ने बालिका सशक्तिकरण के लिए तैयार की गई पुस्तिका ‘पंख’ का विमोचन भी कार्यक्रम के दौरान कर इस अभियान की आधिकारिक शुरुआत की।

क्या है ‘पंख’ का अर्थ ? What is the meaning of wings 

पंख (PANKH) अंग्रेजी अक्षरों P, A, N, K, H, का हिंदी नाम है। जिसमें ‘P’ से Protection यानि संरक्षण, ‘A’ से Awareness यानी जागरूकता, ‘N’ से Nutrition यानी पोषण, ‘K’ से Knowledge यानी ज्ञान, और ‘H’ से Health and Hygiene यानी स्वास्थ्य और स्वच्छता होता है।

2008 में हुई थी बालिका दिवस मनाने की शुरुआत Celebration of Girls day started by 2008

अभियान को पूरा करने की जिम्मेदारी शिक्षा, सामाजिक कल्याण, लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग की रहेगी। जो डेटाबेस तैयार कर बेटियों के स्वास्थ्य, शिक्षा और सुरक्षा को सुनिश्चित करेंगे और उनके विकास की देखरेख करेंगे। योजना के अंतर्गत पुलिस विभाग के साथ मिलकर किशोरियों को आत्मरक्षा का प्रशिक्षण और पंचायत स्तर पर वोकेशनल ट्रेनिंग भी दी जाएगी। भारत सरकार ने 2008 में हर साल 24 जनवरी को राष्ट्रीय बालिका दिवस के रूप में मनाने की शुरुआत की थी।

24 जनवरी का दिन इसलिए चुना गया क्योंकि इसी दिन 1966 में इंदिरा गांधी ने देश की पहली महिला प्रधानमंत्री के रूप में शपथ ली थी। इस दिन देशभर में विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं। जिसमें सेव द गर्ल चाइल्ड, चाइल्ड सेक्स रेशियो, और बालिकाओं के लिए स्वस्थ और सुरक्षित वातावरण बनाने समेत अनेक जागरूकता कार्यक्रम शामिल रहते हैं।

आशा है कि यह लेख आपको अच्छा लगा होगा। इस जानकारी को आगे शेयर करे। धन्यवाद।

For More info: Click Here