Indira Gandhi Urban Credit Card Sambal Yojana , 2021, बिना ब्याज और गारंटी शहरी युवाओ को मिलेंगे 50,000 रूपये

Indira Gandhi Urban Credit Card Sambal Yojana:- नमस्ते! मित्रो जैसा की आप सभी को पता है। हमारी सरकार नई-नई योजनाए लाती रहती है हाल ही में राजस्थान सरकार फिर से एक नई योजनाए लेकर आयी है। “इन्दिरा गांधी शहरी क्रेडिट कार्ड संबल योजना” इस योजना के अंतर्गत स्वरोगार वाले व्यक्तियों को बढ़ावा देने के लिए और जरुरतमंदो के व्यवसाय को बढ़ाने के लिए राजस्थान सरकार ने इस योजना को शुरू करने का फैसला लिया हम आज आपको इस योजना के बार में जानकारी देंगे आप हमारे इस लेख को अंत तक पढ़े।

View Post

Indira Gandhi Urban Credit Card Sambal Yojana

जैसा की हम सभी को पता है गांव के इलाको में रोजगार देने के लिए मनरेगा है जिसके द्वारा वंहा के बेरोजगारों को आसानी से रोजगार मिल जाता है लेकिन अब बात आती है शहरों की तो यंहा बेरोजगार भी अधिक है और ऐसे भी लोग है जो काम करना चाहते है पर उनको या तो काम नई मिलता है या व्यापार शुरू करने के पैसे नहीं होते है लेकिन इस सारी समस्याओ का समाधान करने के लिए राजस्थान सरकार लेकर आयी है |

एक नई योजना जिसका नाम है इन्दिरा गांधी शहरी क्रेडिट कार्ड संबल योजना इस योजना के अंतर्गत बेरोजगार युवा स्वरोगार के लिए और थड़ी-ठेला लगाने वाले जरूरतमंद खुद के व्यवसाय को बढ़ाने के लिए बिना ब्याज बिना गारंटी 50,000 ले सकेंगे।मुख्यमंत्री का फैसला मुख्यमंत्री कार्यलय की और से 16 अगस्त 2021 को ये जानकारी दी गयी है।

इस योजना का लाभ यह सभी व्यक्ति उठा सकते है।

  • वेंडर्स
  • हेयर ड्रेसर
  • रिक्शा चालक
  • लकड़ी का काम करने वाले
  • मिट्टी के बर्तन बनाने वाले
  • चप्पल जूते ठीक करने वाले
  • निर्माण कार्य में लगे मजदुर
  • कपडे सिलने वाले
  • कपडे धोने वाले
  • रंगाई-पुताई करने वाले
  • इलेक्ट्रिशियन
  • प्लम्बर सहित असंगठित इलाके के अन्य लोग एवं बेरोजगार युवा।

इन सभी व्यक्तियों को 50 ,000 रुपये तक ब्याज मुक्त लोन एक साल के लिये बिना किसी भी गारंटी के मिलेगा. इस योजना के अंतर्गत लाभार्थी केड्रिट कार्ड /एटीएम/ डेबिट कार्ड से 50,000 रुपये तक की धनराशि आवश्यकतानुसार 31 मार्च 2022 तक एक/ अधिक किश्तो में प्राप्त कर सकेंगे. ऋण राशि का पुनर्भुगतान 4 से 15 माह 12 समान किश्तों में किया जायेगा

Click This Also:- (लिस्ट) राजस्थान श्रमिक कार्ड 2021: ऑनलाइन पंजीकरण, Download Majdur Card

इन्दिरा गांधी शहरी क्रेडिट कार्ड संबल योजना का उद्देश्य

राजस्थान सरकार ने शहरी क्षेत्र के रेहड़ी-पटरी वालों तथा सेवा क्षेत्र के युवाओं व बेरोजगारों को स्वरोजगार के लिए ‘इंदिरा गांधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना-2021’ के प्रारूप का अनुमोदन कर दिया है। इस योजना में लाभार्थी को बिना किसी गारंटी के 50 हजार रुपए तक का ब्याज मुक्त ऋण उपलब्ध कराया जाएगा। यह योजना मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी ने शुरू की इस योजना का मुख्य उद्देश्य गहलोत ने वैश्विक महामारी के दृष्टिगत शहरी क्षेत्रों में रोजगार, स्वरोजगार तथा रोजमर्रा की जरूरतों के लिए वित्तीय संसाधन उपलब्ध कराने हेतु इस वर्ष के बजट में ‘इन्दिरा गांधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना’ लागू करने की घोषणा की थी।

बयान के अनुसार योजना का क्रियान्वयन स्वायत्त शासन विभाग के माध्यम से किया जाएगा। शहरी क्षेत्र के अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति एवं अन्य पिछड़ा वर्ग के लाभार्थियों के लिए अनुसूचित जाति निगम द्वारा योजना का क्रियान्वयन किया जाएगा। योजना एक वर्ष के लिए लागू रहेगी और 31 मार्च, 2022 तक नए ऋण स्वीकृत किए जा सकेंगे।इस योजना के तहत बहुत से लोगो को लाभ मिलेगा जिससे लोगो को अनेक सुविधाएं मिलेगी। इस योजना के तहत आपको बहुत सी चीज़ो की जानकारी मिलेगा। 

यह सब कुछ आज आपने इस लेख के जरिये जाना है। उम्मीद है यह लेख आपके लिए लाभदायक रहा होगा। अगर आपको इस लेख में कुछ समझ नहीं आया हो तो आप कमेंट करके पूछ सकते है। हमारे इस लेख को अपने दोस्तों,रिश्तेदारों,इत्यादि तक शेयर करना न भूले। मैं PRADEEP SINGH आपका तहे दिल से शुक्रिया करता हूँ| कि आपने हमारे लेख को पूरा पढ़ा । और आपने अपना कीमती समय इसे पढ़ने में लगाया। एक बार फिर से दिल से धन्यावद !

इन्दिरा गांधी शहरी क्रेडिट कार्ड संबल योजना क्या है ?

गांव के इलाको में रोजगार देने के लिए मनरेगा है जिसके द्वारा वंहा के बेरोजगारों को आसानी से रोजगार मिल जाता है लेकिन अब बात आती है शहरों की तो यंहा बेरोजगार भी अधिक है और ऐसे भी लोग है जो काम करना चाहते है पर उनको या तो काम नई मिलता है या व्यापार शुरू करने के पैसे नहीं होते है लेकिन इस सारी समस्याओ का समाधान करने के लिए राजस्थान सरकार लेकर आयी है |
एक नई योजना जिसका नाम है इन्दिरा गांधी शहरी क्रेडिट कार्ड संबल योजना इस योजना के अंतर्गत बेरोजगार युवा स्वरोगार के लिए और थड़ी-ठेला लगाने वाले जरूरतमंद खुद के व्यवसाय को बढ़ाने के लिए बिना ब्याज बिना गारंटी 50,000 ले सकेंगे।

इन्दिरा गांधी शहरी क्रेडिट कार्ड संबल योजना का उद्देश्य बताईये?

राजस्थान सरकार ने शहरी क्षेत्र के रेहड़ी-पटरी वालों तथा सेवा क्षेत्र के युवाओं व बेरोजगारों को स्वरोजगार के लिए ‘इंदिरा गांधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना-2021’ के प्रारूप का अनुमोदन कर दिया है। इस योजना में लाभार्थी को बिना किसी गारंटी के 50 हजार रुपए तक का ब्याज मुक्त ऋण उपलब्ध कराया जाएगा। यह योजना मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी ने शुरू की इस योजना का मुख्य उद्देश्य गहलोत ने वैश्विक महामारी के दृष्टिगत शहरी क्षेत्रों में रोजगार, स्वरोजगार तथा रोजमर्रा की जरूरतों के लिए वित्तीय संसाधन उपलब्ध कराने हेतु इस वर्ष के बजट में ‘इन्दिरा गांधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना’ लागू करने की घोषणा की थी।

कौन-कौन से व्यक्ति इस यजना का लाभ उठा सकते है ?

कपडे सिलने वाले कपडे धोने वाले रंगाई-पुताई करने वाले इलेक्ट्रिशियन प्लम्बर सहित असंगठित इलाके के अन्य लोग एवं बेरोजगार युवा।