Gramin Bhandaran Yojana 2021: ग्रामीण भंडारण योजना 2021

Gramin Bhandaran Yojana | Warehouse Subsidy Scheme 2021। Warehouse Subsidy Scheme Apply Online। ग्रामीण भंडारण योजना ऑनलाइन आवेदन। Warehouse Subsidy Scheme Application Form । ग्रामीण भंडारण योजना। Warehouse Subsidy Scheme । ग्रामीण भंडारण योजना 2021। Warehouse Subsidy Scheme Subsidy Rates। Warehouse Subsidy Scheme  Banks

Gramin Bhandaran Yojana 2021

जैसा कि आप सभी जानते हैं कि हमारे देश के किसानों की आर्थिक स्थिति कुछ अच्छी नहीं है। और वह अपने स्वयं का भंडारण संग्रह नहीं बना सकते हैं। इन सभी समस्याओं को मध्य नजर रखते हुए हमारे देश की केंद्र सरकार ने किसानों के लिए ग्रामीण भंडारण योजना की शुरुआत की है। आज हम आपको हमारे इस लेख के माध्यम से इस योजना से जुड़ी सभी महत्वपूर्ण जानकारी देंगे ।और साथ ही में इस योजना का उद्देश्य, पात्रता, आवश्यक दस्तावेज, आवेदन प्रक्रिया आदि पर चर्चा करेंगे।

Gramin Bhandaran Yojana । ग्रामीण भंडारण योजना

आप सभी जानते हैं कि कई बार ऐसा होता है की फसल सुरक्षित ना होने के कारण किसानों को अपनी फसलों को कम दामों पर बेचना पड़ता है। इसी समस्या को मद्देनजर रखते हुए केंद्र सरकार ने इस योजना की शुरूआत की है। ग्रामीण भंडारण योजना के अंतर्गतकिसानों की फसलों को सुरक्षित रखने के लिए सरकार के द्वारा भंडारण का निर्माण करवाया जाएगा।

ग्रामीण भंडारण योजना के अंतर्गत किसान अपने स्वयं के भंडारण का निर्माण करवा सकते हैं ।तथा किसान संस्थाओं से जुड़े भंडारण का प्रयोग कर सकते हैं। ग्रामीण भंडारण योजना के अंतर्गत किसानों को भंडार गृह बनवाने के लिए सरकार के द्वारा ऋण प्रदान की जाएगी। किसानों को इस रेड पर सब्सिडी भी दी जाएगी।

ग्रामीण भंडारण योजना के अंतर्गत भंडार ग्रह की क्षमता का निर्णय उद्यमी के द्वारा किया जाए ।लेकिन ग्रामीण भंडारण योजना के अंतर्गत भंडार ग्रह के निर्माण के लिए लोन प्राप्त करने हेतु भंडार ग्रह की क्षमता 100 टन से अधिक होनी चाहिए। अगर भंडार गृह की क्षमता 30000 टन से अधिक या 100 टन से कम होगी तो इस स्थिति में सरकार के द्वारा कोई भी सहायता प्रदान नहीं की जाएगी और लोन नहीं दिया जाएगा।

इस योजना के अंतर्गत कुछ विशेष परिस्थितियों में 50 टन की क्षमता के गोदाम का निर्माण करवाने पर सरकार के द्वारा सब्सिडी प्रदान की जा सकती है। इस योजना के अंतर्गत पर्वतीय क्षेत्र में 25 टन की क्षमता के ग्रह के निर्माण पर सरकार के द्वारा सब्सिडी प्रदान की जाएगी। ग्रामीण भंडारण योजना के अंतर्गत लोन चुकाने की अवधि 11 वर्ष है।

Gramin Bhandaran Yojana Aim

आप सभी जानते हैं की बारिश तथा अन्य प्राकृतिक आपदाओं के कारण किसानों की फसलें जल्दी खराब हो जाती है और फिर उन्हें उन फसलों को कम दामों में बेचना पड़ता है। इन सभी समस्याओं को मध्य नजर रखते हुए केंद्र सरकार ने ग्रामीण भंडारण योजना की शुरुआत की है।ग्रामीण भंडारण योजना का मुख्य उद्देश्य किसानों की फसलों को बर्बाद होने तथा नष्ट होने से बचाना है ताकि वह उन सभी फसलों को सही दाम पर बेच सकें।

इस योजना के अंतर्गत किसानों को भंडार गृह का निर्माण करवाने के लिए सरकार के द्वारा लोनमुहैया करवाया जाएगा । तथा उस लोन पर सब्सिडी भी प्रदान की जाएगी। इससे उनकी आर्थिक स्थिति में सुधार आएगा और उन्हें समस्याओं का सामना नहीं करना पड़ेगा।

Gramin Bhandaran Yojana Rates

ग्रामीण भंडारण योजना के अंतर्गत SC/ST उद्यमी और इन समुदायों से संबंधित संगठन या फिर पूर्वोत्तर राज्य, पर्वतीय क्षेत्र क्षेत्रों में भंडार निर्माण की कुल लागत में से एक तिहाई हिस्से पर सरकार के द्वारा सब्सिडी प्रदान की जाएगी। भंडार ग्रह निर्माण की कुल अधिकतम लागत 3 करोड रुपए है।

यदि भंडार गृह निर्माण करवाने वाला व्यक्ति अगर किसान है या फिर किसान ग्रेजुएट है या फिर किसी सहकारी संगठन से संबंध रखता है तो उसे 25% तक की सब्सिडी कुल पूंजी लागत पर मुहैया करवाई जाएगी। भंडार गृह निर्माण की अधिकतम लागत सीमा 2.25 करोड़ रुपए है।

इस योजना के अंतर्गत अन्य श्रेणियों के लोगों को भंडार ग्रह के निर्माण करवाने पर 15% तक की कुल लागत पर सरकार के द्वारा सब्सिडी मुहैया करवाई जाएगी। भंडार गृह निर्माण की अधिकतम लागत सीमा 1.35 करोड़ रुपए है।

ग्रामीण भंडारण योजना के अंतर्गत अगर जीर्णोद्धार पर भंडार गृह का निर्माण करवाया जाता है तो इस स्थिति में सरकार के द्वारा 25% तक की सब्सिडी कुल लागत पर प्रदान की जाएगी।

Warehouse Subsidy Scheme Total Investment

1000 टन की क्षमता के भंडार गृह निर्माण: बैंक द्वारा उपलब्ध की गई लागत धनराशि या वास्तविक लागत राशि ₹3500 प्रति टन है।

1000 टन से अधिक क्षमता के भंडार ग्रह के लिए: बैंक द्वारा उपलब्ध कराई गई लागत धनराशि या वास्तविक राशि या फिर 1500 रुपए प्रति टन है। या फिर इसमें जो भी कम हो।

Warehouse Subsidy Scheme  Banks

अर्बन कोऑपरेटिव बैंक

रीजनल रूरल बैंक

कमर्शियल बैंक

नॉर्थ ईस्टर्न डेवलपमेंट फाइनेंस कॉरपोरेशन

स्टेट कोऑपरेटिव एग्रीकल्चरल एंड रूरल डेवलपमेंट बैंक

स्टेट कोऑपरेटिव बैंक

एग्रीकल्चरल डेवलपमेंट फाइनेंस कमेटी

Warehouse Subsidy Scheme Beneficiaries

किसान
कृषक/उत्पादक समूह
प्रतिष्ठान
गैर सरकारी संगठन
स्वयं सहायता समूह
कंपनियां
निगम
व्यक्ति
सरकारी संगठन
परिसंघ
कृषि उपज विपण समिति

Warehouse Subsidy Scheme Key Features

भंडार ग्रह में कुछ मुख्य सुविधाएं जैसे पक्की सड़क, जल निकासी की व्यवस्था, सुरक्षा की व्यवस्था, सामान उतारने की सुविधा आदि होना अनिवार्य है।

भंडार ग्रह में सभी खिड़कियां, रोशनदान पक्षियों से सुरक्षित होनी चाहिए।

भंडार गृह में सभी खिड़कियां तथा दरवाजे वायु अवरोधक होने चाहिए।

भंडार गृह कीटाणुओं और कीड़ों से सुरक्षित होना चाहिए।

इस योजना के अंतर्गत बनाए जाने वाले गोदाम का निर्माण एसपीडब्ल्यूडी या एसपीडब्लूडी-के दिशा निर्देश के अनुसार होना चाहिए।

आवेदक अपनी इच्छा के अनुसार भंडार गृह का निर्माण किसी भी स्थान पर करवा सकता है

आवेदक के पास भंडार ग्रह के लिए लाइसेंस होना अनिवार्य है।

1000 टन से अधिक क्षमता के भंडार ग्रह के लिए आवेदक के पास एसपीडब्लूडी से अनुमति प्राप्त होना अनिवार्य है।

ग्रामीण भंडारण योजना के अंतर्गत बनाए गए भंडार ग्रह की ऊंचाई 4 से 5 मीटर होना अनिवार्य है।

ग्रामीण भंडारण योजना के अंतर्गत भंडार गृह का निर्माण इंजीनियरिंग मानकों के आधार पर करवाया जाएगा।

ग्रामीण भंडार गृह योजना के अंतर्गत भंडार ग्रह की क्षमता आवेदन पर निर्भर करती है।

भंडार ग्रह नगर निगम क्षेत्र की सीमा से बाहर होना चाहिए है।

Warehouse Subsidy Scheme Eligibility Criteria

अभी तक भारत का स्थाई निवासी होना चाहिए।

ग्रामीण भंडारण योजना के अंतर्गत किसान तथा कृषि संगठन से जुड़े लोगों को लाभान्वित किया जाएगा।

Warehouse Subsidy Scheme Required Documents

आधार कार्ड

राशन कार्ड

निवास प्रमाण पत्र

बैंक अकाउंट डिटेल्स

पासपोर्ट साइज फोटो

मोबाइल नंबर

Warehouse Subsidy Scheme Apply Online

सबसे पहले आवेदक को ग्रामीण भंडारण योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।

Gramin Bhandaran Yojana
Gramin Bhandaran Yojana 2021: ग्रामीण भंडारण योजना 2021 3

ग्रामीण भंडारण योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर आवेदक को अप्लाई नाउ का लिंक दिखाई देगा। आवेदक को इस लिंक पर क्लिक करना होगा।

आवेदक के सामने अब ग्रामीण भंडारण योजना का आवेदन पत्र खुल जाएगा।

आवेदक को इस आवेदन पत्र में पूछी गई सभी महत्वपूर्ण जानकारी ध्यान पूर्वक दर्ज करनी होगी।

सभी आवश्यक जानकारी दर्ज करने के पश्चात आवेदक को आवश्यक दस्तावेजों स्कैन करके अपलोड करना होगा।

दस्तावेज़ों को अपलोड करने के पश्चात आवेदक को सबमिट के बटन पर क्लिक करना है।

इस प्रकार ग्रामीण भंडारण योजना के अंतर्गत आवेदक की आवेदन प्रक्रिया पूर्ण होती है।