EK Must Samadhan Yojana 2021 | किसानो को  ऋण के ब्याज में 35% से लेकर 100% प्रतिशत छूट

EK Must Samadhan Yojana 2021 (UP) Apply online | EK Must Samadhan Yojana 2021 (UP) | EK Must Samadhan Yojana 2021 | उत्तर प्रदेश एकमुश्त समाधान योजना | EK Must Samadhan Yojana 2021

EK Must Samadhan Yojana 2021(UP) or उत्तर प्रदेश एकमुश्त समाधान योजना

उत्तर प्रदेश राज्य के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ जी के द्वारा राज्य के किसानो को आर्थिक लाभ पहुंचाने के लिए ‘यूपी एक मुश्त समाधान योजना‘ की शुरुआत गई है। Uttar Pradehs EK Must Samadhan Yojana के अंतर्गत उत्तर प्रदेश के किसानो को  ऋण के ब्याज में 35 प्रतिशत से लेकर सौ प्रतिशत छूट राज्य सरकार द्वारा प्रदान की जायगी। राज्य के बहुत से कृषक कई बार सूखे ,ओलावृष्टि, बाढ़, तूफान आदि आपदाओं के कारण ऋण का भुगतान सही समय पर नहीं कर पाते है।

इसी बात को ध्यान में रखते हुए यूपी में राज्य सरकार ने एकमुश्त समाधान योजना को आरंम्भ किया है। आज हम आपको हमारे इस लेख के माध्यम से इस योजना से जुडी सम्पूर्ण जानकारी जैसे योजना क्या है ?, पात्रता ,आवेदन करने ,उद्देश्य आदि पर चर्चा परिचर्चा करेंगे।

EK Must Samadhan Yojana 2021 (UP)

यूपी राज्य के जिन किसानो ने कृषि के लिए लोन उठाया है और किसी कारण वश वे अपने लोन का ब्याज नहीं दे पा रहे है तो ऐसे में वे इस योजना का लाभ प्राप्त कर अपने लोन के ब्याज का भुगतान कर सकते है। यूपी एकमुश्त समाधान योजना से केवल उन्ही किसानो को लाभान्वित किया जाएगा जिन्होंने 31 जुलाई से पहले अपने लोन का भुगतान किया है।

इस योजना के माध्यम से उत्तर प्रदेश राज्य के 2.63 लाख से अधिक किसानो को लाभ प्रदान किया जाएगा । उत्तर प्रदेश एकमुश्त समाधान योजना में तीन अलग  अलग प्रकार की श्रेणिया का निमार्ण किया गया है। राज्य के इच्छुक आवेदन कर्त्ता इस योजना का लाभ प्राप्त करना चाहते है तो वह इस योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते है।

एकमुश्त समाधान योजना 2021 की तीन श्रेणियाँ

पहली श्रेणी – प्रथम श्रेणी में यूपी राज्य के उन किसानो को शामिल किया गया है जिन्होंने 31 मार्च 1997 से पहले का ऋण बाकि है और वो लोन की भुगतान नहीं कर पा रहे है।उन किसानो के लोन का ब्याज राज्य सरकार द्वारा माफ़ कर दिया जाएगा।

दूसरी श्रेणी – द्वितीय श्रेणी में यूपी राज्य के उन किसानो को शामिल किया गया है जिन्होंने 1 अप्रैल 1997 को या उसके बाद 31 मार्च 2007 तक ऋण लिया है | उन किसानो को ऋण के ब्याज में छूट दी जायगी। जिन मामलों में ब्याज वितरित लोन राशि के बराबर या इससे अधिक वसूल किया गया है | तो उनसे केवल मूलधन (मूल रकम )ली जायगी । और जिन मामलो में दिए गए लोन राशि में ब्याज लोन राशि से कम है। तो उस ऋण पर पहले लगने वाले ब्याज को घटाते (कम) हुए शेष ब्याज व शेष मूलधन को वसूल किया जाएगा।

तीसरी श्रेणी – तृतीय श्रेणी में राज्य के उन किसानो को शामिल किया गया है | जिन्होंने एक अप्रैल 2007 से 31 मार्च 2012 तक ऋण लिया है
उन्हें तीन तरह से छूट दी जायगी। पहले चरण में कर्जदार किसानो से सूद समत मूलधन की शत- प्रतिशत वसूली की जाएगी। द्वितीय चरण में
इस योजना की शुरू होने से लेकर 31 जुलाई 2018 तक के बीच अगर किसान समझौता कर अपना खाता बंद करवा देता है |

तो इस स्थिति में उसे ब्याज दर पर 50 % की छूट प्रदान की जाएगी। तृतीय चरण, यदि कोई किसान एक अगस्त 2018 से लेकर 31 अक्टूबर 2018 के बीच आपसी समझौता कर अपना खाता बंद करवाता है तो उस किसान को ब्याज दर पर 40 % की छूट प्रदान की जाएगी। और यदि कोई किसान एक नवंबर 2019 से लेकर 31 जनवरी 2021 के बीच समझौता कर अपना खाता बंद करवाता है तो उसे ब्याज दर पर 35 %की छूट प्रदान की जाएगी।

यह भी देखे –>> युवाओं को निशुल्क कौशल प्रशिक्षण तथा रोजगार

Aim of EK Must Samadhan Yojana 2021 (UP)or उत्तर प्रदेश एकमुश्त समाधान योजना

आप सभी लोग इस बात से भली भाति परिचित है। कि राज्य के किसानो को कृषि करने के लोन की आवश्यता पड़ती है । और ऐसे में किसान लोग ऋण तो ले लेते है पर आर्थिक समस्याओ के कारण उस ऋण का भुगतान सही समय पर नहीं कर पाते है | इसी बात को मद्यनज़र रखते हुए यूपी राज्य सरकार ने किसानो के कल्याण के लिए इस योजना को शुरु किया है | इस योजना का मुख्य उद्देश्य यूपी राज्य के किसानो को एक मुश्त ऋण चुकाने पर 35 प्रतिशत से लेकर शत-प्रतिशत छूट प्रदान करना। इस योजना के अंतर्गत किसानो को ऋण के ब्याज की भुगतान करने में मदद मिलेगी। 

Credential Required for EK Must Samadhan Yojana 2021 (UP)or एकमुश्त समाधान योजना 2021 के दस्तावेज़ (पात्रता)

आवेदक यूपी राज्य का स्थायी निवासी होना अनिवार्य है।
इस योजना के पात्र केवल किसान होंगे
आधार कार्ड
ज़मीन के कागज़ात
पहचान पत्र
आवास प्रमाण पत्र
बैंक अकाउंट पासबुक
मोबाइल नंबर
पासपोर्ट साइज फोटो

उत्तर प्रदेश एकमुश्त समाधान योजना 2021 ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कैसे करे ?

ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया

सबसे पहले आपको उत्तर प्रदेश एकमुश्त समाधान योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। आधिकारिक वेबसाइट पर जाने के पश्चात आवेदक के सामने होम पेज खुल आयेगा।

EK Must Samadhan Yojana

इस होम पेज पर आवेदक को उत्तर प्रदेश एकमुश्त समाधान योजना का लिंक दिखाई देगा। इस लिंक पर क्लिक करना होगा। इसके पश्चात आवेदक के सामने नया पेज खुल आयेगा।

इस पेज पर आवेदन पत्र खुल आयेगा। आवेदक को इस आवेदन पत्र में पूछी गयी सभी आवश्यक जानकारी जैसे नाम ,पता ,मोबाइल नंबर आदि भरनी होगी। इसके पश्चात सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा।

ऑफलाइन आवेदन प्रक्रिया

यदि आप इस योजना के अंतर्गत ऑफलाइन आवेदन करना चाहते है तो ऑफ लाइन आवेदन करने के लिए सबसे सहकारी ग्राम विकास बैंक लखनऊ से संपर्क करना होगा।

बैंक में जाकर आवेदक को एप्लीकेशन फॉर्म लेना होगा। इस एप्लीकेशन फॉर्म में पूछी गयी सभी
आवश्यक जानकारी भरनी होगी।

सभी जानकारी भरने के पश्चात एप्लीकेशन फॉर्म के साथ सभी ज़रूरी दस्तावेज़ों को संग्लन करके बैंक में जमा करवाना होगा। इस प्रकार आपका आवेदन सफल हो जायेगा ।

उत्तर प्रदेश एकमुश्त समाधान योजना क्या है ?

उत्तर प्रदेश के किसानो को  ऋण के ब्याज में 35 प्रतिशत से लेकर सौ प्रतिशत छूट राज्य सरकार द्वारा प्रदान की जायगी

एकमुश्त समाधान योजना किस राज्य में लागु की गई ?

उत्तर प्रदेश

उत्तर प्रदेश एकमुश्त समाधान योजना का लाभ कौन कौन प्राप्त कर सकता है ?

केवल किसान