Krishi Input Anudan Yojana-DBT Bihar- Kisan Registration, 13500 की आर्थिक सहायता राशि

DBT Bihar, Kisan Registration, Krishi Input Anudan Yojana: ₹13500 की आर्थिक सहायता राशि, Krishi Input Anudan Yojana, कृषि इनपुट अनुदान योजना, बिहार कृषि इनपुट अनुदान योजना, Krishi Input Anudan Yojana Apply Online, Krishi Input Anudan Yojana Application Process, Krishi Input Subsidy Scheme Apply, कृषि इनपुट अनुदान योजना  ऑनलाइन आवेदन, Krishi Input Subsidy Scheme Form .

Krishi Input Anudan Yojana-DBT Bihar-Kisan Registration

बिहार राज्य के किसानों के लिए कृषि इनपुट अनुदान योजना की शुरुआत बिहार राज्य सरकार के द्वारा की गई है। बिहार कृषि इनपुट अनुदान योजना के अंतर्गत प्राकृतिक आपदाओं के कारण जिन किसानों की फसलों का नुकसान हुआ है उन सभी को आर्थिक सहायता राशि प्रदान कर लाभान्वित किया जाएगा। बिहार कृषि इनपुट अनुदान योजना के अंतर्गत जिन किसानों की फसलें बारिश ओलावृष्टि आदि प्राकृतिक आपदाओं के कारण नष्ट हुई है उन सभी को राज्य सरकार के द्वारा प्रति हेक्टर अधिकतम ₹13500 की आर्थिक सहायता राशि मुहवजे के रुप में प्रदान की जाएगी। बिहार कृषि इनपुट अनुदान योजना 2020 के अंतर्गत राज्य सरकार के द्वारा योजना में कई बदलाव किए गए हैं।

Click This Alos
Bihar Student Credit Card Yojana
Bihar Udyami Yojana
Bihar Mukhyamantri Gram Privahan Yojana
Krishi Input Anudan Yojana

Krishi Input Anudan Yojana, कृषि इनपुट अनुदान योजना

DBT Krishi Input अनुदान योजना के अंतर्गत किसानों को आर्थिक सहायता राशि DBT के माध्यम से प्रदान की जाएगी यानी इस योजना के तहत किसानों को आर्थिक सहायता राशि आधार कार्ड के जरिए बैंक खातों में उपलब्ध करवाई जाएगी। बिहार कृषि इनपुट अनुदान योजना के अंतर्गत केंद्र सरकार के द्वारा निर्धारित अधिसूचित प्राकृतिक आपदाओं और बिहार सरकार के द्वारा तय किए गए स्थानीय प्राकृतिक आपदाओं के नियमों के अनुसार किसानों को उनकी फसल के नुकसान पर मुआवजा प्रदान किया|

जाएगा। इस योजना के अंतर्गत अधिक वर्षा/बाढ़ से फसलों के हुए नुकसान तथा अतिवृष्टि से फसलों के हानि होने पर राज्य सरकार के द्वारा ₹6800की आर्थिक सहायता राशि के रूप में मुआवजा प्रति हेक्टर के दर से किसानों को प्रदान किया जाएगा।इसके अलावा सिंचित क्षेत्रों में ₹13500 प्रति हेक्टर तथा कृषि योग्य भूमि बालू या स्लीट जहां 3 इंच से अधिक जमा हुआ है|

उस स्थिति में राज्य सरकार के द्वारा ₹12200 प्रति हेक्टर के दर से आर्थिक सहायता राशि के रूप में किसानों को प्रदान की जाएगी। कृषि इनपुट अनुदान योजना के अंतर्गत बिहार राज्य सरकार द्वारा पहले बिहार राज्य के 19 जिलों को लाभान्वित किया जाता था। लेकिन वर्ष 2020 में इन जिलों की संख्या बढ़ाकर 23 कर दिया है। कृषि इनपुट अनुदान योजना 2020 के अंतर्गत बिहार राज्य के औरंगाबाद, भागलपुर, बक्सर, गया,जहानाबाद, कैमूर, मुजफ्फरपुर, पटना, पूर्वी चंपारण, समस्तीपुर और वैशाली को सम्मिलित किया गया है।

वर्ष 2020 में बिहार राज्य राज्य के जिन किसानों की फसलों का नुकसान अप्रैल माह में वर्षा के कारण हुआ है उन सभी किसानों को राज्य सरकार ने मुहावजा प्रदान करने का फैसला लिया है। जो किसान मार्च माह में आर्थिक सहायता राशि प्राप्त करने के लिए आवेदन नहीं कर पाए थे उन सभी को राज्य सरकार के द्वारा दूसरा मौका दिया जाता है।

कृषि इनपुट अनुदान योजना के अंतर्गत कृषि तथा बागवानी फसल में हुए नुकसान के लिए बिहार राज्य के 19 जिलों मुजफ्फरपुर गोपालगंज पूर्वी चंपारण पश्चिमी चंपारण बेगूसराय समस्तीपुर सीतामढ़ी लखीसराय खगड़िया सहरसा भागलपुर सुपौल मधेपुरा शिवहर दरभंगा मधुबनी किशनगंज पूर्णिया और अररिया के प्रतिवेदित 148 प्रखंड सहित क्षेत्रोंके किसान 7 मई से 20 मई तक आवेदन कर सकते हैं।

कृषि कृषि इनपुट अनुदान योजना के अंतर्गत मार्च माह में हुए नुकसान के लिए बिहार सरकार द्वारा फसलों के नुकसान के लिए 23 जिलों पटना, नालंदा, भोजपुर, औरंगाबाद, बक्सर, रोहतास, मुजफ्फरपुर, गोपालगंज, पश्चिमी चंपारण, दरभंगा, समस्तीपुर, मुंगेर, लखीसराय, शेखपुरा, भागलपुर, भभुआ, जहानाबाद, गया, अरवल नावदा, बांका, मधेपुरा, और किशनगंज के प्रतिवेदित 196 प्रखंडों में जो किसान पहले आवेदन नहीं कर पाए हैं ।वे सभी 4 मई से 11 मई तक अनुदान राशि प्राप्त करने के लिए बिहार राज्य के किसान आवेदन कर सकते हैं।

DBT Bihar, Kisan Registration Yojana Aim

आप सभी इस बात से भलीभांति परिचित होंगे यह हमारे देश में कई ऐसे किसान हैं जो खेती कर कर अपना गुजारा करते हैं लेकिन इस बार अधिक भ्रष्टा वर्षा होने के कारण किसानों की फसलों का बहुत अधिक मात्रा में नुकसान हुआ है इससे वह खाद बीज का खर्चा भी पूरा नहीं उठा पा रहे हैं। इन सभी समस्याओं को मध्य नजर रखते हुए बिहार सरकार ने Krishi Input Anudan Yojana 2020की शुरुआत की है।

कृषि इनपुट अनुदान योजना 2020 के अंतर्गत बिहार राज्य के प्राकृतिक आपदा के कारण हुए फसलों के नुकसान के लिए बिहार सरकार के द्वारा किसानों को ₹13500 की आर्थिक सहायता राशि प्रति हेक्टर के दर से वित्तीय मुहावजे के रूप में प्रदान की जाएगी। इस योजना का मुख्य उद्देश्य किसानों को अधिक वर्षा ओलावृष्टि तथा अन्य प्राकृतिक आपदाओं के कारण हुए फसलों के नुकसान पर आर्थिक सहायता राशि मुहावजे के रूप में प्रदान करना है। तथा किसानों को आत्मनिर्भर तथा सशक्त बनाना है।

DBT Bihar,  Kisan Registration Yojana Key Features

  •  बिहार कृषि इनपुट अनुदान योजना के अंतर्गत बिहार राज्य के किसानों को अधिक वर्षा बाढ़ तथा अन्य प्राकृतिक आपदाओं के कारण फसलों के नुकसान पर ₹13500 प्रति हेक्टेयर की दर से आर्थिक Sahayata Rashi (सहायता राशि) के रूप में प्रदान किए जाएंगे।
  •  इस Krishi Input अनुदान योजना के अंतर्गत असिंचित क्षेत्रों में फसलों के नुकसान पर ₹6800 की आर्थिक सहायता राशि तथा सिंचित क्षेत्रों में फसलों के नुकसान होने पर ₹13500 की आर्थिक सहायता राशि Bihar Government के द्वारा प्रदान की जाएगी।
  • Krishi input Anudan Yojana के अंतर्गत कृषि योग्य भूमि बालू /सिल्ट में 3 इंच से अधिक जमा होने पर Bihar Government द्वारा ₹12200 की आर्थिक सहायता राशि प्रति हैक्टर के दर से प्रदान की जाएगी।
  •  कृषि इनपुट अनुदान योजना के अंतर्गत प्रत्येक किसान अधिकतम 2 हेक्टर पर नुकसान के लिए आर्थिक सहायता राशि प्राप्त कर सकता है।
  •  इस योजना के अंतर्गत प्राकृतिक आपदा से प्रभावित किसान को न्यूनतम ₹1000 की आर्थिक सहायता राशि प्रदान की जाएगी।
  •  कृषि इनपुट अनुदान योजना के अंतर्गत किसानों को आर्थिक सहायता राशि DBT Bihar के माध्यम से प्रदान की जाएगी यानी इस योजना के तहत किसानों को आर्थिक सहायता राशि आधार कार्ड के जरिए बैंक खातों में उपलब्ध करवाई जाएगी।
  •  इस योजना का मुख्य उद्देश्य किसानों को अधिक वर्षा ओलावृष्टि तथा अन्य प्राकृतिक आपदा के कारण हुए उनकी फसलों के नुकसान पर आर्थिक सहायता राशि प्रदान करना है तथा उन्हें खेती के लिए प्रोत्साहित करना है।
  •  बिहार राज्य के इच्छुक लाभार्थी जो Krishi input Anudan Yojana के अंतर्गत लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदन करना चाहते हैं वह सभी इस योजना के अंतर्गत ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।
  •  इस योजना के अंतर्गत आवेदन करने से पहले आवेदक को यह पता करना होगा ही उनका जिला सूखाग्रस्त या फिर अति वर्षा से ग्रसित घोषित किया गया है या नहीं।

Krishi Input Anudan Yojana Eligibility Criteria

  •  इस योजना के अंतर्गत आवेदन करने वाला व्यक्ति बिहार राज्य का स्थाई निवासी होना चाहिए।
  •  आवेदक किसान के पास कृषि योग्य भूमि होना अनिवार्य है।
  •  आवेदक के पास उसका खुद का बैंक अकाउंट होना चाहिए तथा बैंक अकाउंट आधार कार्ड से लिंक होना अनिवार्य है।
  •  इस योजना के अंतर्गत बटाईदार के पास वास्तविक खेतीहर और स्वयं भू धरती की स्थिति में भूमि के कागजात के साथ स्व घोषणा पत्र संलग्न होना चाहिए।
  •  आवेदक किसान के पास एलपीसी/ जमीन रसीद /वंशावली /जमाबंदी या विक्रय पत्र होना अनिवार्य है।

DBT Bihar | Kisan Registration Yojana Required Documents

  •  आधार कार्ड
  •  मोबाइल नंबर
  •  बैंक का अकाउंट
  •  पासपोर्ट साइज फोटो
  •  खेती के कागजात

DBT Bihar, Kisan Registration Yojana Apply Online

Step-1: सबसे पहले आपको प्रत्यक्ष लाभ अंतरण, Agriculture Department, Bihar Government की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।

DBT Bihar

Step-2: आधिकारिक वेबसाइट के होम पेज पर आपको कृषि इनपुट अनुदान योजना का लिंक दिखाई देगा ।आपको इस लिंक पर क्लिक करना होगा।

Step-3: अब आवेदक के सामने एक नया पेट भर जाएगा इस पेज पर आवेदक को अपनी किसान पंजीकरण संख्या को दर्ज करना होगा।

Step-4: अब आपके के सामने अगले पेज पर कुछ महत्वपूर्ण निर्देश होंगे आपको निदेशक को पढ़कर सर्च की बटन पर क्लिक करना होगा।

Step-5: अब आवेदक के सामने कृषि इनपुट अनुदान योजना का आवेदन पत्र खुल जाएगा। कृषि इनपुट अनुदान योजना का आवेदन पत्र  भागों में विभाजित है।

Step-6: पहले भाग में आवेदक का व्यक्तिगत विवरण दर्ज करना होगा।आवेदक को इस आवेदन पत्र में पूछे गए सभी जानकारी जैसे नाम, पिता का नाम, पता, जिला, आयु, जन्मतिथि, मोबाइल नंबर, आधार क्रमांक आदि दर्ज करनी होगी।

Step-7: आवेदक को दूसरे भाग में कृषि योग्य भूमि से संबंधित विवरण दर्ज करना है जैसे भूमि का क्षेत्रफल, किसान का प्रकार और नष्ट हुई फसल का विवरण आदि दर्ज करना होगा।

Step-8: आवेदन पत्र के तीसरे भाग में किसान को अपनी कृषि योग्य भूमि का विवरण दर्ज करना है। इसके पश्चात को नहीं घोषणा भाग में सभी जानकारी दर्ज करनी है।

Step-9: सभी जानकारी दर्ज करने के पश्चात आवेदक को ओटीपी के बटन पर क्लिक करना होगा।

Step-10:  आपके द्वारा दर्ज किए गए मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी आ जाएगा। आवेदक को इस ओटीपी को आवेदन पत्र में दर्ज करना है।

Step-11:  अब आवेदक को स्वघोषणा पत्र का चयन करना होगा और देखना होगा कि उन्होंने सभी आवश्यक दस्तावेज स्कैन करके अपलोड किए हैं या नहीं।

Step-12:  आवेदक को कृषि इनपुट अनुदान योजना का आवेदन पत्र ऑनलाइन जमा करवाना होगा और अपनी पंजीकरण संख्या को भविष्य में उपयोग के लिए सुरक्षित करना होगा।

Krishi Input Anudan Yojana Print  Registration Form

Step-1:सबसे पहले आवेदक को इस योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।

Step-2: आधिकारिक वेबसाइट के होम पेज पर आवेदक को आवेदन स्थिति या प्रिंट का सेक्शन दिखाई देगा। इस सेक्शन आवेदक को इनपुट सब्सिडी प्रिंट का लिंक दिखाई देगा ।आवेदक को इस पर क्लिक करना है।

dbt bihar application status

Step-3: आवेदक के सामने एक नया पेज खुल जाएगा इस पेज पर आवेदक को अपनी पंजीकरण संख्या दर्ज करनी होगी।

Step-4: पंजीकरण संख्या दर्ज करने के पश्चात आवेदक को search के बटन पर क्लिक करना होगा।

Step-5: अब आवेदक के सामने krishi input anudan Yojana का आवेदन पत्र खुल जाएगा। आवेदक को आवेदन पत्र प्रिंट करने के लिए प्रिंट के बटन पर क्लिक करना होगा।

Check Online Krishi Input Anudan Yojana Application Status

Step-1: सर्वप्रथम आवेदक को कृषि इनपुट अनुदान योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।

Step-2: आधिकारिक वेबसाइट के होम पेज पर आवेदक को आवेदन स्थिति/ प्रिंट का सेक्शन दिखाई देगा। आवेदक को इस सेक्शन में आवेदन स्थिति के लिंक पर क्लिक करना होगा।

dbt bihar application status

Step-3: अब आवेदक के सामने एक आवेदन पत्र खुल जाएगा। इस आवेदन पत्र में आवेदक को अपना पंजीकरण क्रमांक दर्ज करना होगा।

Step-4: पंजीकरण क्रमांक सर्च करने के पश्चात आवेदक को सर्च के बटन पर क्लिक करना होगा।

Step-5: अब आवेदक के सामने कृषि इनपुट अनुदान योजना के आवेदन पत्र की स्थिति आ जाएगी।

यह सब कुछ आज आपने इस लेख के जरिये जाना है। उम्मीद है यह लेख आपके लिए लाभदायक रहा होगा। अगर आपको इस लेख में कुछ समझ नहीं आया हो तो आप कमेंट करके पूछ सकते है। हमारे इस लेख को अपने दोस्तों,रिश्तेदारों,इत्यादि तक शेयर करना न भूले। मैं Aarti dewatwal आपका तहे दिल से शुक्रिया करती हूँ| कि आपने हमारे लेख को पूरा पढ़ा । और आपने अपना कीमती समय इसे पढ़ने में लगाया। एक बार फिर से दिल से धन्यावद !

बिहार कृषि इनपुट अनुदान योजना के अंतर्गत जिन किसानों की फसलें बारिश ओलावृष्टि आदि प्राकृतिक आपदाओं के कारण नष्ट हुई है उन सभी किसानो को राज्य सरकार द्वारा प्रति हेक्टर अधिकतम ₹13500 की आर्थिक सहायता राशि मुहावजे के रुप में प्रदान की जाएगी।

कृषि इनपुट अनुदान योजना में आप ऑनलाइन अप्लाई कर सकते है ऑफिसियल वेबसाइट पर जा कर।

आधिकारिक वेबसाइट के होम पेज पर आवेदक को आवेदन स्थिति या प्रिंट का सेक्शन दिखाई देगा। इस सेक्शन आवेदक को इनपुट सब्सिडी प्रिंट पर क्लिक करना है। और अपना रजिस्ट्रेशन फॉर्म का प्रिंट निकाल सकता है।

अपना रजिस्ट्रेशन का स्टेटस चेक करने के लिए सबसे पहले ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा। आधिकारिक वेबसाइट के होम पेज पर आवेदक को आवेदन स्थिति/ प्रिंट का सेक्शन दिखाई देगा। आवेदक को इस सेक्शन में आवेदन स्थिति के लिंक पर क्लिक करना होगा।