Indira Gandhi Pension Yojana 2021

Indira Gandhi Pension Yojana 2021 | Indira Gandhi Pension Yojana | इंदिरा गांधी पेंशन योजना | इंदिरा गांधी राष्ट्रीय वृद्धावस्था पेंशन योजना | इंदिरा गांधी विधवा पेंशन योजना | विडो पेंशन स्कीम | इंदिरा गाँधी राष्ट्रीय विकलांग पेंशन योजना | Indira Gandhi Pension Scheme 2021|

Name of schemeIndira Gandhi Pension Yojana
launched byCentral Government
DepartmentSocial Welfare Department
AimProviding financial assistance by pension
BeneficiariesBPL family elders, widow women, disabled persons etc.

केंद्र सरकार द्वारा देश के नागरिको को पेंशन प्रदान करने के लिए Indira Gandhi Pension Yojana की शुरुआत की गयी है । इंदिरा गांधी पेंशन योजना के तहत BPL परिवार के वृद्धजन ,विधवा महिलाओ ,विकलांग व्यक्तियों (BPL family elders, widow women, disabled persons etc.) आदि को बुढ़ापे में अच्छे से जीवन व्यतीत करने के लिए केंद्र सरकार द्वारा इस योजना के जरिये पेंशन धनराशि प्रदान की (Pension funds will be provided by the central government ) जाएगी ।

Indira Gandhi Pension Yojana के तहत वृद्धावस्था पेंशन योजना , विकलांगता पेंशन योजना ,विधवा पेंशन योजना आदि को इस योजना में शामिल किया गया है । इंदिरा गांधी पेंशन योजना का मुख्य उद्देश्य देश के सभी राज्यों में वित्तीय सहायता प्रदान करना है। इंदिरा गांधी पेंशन योजना का लाभ मुख्य तौर पर देश के BPL परिवारों को प्रदान (This scheme is being provided to BPL families of the country ) किया जा रहा है । इंदिरा गांधी पेंशन योजना का लाभ जो इच्छुक वृद्धजन ,विधवा महिलाये ,विकलांग व्यक्ति उठाना चाहते है। उन्हें Indira Gandhi Pension Scheme 2021 के अंतर्गत आवेदन करना होगा

Contents

Types of schemes under Indira Gandhi Pension Scheme 2021

इंदिरा गांधी राष्ट्रीय वृद्धावस्था पेंशन योजना

Indira Gandhi Pension Yojana की शुरुआत केंद्र सरकार ने 9 नवंबर 2007 को देश के सभी वृद्धजनों के लिए किया गया है । इंदिरा गांधी राष्ट्रीय वृद्धावस्था पेंशन योजना के तहत देश के BPL परिवार के 60 वर्ष या उससे अधिक आयु के वृद्धजनों को केंद्र सरकार द्वारा पेंशन के रूप में आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी । Indira Gandhi Pension Yojana के अंतर्गत जिन वृद्धजनों की आयु 60 से 79 वर्ष के बीच है उन्हें केंद्र सरकार द्वारा प्रतिमाह 750 रूपये की पेंशन धनराशि सहायता प्रदान  की जाएगी तथा जिनकी आयु 80 वर्ष से अधिक है उन्हें प्रतिमाह 1000 रूपये की पेंशन धनराशि आर्थिक सहायता के रूप में दिए जायेगे ।

Click Here–>>> Rajasthan Old Age Pension Yojana 2021

इंदिरा गांधी विधवा पेंशन योजना | Indira Gandhi Pension Yojana

केंद्र सरकार द्वारा इंदिरा गांधी विधवा पेंशन योजना के जरिये देश की विधवा महिलाओ को वित्तीय सहायता प्रदान करने के लिए शुरू की गयी है । पति की मृत्यु के बाद महिलाओं को बहुत सी कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है, जिसके चलते आर्थिक स्थिति दुर्बल हो जाती है। केंद्र सरकार ने इसे मद्देनज़र रखते हुए विडो पेंशन स्कीम चलाई है ।

विधवा पेंशन योजना के माध्यम से देश की जिन विधवा महिलाओ की आयु 18 वर्ष से अधिक और 55 वर्ष से कम है उन्हें केंद्र सरकार द्वारा प्रतिमाह 500 रूपये की पेंशन धनराशि आर्थिक सहायता के रूप में उपलब्ध कराई जाएगी और जिन महिलाओ की आयु 55 वर्ष से अधिक किन्तु 60 वर्ष से कम है उन्हें 750 /- प्रतिमाह, और जिन विधवा महिलाओ की आयु 60 वर्ष अधिक और 75 वर्ष से कम है उन्हें 1000 रूपये, तथा जिन महिलाओ की आयु 75 वर्ष से अधिक है उन्हें 1500 रूपये धनराशि वित्तीय सहायता के रूप में प्रदान की जाएगी। इंदिरा गांधी विधवा पेंशन योजना के अंतर्गत विधवा महिलाये अपना जीवन यापन अच्छे से कर सकती है ।

indira gandhi pension yojana

इंदिरा गाँधी राष्ट्रीय विकलांग पेंशन योजना|Indira Gandhi Pension Yojana

इंदिरा गाँधी राष्ट्रीय विकलांग पेंशन योजना विकलांगता वाले व्यक्ति के लिए शुरू की गई है, जिनकी  80% से अधिक विकलांगता के साथ आयु 18 वर्ष से अधिक है और बीपीएल परिवार से संबंधित है, वह व्यक्ति इस इस योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं । आप लोग जानते है की विकलांग होने के कारण से बहुत से लोग है जिनके पास आय का कोई साधन नहीं होता । जिसकी वजह से वह अच्छे से जीवन यापन नहीं कर पाते है। इंदिरा गांधी नेशनल डिसेबिलिटी पेंशन स्कीम के तहत विकलांग व्यक्तियों को प्रतिमाह पेंशन धनराशि प्रदान की जाएगी ।

इंदिरा गांधी राष्ट्रीय पेंशन योजना 2021 का उद्देश्य

वृद्धजन जिनका बुढ़ापे में कोई आय का कोई साधन नहीं होता है और बूढ़े होने की वजह से वह कोई काम भी नहीं कर पाते और विधवा महिलाओ के पति की मृत्यु होने के बाद जीवन यापन करने के लिए उनके पास आय का कोई साधन नहीं होता और इसी तरह विकलांग लोगो की विकलांगता के कारण कोई काम नहीं कर पाते । इन सभी परेशानियों को मद्देनजर रखते हुए केंद्र सरकार ने इंदिरा गाँधी राष्ट्रीय पेंशन योजना की शुरुआत की है।

इंदिरा गाँधी राष्ट्रीय पेंशन योजना के अंतर्गत इन सभी नागरिको को सरकार अच्छे से जीवन यापन करने के लिए पेंशन प्रदान कर रही है । इस योजना के अंतर्गत विकलांग व्यक्तियों ,वृद्धजनों और विधवा महिलाओ को आत्मनिर्भर बनाना । जिससे वह किसी ओर पर निर्भर न हो।

इंदिरा गांधी पेंशन योजना 2021 की पात्रता

इंदिरा गांधी पेंशन योजना 2021 के अंतर्गत आने वाली वृद्धवस्था पेंशन योजना हेतु आवेदन करने के लिए आवेदक की आयु 60 वर्ष या उससे अधिक होनी चाहिए ।

विधवा पेंशन योजना के अंतर्गत आवेदन करने के लिए विधवा महिलाओ की आयु 40 वर्ष से अधिक और 59 वर्ष से कम होनी चाहिए ।

विकलांगता पेंशन योजना के अंतर्गत आवेदन करने के लिए आवेदक 80 % या उससे अधिक विकलांग होना चाहिए ।

इस योजना के तहत आवेदन करने वाले सभी आवेदक भारतीय निवासी होने चाहिए ।

इंदिरा गांधी राष्ट्रीय पेंशन योजना 2021 हेतु आवश्यक दस्तावेज

आवेदक का आधार कार्ड

बीपीएल राशन कार्ड

मूल निवास प्रमाण पत्र

आय  प्रमाण पत्र

मोबाइल नंबर

पासपोर्ट साइज फोटो

इंदिरा गांधी पेंशन योजना 2021 में कैसे आवेदन करे?

इंदिरा गांधी पेंशन योजना 2021 के अंतर्गत आवेदन करना चाहते है उन्हें पंचायत और जिला स्तर के कार्यालयों में संपर्क करना होगा। वहाँ जाकर आवेदक को आवेदन पत्र भरना होगा । आवेदन पत्र को भरकर अपने सभी दस्तावेज़ों को अटैच करके आपको वही कार्यालय में जमा करना होगा । नगरीय निकाय / ग्राम पंचायतें संबंधित ULB / जनपद पंचायतों को आवेदन प्रेषित करेंगी। संबंधित नगरीय निकाय / जनपद पंचायतों को आवेदन को स्वीकार / अस्वीकार करने का अधिकार है।

For More details visit the official website: https://www.sje.rajasthan.gov.in/

इंदिरा गांधी पेंशन योजना क्या है?

इंदिरा गांधी पेंशन योजना के तहत BPL परिवार के वृद्धजन ,विधवा महिलाओ ,विकलांग व्यक्तियों (BPL family elders, widow women, disabled persons etc.) आदि को बुढ़ापे में अच्छे से जीवन व्यतीत करने के लिए केंद्र सरकार द्वारा इस योजना के जरिये पेंशन धनराशि प्रदान की (Pension funds will be provided by the central government ) जाएगी ।

इंदिरा गांधी विधवा पेंशन योजना के अंतर्गत महिलाओं को कितनी पेंशन राशि प्रदान की जाती है?

विधवा पेंशन योजना के माध्यम से देश की जिन विधवा महिलाओ की आयु 18 वर्ष से अधिक और 55 वर्ष से कम है उन्हें केंद्र सरकार द्वारा प्रतिमाह 500 रूपये की पेंशन धनराशि आर्थिक सहायता के रूप में उपलब्ध कराई जाएगी और जिन महिलाओ की आयु 55 वर्ष से अधिक किन्तु 60 वर्ष से कम है उन्हें 750 /- प्रतिमाह, और जिन विधवा महिलाओ की आयु 60 वर्ष अधिक और 75 वर्ष से कम है उन्हें 1000 रूपये, तथा जिन महिलाओ की आयु 75 वर्ष से अधिक है उन्हें 1500 रूपये धनराशि वित्तीय सहायता के रूप में प्रदान की जाएगी।

इंदिरा गांधी वृद्धावस्था पेंशन योजना के तहत आवेदन करने वाले व्यक्ति की आयु कितनी होनी चाहिए?

इंदिरा गांधी पेंशन योजना 2021 के अंतर्गत आने वाली वृद्धवस्था पेंशन योजना हेतु आवेदन करने के लिए आवेदक की आयु 60 वर्ष या उससे अधिक होनी चाहिए ।