Kisan Pension Yojana: ₹1000 की वित्तीय सहायता राशि प्रतिमाह

Kisan Pension Yojana । ₹1000 की वित्तीय सहायता राशि प्रतिमाह । UK Kisan Pension Yojana। किसान पेंशन योजना। उत्तराखंड किसान पेंशन योजना। Kisan Pension Yojana Application Procedure। Kisan Pension Yojana Update Pension। Kisan Pension Yojana Check Pension Status

Kisan Pension Yojana

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री श्री त्रिवेंद्र सिंह जी रावत ने राज्य के किसानों के लिए किसान पेंशन योजना की शुरुआत की है। किसान पेंशन योजना के अंतर्गत उत्तराखंड के वह किसान जिनकी आयु 60 वर्ष या इससे अधिक है उन्हें आर्थिक सहायता राशि पेंशन के रूप में राज्य सरकार के द्वारा प्रदान की जाएगी। आज हम आपके साथ हमारे इस लेख के जरिए इस योजना की पात्रता, आवश्यक दस्तावेज, उद्देश्य, मुख्य तथ्य तथा आवेदन प्रक्रिया पर चर्चा परिचर्चा करेंगे।

Kisan Pension Yojana। किसान पेंशन योजना

किसान पेंशन योजना के अंतर्गत राज्य के उन किसानों को पेंशन राशि प्रदान की जाएगी जिनके पास 2 हेक्टर या उससे कम कृषि योग्य भूमि है। किसान पेंशन योजना का संचालन उत्तराखंड समाज कल्याण विभाग के द्वारा किया जाएगा। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री श्री त्रिवेंद्र सिंह रावत जी ने इस योजना की शुरुआत कोरोना वायरस महामारी से जूझ रहे किसानों को आर्थिक सहायता राशि प्रदान करने के लिए की है।

किसान पेंशन योजना के तहत उत्तराखंड राज्य के किसानों को ₹1000 की वित्तीय सहायता राशि प्रतिमाह राज्य सरकार के द्वारा प्रदान की जाएगी। इस योजना के अंतर्गत उत्तराखंड राज्य के किसानों को प्रति वर्ष ₹12000 की वित्तीय सहायता राशि प्रदान की जाएगी। इस योजना के तहत 60 वर्ष या इससे अधिक आयु के वृद्ध जन किसानों को लाभान्वित किया जाएगा।

इस योजना के अंतर्गत आवेदन करने वाले आवेदक किसान के पास 2 हेक्टर से अधिक कृषि योग्य भूमि होना अनिवार्य है।उत्तराखंड राज्य के इच्छुक लाभार्थी किसान जो किसान पेंशन योजना का लाभ प्राप्त करना चाहते हैं । वह इस योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।किसान पेंशन योजना के अंतर्गत उत्तराखंड राज्य सरकार के द्वारा 7.65 करोड़ का बजट पहली तिमाही किस्त के लिए निर्धारित किया गया है। किसान पेंशन योजना के अंतर्गत पहली सूची में 25397 किसानों को लाभान्वित किया गया है।

उत्तराखंड राज्य सरकार के द्वारा किसान पेंशन योजना के अंतर्गत पहली लाभार्थी सूची इस योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जारी कर दी गई है। इस किसान पेंशन योजना के अंतर्गत पहली लाभार्थी सूची उत्तराखंड राज्य सरकार के द्वारा 15 अगस्त 2020 को जारी की जाएगी। किसान पेंशन योजना को 15 अगस्त 2020 को पूरे राज्य में लागू कर दिया गया है।

इस योजना के अंतर्गत किसानों को ₹1000 की वित्तीय सहायता राशि पेंशन के रूप में प्रदान की जा रही है । इसके अतिरिक्त ₹800 की वित्तीय सहायता राशि प्रतिमाह 60 वर्ष से अधिक आयु वाले किसानों को उत्तराखंड राज्य सरकार के द्वारा प्रदान किए जाएंगे। आप सभी इस योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर इस लाभार्थी सूची में अपना नाम देख सकते हैं।

Kisan Pension Yojana Aim

आप सभी इस बात से भलीभांति परिचित होंगे कि हमारा पूरा देश अभी कोरोना वायरस कोविड-19 महामारी से जूझ रहा है। हमारे देश में प्राकृतिक आपदाओं के कारण किसानों की फसलों का बहुत अधिक नुकसान हो चुका है। इन सभी समस्याओं को मध्य नजर रखते हुए उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत जी नेकिसान पेंशन योजना की शुरुआत की है।

इस योजना के अंतर्गत 60 वर्ष या उससे अधिक आयु वाले किसानों को 1000 रुपए की वित्तीय सहायता राशि हर महीने प्रदान की जाएगी। इस योजना के अंतर्गत किसानों को प्रति वर्ष ₹12000 की आर्थिक सहायता राशि प्रदान की जाएगी।यह आर्थिक सहायता राशि उन किसानों को प्रदान की जाएगी जिनके पास 2 हेक्टेयर से अधिक कृषि योग्य भूमि है।इस योजना का मुख्य उद्देश्य किसानों को आर्थिक सहायता प्रदान कर किसानों को पलायन करने से रोकने तथा उनकी आर्थिक जरूरतों को पूरा करने के लिए सक्षम बनाना है।

Check this Also–>>> मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना 2020

Kisan Pension Yojana Key Features

उत्तराखंड किसान पेंशन योजना का शुभारंभ राज्य के मुख्यमंत्री श्री त्रिवेंद्र सिंह जी रावत के द्वारा किया गया है।

  किसान पेंशन योजना के अंतर्गत 60 वर्ष या उससे अधिक आयु के किसानों को आर्थिक सहायता राशि के रूप में ₹1000 की धनराशि प्रतिमाह राज्य सरकार के द्वारा प्रदान की जाएगी।

किसान पेंशन योजना को उत्तराखंड राज्य में 15 अगस्त 2020 को लागू किया जाएगा।

इस योजना के अंतर्गत राज्य के किसानों को प्रतिमाह ₹1000 की वित्तीय सहायता राशि पेंशन के रूप में प्रदान की जाएगी ।

इसके अतिरिक्त ₹800 की वित्तीय सहायता राशि प्रतिमाह 60 वर्ष से अधिक आयु के किसानों को प्रदान की जाएगी।

उत्तराखंड किसान पेंशन योजना के अंतर्गत राज्य सरकार के द्वारा प्रतिवर्ष ₹12000 की वित्तीय सहायता राशि प्रदान की जाएगी।

इस योजना का लाभ उत्तराखंड राज्य के केवल उन्हीं किसानों को प्रदान किया जाएगा जिनके पास 2 हेक्टेयर से अधिक कृषि योग्य भूमि है।

इस योजना का मुख्य उद्देश्य किसानों को आर्थिक सहायता राशि प्रदान कर उन्हें आत्मनिर्भर तथा सशक्त बनाना है।

किसान पेंशन योजना के अंतर्गत उत्तराखंड राज्य सरकार के द्वारा 7.65 करोड़ का बजट पहली तिमाही किस्त के लिए निर्धारित किया गया है।

किसान पेंशन योजना के अंतर्गत पहली सूची में 25397 किसानों को लाभान्वित किया गया है।

Kisan Pension Yojana Eligibility Criteria

आवेदक उत्तराखंड का स्थाई निवासी होना अनिवार्य है।

आवेदक पहले से राज्य सरकार तथा केंद्र सरकार के द्वारा चलाई जा रही पेंशन योजना का लाभार्थी नहीं होना चाहिए।

किसान पेंशन योजना के अंतर्गत आवेदन करने वाले आवेदक किसान के पास 2 हेक्टर या उससे अधिक कृषि योग्य भूमि होना अनिवार्य है।

किसान पेंशन योजना के तहत आवेदन करने वाले आवेदक किसान की आयु 60 वर्ष या उससे अधिक होना अनिवार्य है।

किसान पेंशन योजना के अंतर्गत आवेदन करने वाले किसान को राज्य सरकार तथा केंद्र सरकार द्वारा चलाई जा रही अन्य योजनाएं जैसे वृद्धावस्था पेंशन योजना,विधवा पेंशन योजना तथा विकलांगता पेंशन योजना की तरह ₹1000 की वित्तीय सहायता राशि प्रदान की जाएगी।

Kisan Pension Yojana Required Documents

आधार कार्ड

वोटर आईडी कार्ड

निवास प्रमाण पत्र

पासपोर्ट साइज फोटो

बैंक अकाउंट डिटेल्स

आयु प्रमाण पत्र

भूमि स्वामित्व के कागजात

मोबाइल नंबर

Kisan Pension Yojana Application Procedure

सबसे पहले आवेदक को उत्तराखंड किसान पेंशन योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।

kisan pension registration

आधिकारिक वेबसाइट के होम पेज पर आवेदक को विभिन्न पेंशन तथा अनुदान योजनाओं के लिए आवेदन पत्र का लिंक दिखाई देगा। आवेदक को इस लिंक पर क्लिक करना होगा।

Kisan Pension Yojana

अब आवेदक के सामने योजना के आवेदन पत्र का पीडीएफ लिंक दिखाई देगा।

आवेदक को इस लिंक पर क्लिक करके किसान पेंशन योजना के आवेदन पत्र को डाउनलोड करना होगा।

डाउनलोड करने के पश्चात इस आवेदन पत्र का प्रिंट आउट निकाल लेना है।

आवेदक को इस आवेदन पत्र में पूछी गई सभी आवश्यक जानकारी जैसे नाम, पता, आधार कार्ड क्रमांक, जन्मतिथि आदि दर्ज करना होगा।

सभी आवश्यक जानकारी दर्ज करने के पश्चात आवेदक को सभी आवश्यक दस्तावेज की फोटोकॉपी इस आवेदन पत्र के साथ अटैच करके संबंधित कार्यालय में जाकर जमा करवाना होगा।

इस प्रकार किसान पेंशन योजना के अंतर्गत आती आवेदन प्रक्रिया पूरी होती है।

Kisan Pension Yojana Update Pension

सबसे पहले आवेदक को उत्तराखंड समाज कल्याण विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।

kisan pension

आधिकारिक वेबसाइट के होम पेज पर आवेदक को नागरिक सेवाएं सेक्शन पेंशनर अद्यतन का लिंक दिखाई देगा। आवेदक को इस लिंक पर क्लिक करना है।

आवेदक के सामने एक फॉर्म खुल जाएगा। आवेदक को इस आवेदन पत्र में पेंशन का नाम जिला ब्लाक तहसील डिस्ट्रिक्ट पंजीकरण क्रमांक आदि दर्ज करना होगा ।

सभी जानकारी दर्ज करने के पश्चात आवेदक को खुद के बटन पर क्लिक करना होगा।

आवेदक के सामने पेंशनर अद्यतन खुल जाएगा।

Kisan Pension Yojana Check Pension Status

सबसे पहले आवेदक को समाज कल्याण विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।

आधिकारिक वेबसाइट के होम पेज पर आवेदक को अपनी पेंशन की स्थिति देखें का लिंक दिखाई देगा ।आवेदक को इस लिंक पर क्लिक करना है।

Kisan Pension Yojana

आवेदक के सामने अब एक नया पेज खुल जाएगा। इस पेज पर आवेदक को पूछी गई सभी जानकारी जैसे योजना का नाम पंजीकरण क्रमांक जिला ब्लॉक डिस्ट्रिक्ट बैंक खाता क्रमांक तथा मोबाइल नंबर आदि दर्ज करने होंगे।

सभी जानकारी दर्ज करने के पश्चात आवेदक को खोजें के बटन पर क्लिक करना होगा।

  अब आवेदक के सामने पेंशन की स्थिति आ जाएगी।

क्या है किसान पेंशन योजना ?

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री श्री त्रिवेंद्र सिंह जी रावत ने राज्य के किसानों के लिए किसान पेंशन योजना की शुरुआत की है। किसान पेंशन योजना के अंतर्गत उत्तराखंड के वह किसान जिनकी आयु 60 वर्ष या इससे अधिक है उन्हें आर्थिक सहायता राशि पेंशन के रूप में राज्य सरकार के द्वारा प्रदान की जाएगी।

किसान पेंशन योजना का मुख्या उद्देश्य क्या है ?

इस योजना के अंतर्गत 60 वर्ष या उससे अधिक आयु वाले किसानों को 1000 रुपए की वित्तीय सहायता राशि हर महीने प्रदान की जाएगी। इस योजना के अंतर्गत किसानों को प्रति वर्ष ₹12000 की आर्थिक सहायता राशि प्रदान की जाएगी।यह आर्थिक सहायता राशि उन किसानों को प्रदान की जाएगी जिनके पास 2 हेक्टेयर से अधिक कृषि योग्य भूमि है।इस योजना का मुख्य उद्देश्य किसानों को आर्थिक सहायता प्रदान कर किसानों को पलायन करने से रोकने तथा उनकी आर्थिक जरूरतों को पूरा करने के लिए सक्षम बनाना है।

किसान पेंशन योजना से क्या क्या लाभ मिलेगा ?

➥ उत्तराखंड किसान पेंशन योजना का शुभारंभ राज्य के मुख्यमंत्री श्री त्रिवेंद्र सिंह जी रावत के द्वारा किया गया है।
➥  किसान पेंशन योजना के अंतर्गत 60 वर्ष या उससे अधिक आयु के किसानों को आर्थिक सहायता राशि के रूप में ₹1000 की धनराशि प्रतिमाह राज्य सरकार के द्वारा प्रदान की जाएगी।
➥ किसान पेंशन योजना को उत्तराखंड राज्य में 15 अगस्त 2020 को लागू किया जाएगा।
➥ इस योजना के अंतर्गत राज्य के किसानों को प्रतिमाह ₹1000 की वित्तीय सहायता राशि पेंशन के रूप में प्रदान की जाएगी ।
➥ इसके अतिरिक्त ₹800 की वित्तीय सहायता राशि प्रतिमाह 60 वर्ष से अधिक आयु के किसानों को प्रदान की जाएगी।
➥ उत्तराखंड किसान पेंशन योजना के अंतर्गत राज्य सरकार के द्वारा प्रतिवर्ष ₹12000 की वित्तीय सहायता राशि प्रदान की जाएगी।
➥ इस योजना का लाभ उत्तराखंड राज्य के केवल उन्हीं किसानों को प्रदान किया जाएगा जिनके पास 2 हेक्टेयर से अधिक कृषि योग्य भूमि है।
➥ इस योजना का मुख्य उद्देश्य किसानों को आर्थिक सहायता राशि प्रदान कर उन्हें आत्मनिर्भर तथा सशक्त बनाना है।
➥ किसान पेंशन योजना के अंतर्गत उत्तराखंड राज्य सरकार के द्वारा 7.65 करोड़ का बजट पहली तिमाही किस्त के लिए निर्धारित किया गया है।
➥ किसान पेंशन योजना के अंतर्गत पहली सूची में 25397 किसानों को लाभान्वित किया गया है।

किसान पेंशन योजना के लिए कैसे अप्लाई करे ?

➥ सबसे पहले आवेदक को उत्तराखंड किसान पेंशन योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
➥ आधिकारिक वेबसाइट के होम पेज पर आवेदक को नागरिक सेवाएं सेक्शन पेंशनर अद्यतन का लिंक दिखाई देगा। आवेदक को इस लिंक पर क्लिक करना है।
➥ आवेदक के सामने एक फॉर्म खुल जाएगा। आवेदक को इस आवेदन पत्र में पेंशन का नाम जिला ब्लाक तहसील डिस्ट्रिक्ट पंजीकरण क्रमांक आदि दर्ज करना होगा ।
➥ सभी जानकारी दर्ज करने के पश्चात आवेदक को खुद के बटन पर क्लिक करना होगा।
➥ आवेदक के सामने पेंशनर अद्यतन खुल जाएगा।