राजस्‍थान अनुप्रति योजना 2021: ऑनलाइन आवेदन, Anuprati Yojana एप्लीकेशन फॉर्म

राजस्‍थान अनुप्रति योजना:- राज्य सरकार द्वारा वर्ष 2005 में एक योजना शुरू की गई थी। जिसका नाम है Rajasthan Anuprati Yojan। इस योजना के अंतर्गत राज्य ने अनुसूचित जाति/ अनुसूचित जनजाति/ विशेष पिछडा वर्ग/अन्‍य पिछडा वर्ग एवं सामान्‍य वर्ग के बी.पी.एल. परिवारों के प्रतिभावान अभ्‍यार्थियों को अलग – अलग प्रतियोगी परीक्षाएं

Contents

राजस्‍थान अनुप्रति योजना

जैसे भारतीय सिविल सेवा, साजस्‍थान सिविल सेवा, आई.आई.टी., आई.आई.एम., सी.पी.एम.टी., एन.आई.टी. एवं राजकीय इन्‍जीनियरिंग एवं मेडिकल आदि में चयन की तैयारी के लिए राजस्थान सरकार द्वारा आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। आज हम इस आर्टिकल के माध्यम से आपको Rajasthan Anuprati Yojan से संबंदित कुछ जानकारी प्रदान करने जा रहे है। यदि आप राजस्‍थान अनुप्रति योजना से सम्बंधित जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो इस आर्टिकल को अंत तक पढ़े।

राजस्थान अनुप्रति योजना 2021, Rajasthan Anuprati Yojana 2021

Rajasthan Anuprati Yojana के माध्यम से अखिल भारतीय सिविल सेवा परीक्षा में अलग – अलग स्तर पर पास होने वाले अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति के गरीब विद्यार्थियों को राजस्थान सरकार द्वारा 1 लाख रूपये तक की प्रोत्साहन धनराशि प्रदान की जाएगी। राजस्‍थान अनुप्रति योजना का लाभ उठाने वाले अनुसूचित जाति/ अनुसूचित जनजाति/ विशेष पिछडा वर्ग के अभ्यर्थियों के परिवार की वार्षिक आय 2 लाख रूपये से ज्यादा नहीं होनी चाहिए। इस योजना के अंतर्गत राजस्थान सरकार द्वारा में आयोजित होने वाले इंजीनियरिंग एवं मेडिकल की प्रवेश परीक्षा RPMT/ RPET में सफल होने तथा राजकीय मेडिकल एवं इंजीनियरिंग कॉलेज में प्रवेश लेने के दौरान विद्यार्थियों को 10 हजार रूपये की प्रोत्‍साहन राशि दिया जाएगा।

Rajasthan Anuprati Yojan
राजस्‍थान अनुप्रति योजना 2021: ऑनलाइन आवेदन, Anuprati Yojana एप्लीकेशन फॉर्म 3

Rajasthan Anuprati Yojana 2021 In Highlights

योजना का नाम Rajasthan Anuprati Yojana
इनके द्वारा शुरू की गयी राजस्थान सरकार
लाभार्थी राज्य के गरीब विधार्थी
उद्देश्य प्रोत्साहन धनराशि प्रदान करना
आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन
ऑफिसियल वेबसाइट https://sje.rajasthan.gov.in/schemes/Anuprati.html

मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना का शुभारंभ

राजस्थान अनुप्रति योजना 2021 को आर्थिक स्थति से कमजोर वर्ग के अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति के विद्यार्थियों के लिए शुरू किया गया था। राजस्थान अनुप्रति योजना 2021 के माध्यम से सभी लाभर्थियो को राशि प्रदान की जाती है। इस समय जनजाति विकास विभाग की चिकित्सा एवं तकनीकी प्रवेश परीक्षाओं के लिए कोचिंग योजना तथा सामाजिक न्याय अधिकारिता विभाग और अल्पसंख्यक मामले विभाग की अनुप्रति योजना प्रोत्साहन राशि प्रदान करने के लिए संचालित की जा रही है। सरकार द्वारा अब इस योजना के स्थान पर एक नई योजना शुरू |

होने जा रही है। अब इन दोनों योजनाओं के स्थान पर मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना सरकार द्वारा आरंभ की जाएगी। इस बात की घोषणा 6 जून 2021 को राजस्थान सरकार द्वारा की गई है। राजस्थान अनुप्रति योजना 2021 का लाभ प्रदेश के हर वर्ग से आर्थिक रूप से कमजोर विद्यार्थी उठा सकते है।

जारी किए गए मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना के दिशा निर्देश

सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना के संचालन के लिए नोडल एजेंसी होगी। इस योजना का लाभ छात्र छात्राओं को एक वर्ष के लिए प्रदान किया जाएगा। राजस्थान के वित्त विभाग द्वारा इस योजना की स्वीकृति मिलते ही इस योजना के संचालन के लिए दिशा निर्देश जारी किए जा चुके हैं। केवल वही विद्यार्थी पुरानी योजनाओं का लाभ प्राप्त कर सकेंगे जिनकी कोचिंग इस समय चल रही है या फिर कार्यादेश जारी किए जा चुके हैं। यदि छात्र अन्य शहर में स्थित संस्थान से कोचिंग प्राप्त करते हैं तो इस स्थिति में विद्यार्थियों को भोजन तथा आवास के लिए अतिरिक्त ₹40000 प्रतिवर्ष इस योजना के माध्यम से प्रदान किया जाएगा।

राजस्‍थान अनुप्रति योजना 2021 का उद्देश्य

राजस्थान अनुप्रति योजान 2021 का मुख्य उद्देश्य यह है कि अनुसूचित जाति, अनुसूचित जन जाति वर्ग के विधार्थियो के परिवारों को स्थिति बहुत कमज़ोर होती है जिसके वजह से इन परिवारों के बच्चे उच्च शिक्षा प्राप्त नहीं कर पाते। इस परिस्थति को देखते हुए राज्य सरकार ने एक योजना शुरू की गई है जिसका नाम है Rajasthan Anuprati Yojana 2021। राजस्थान अनुप्रति योजान 2021अंतर्गत राजस्थान के अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति वर्ग, पिछड़ा वर्ग एवं सामान्य वर्ग के सभी गरीब छात्रों को विभिन्‍न प्रतियोगी परीक्षाएं जैसे भारतीय सिविल सेवा, साजस्‍थान सिविल सेवा, आई.आई.टी., आई.आई.एम., सी.पी.एम.टी., एन.आई.टी. एवं राजकीय इन्‍जीनियरिंग एवं मेडिकल आदि आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।

यह भी पढ़िए: मुख्यमंत्री चिरंजीवी योजना

अनुप्रति योजना 2021 में दी जाने वाली प्रोत्साहन धनराशि

अखिल भारतीय सिविल सेवा परीक्षा हेतु मिलने वाली प्रोत्साहन राशि
विवरण प्रोत्साहन राशि  
प्रारम्भिक परीक्षा में उत्‍तीर्ण होने पर 65000 रुपये
मुख्य परीक्षा में उत्तीर्ण होने पर 30,000 रुपये
साक्षात्कार में उत्तीर्ण होने पर 5000 रुपये
कुल मिलने वाली राशि 1,00000 रुपये
RPSC राजस्थान लोक सेवा आयोग की परीक्षा के लिए देय राशि
विवरण प्रोत्साहन राशि  
प्रारम्भिक परीक्षा में उत्‍तीर्ण होने पर 25000 रुपये
मुख्य परीक्षा में उत्तीर्ण होने पर 20,000 रुपये
साक्षात्कार में उत्तीर्ण होने पर 5000 रुपये
कुल मिलने वाली राशि 50,000 रुपये

योजना के माध्यम से करें निम्नलिखित परीक्षाओं की तैयारी

संघ लोकल सेवा आयोग

  • सिविल सेवा परीक्षा, राजस्थान लोक सेवा आयोग
  • सब इंस्पेक्टर एवं 3600 ग्रेड पे या पे मैट्रिक्स लेवल 10 से ऊपर की अन्य परीक्षा, रिट, आरएएस एवं अधीनस्थ सेवा संयुक्त प्रतियोगी परीक्षा

राजस्थान कर्मचारी चयन आयोग

  • ग्रेड पे 2400 या पे मैट्रिक् लेवल 5 से ऊपर की परीक्षा
  • कॉन्स्टेबल परीक्षा

प्रवेश परीक्षाएं

  • इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा
  • मेडिकल प्रवेश परीक्षा
  • क्लैट परीक्षा

राजस्थान अनुप्रति योजान 2021 के लाभ

  • राजस्थान अनुप्रति योजान का लाभ राजस्थान के अनुसूचित जाति अनुसूचित जन जाति गरीब वर्ग के विधार्थियो को प्रदान किया जायेगा।
  • राजस्थान अनुप्रति योजान के अंतर्गत RPSC राजस्थान लोक सेवा आयोग की परीक्षा(आईआईटी, आईआईएम, एआईएमएस, एनआईटी, एनएलयू ) के लिए विधार्थियो को 50000 रूपये की प्रोत्साहन धनराशि प्रदान की जाएगी।
  • राजस्‍थान सरकार द्वारा आयोजित RPMT/RPET में सफल होने तथा राजकीय मेडिकल/इंजीनियरिंग कॉलेज में प्रवेश लेने के उपरान्‍त अभ्‍यर्थी को 1000 रूपये की धनराशि उपलब्ध कराई जाएगी।
  • राज्य के नुसूचित जाति अनुसूचित जन जाति गरीब वर्ग के विधार्थियो को शिक्षा के क्षेत्र में प्रोत्साहित करने के लिए सरकार द्वारा 1 लाख रूपये की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।

राजस्थान अनुप्रति योजना के मुख्य तथ्य

  • राजस्थान राज्य एवं अधीनस्थ सेवा संयुक्त प्रतियोगी परीक्षा उत्तीर्ण करने पर ₹50000 की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।
  • छत्र को राजस्थान राज्य एवं अधीनस्थ सेवा संयुक्त प्रतियोगी परीक्षा की प्रारंभिक परीक्षा उत्तीर्ण करने पर ₹25000, मुख्य परीक्षा उत्तीर्ण करने पर ₹20000 एवं साक्षरता उत्तीर्ण करने पर ₹5000 प्रदान किए जाएंगे।
  • अनुप्रति योजना का लाभ अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, विशेष समूह, अन्य पिछड़ा वर्ग, बीपीएल कार्ड धारी, सामान्य वर्ग के बीपीएल कार्ड धारी तथा आर्थिक पिछड़े वर्ग (वह सभी छात्र जिन्होंने अंतिम परीक्षा में 85% अंक प्राप्त किए हैं) के छात्रों को प्रदान किया जाएगा।
  • इस योजना के अंतर्गत सभी पात्र लाभार्थियों को आईएएस और आरएएस की प्रारंभिक परीक्षा उत्तीर्ण करने पर आगे की पढ़ाई के लिए सरकार की ओर से आर्थिक सहायता प्रोत्साहन राशि के रूप में प्रदान की जाती है।
  • इस योजना के माध्यम से संघ लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित की जाने वाली सिविल सेवा परीक्षा के लिए ₹100000 की प्रोत्साहन राशि प्रदान की जाएगी।
  • सिविल सेवा परीक्षा की प्रारंभिक परीक्षा उत्तीर्ण करने पर ₹65000, मुख्य परीक्षा उत्तीर्ण करने पर ₹30000 तथा साक्षरता उत्तीर्ण करने पर ₹5000 की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।
  • इसके अलावा इस योजना के माध्यम से तकनीकी शिक्षा प्राप्त करने के लिए शिक्षण संस्थान में प्रवेश परीक्षा में सफल होने पर ₹50000 की राशि प्रदान की जाएगी।

मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना की पात्रता

  • मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदक को राजस्थान का मूल निवासी होना अनिवार्य है।
  • इस योजना के अंतर्गत लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदक के परिवार की वार्षिक आय ₹800000 या फिर इससे कम होनी चाहिए।
  • इस योजना के अंतर्गत अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अन्य पिछड़ा वर्ग, अति पिछड़ा वर्ग अल्पसंख्यक एवं आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के विद्यार्थी आवेदन कर सकते हैं।
  • यह आवेदन जनजाति क्षेत्रीय विकास विभाग, सामाजिक न्याय अधिकारिता तथा अल्पसंख्यक मामलात विभाग के माध्यम से किया जा सकता है। वह सभी विद्यार्थी जिनके माता-पिता मेट्रिक लेवल 11 तक के राज्य सरकार के कर्मी के रूप में कार्यरत हैं एवं वेतन प्राप्त कर रहे हैं वह भी इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकते हैं।

राजस्‍थान अनुप्रति योजना 2021 के दस्तावेज़

  • सक्षम अधिकारी द्वारा जारी बी.पी.एल. प्रमाण पत्र की सत्‍यापित प्रति
  • प्रतियोगी परीक्षा के विभिन्‍न चरणों में उत्‍तीर्ण होने के प्रमाण पत्र की सत्‍यापित प्रति
  • प्रवेश परीक्षा उत्‍तीर्ण करने एवं शिक्षण संस्‍था में प्रवेश लेने के प्रमाण पत्र की सत्‍यापित प्रति
  • शपथ पत्र
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • आवेदक का आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र की सत्‍यापित प्रति
  • आय प्रमाण पत्र
  • जाति प्रमाण पत्र की सत्‍यापित प्रति
  • BPL प्रमाण पत्र की सत्यापित प्रति

राजस्‍थान अनुप्रति योजना 2021 ऑनलाइन आवेदन कैसे करे 

सबसे पहले आपको आवेदक को Social Justice and Empowerment Department की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा।

Step :- 1 फिर आपके सामने होम पेज खुल जाएगा।

Step :- 2 फिर इस होम पेज पर आपको नीचे आई.ए.एस., आर.ए.एस. आदि के लिए आवेदन पत्र का प्रारूप ,IIT, IIM आदि के लिए आवेदन पत्र का प्रारूप लिखा हुआ दिखाई देगा।

Step :- 3 आपको आई.ए.एस., आर.ए.एस. का एप्लीकेशन डाउनलोड करना है तो आई.ए.एस., आर.ए.एस. आवेदन पत्र के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा। इसके बाद आपको आई.ए.एस., आर.ए.एस.

Step :- 4 आवेदन पत्र पीडीएफ को डाउनलोड करना होगा।

Step :- 5 इसी तरह अगर आप IIT, IIM आदि के लिए आवेदन पत्र डाउन लोड करना चाहते है तो आपको IIT, IIM आदि के लिए आवेदन पत्र पर क्लिक करना होगा। इसके बाद आपके सामने IIT, IIM आदि के लिए आवेदन पत्र पीडीएफ खुल जाएगी।

Step :- 6 इस तरह आपको एप्लीकेशन को डाउनलोड करना होगा। एप्लीकेशन फॉर्म को डाउनलोड करने के बाद आपको आवेदन फॉर्म में पूछी गयी सभी जानकारी भरनी होगी। सभी जानकारी भरने के बाद

Step :- 7 आपको आपने आवेदन फॉर्म के साथ अपने आवश्यक दस्तावेज़ों को अटैच करना होगा।

Step :- 8 इसके बाद आपको आवेदन फॉर्म को अभ्‍यर्थी द्वारा विभिन्‍न प्रतियोगी परीक्षाओं में उत्‍तीर्ण होने/शिक्षण संस्‍थाओं में प्रवेश लेने के तीन माह की अवधि में आवेदन पत्र अपने गृह जिले के विभागीय

Step :- 9 जिलाधिकारी को प्रस्‍तुत करना होगा।

Step :- 10 इस तरह आपका आवेदन पूरा हो जायेगा।

मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना चयन प्रक्रिया

  • मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना के अंतर्गत सबसे पहले विद्यार्थियों का चयन 12वीं तथा दसवीं कक्षा में प्राप्त अंकों के आधार पर किया जाएगा।
  • इसके अलावा विभाग द्वारा प्रत्येक जिले का लक्ष्य निर्धारित किया जाएगा।
  • इस लक्ष्य के अनुसार विद्यार्थियों के मेरिट पर चयनित संस्थानों में विद्यार्थियों की कोचिंग की व्यवस्था की जाएगी।
  • इस योजना के लाभार्थियों में कम से कम 50% संख्या छात्राओं की होगी।
  • मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना का संचालन एसटी वर्ग के लिए जनजाति क्षेत्रीय विकास विभाग द्वारा किया जाएगा।
  • एससी, ओबीसी, एमबीसी और ईडब्ल्यूएस वर्ग के लिए सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग द्वारा किया जाएगा।
  • इसके अलावा अल्पसंख्यक वर्ग के लिए इस योजना का संचालन अल्पसंख्यक मामलात विभाग द्वारा किया जाएगा।