जानिए आयुष्मान सहकार योजना के बारे में इस योजना से अब गांवों में भी बेहतर इलाज मिल सकेगा

आयुष्मान सहकार योजना | Ayushman sahkar yojana | scheme for hospitals | medical scheme | new government scheme for medical colleges | Ayushman sahkaar yojana Apply online | Ayushman sahkaar | Apply Online

आयुष्मान सहकार योजना 

नमस्कार दोस्तों जानिए केंद्र सरकार की नवीनतम योजना के बारे में जिसका नाम है आयुष्मान सहकार योजना। तो चलिए विस्तार से जानते है इस योजना के बारे में और फायदा लेते है।

गांव में स्वास्थ्य सेवा लगभग सही नहीं है इसी वजह को देखते हुए केंद्र सरकार ने एक और बड़ा कदम उठाया है और कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय ने आयुष्मान सहकार योजना की शुरुआत करि है। इस योजना के अंतर्गत सरकारी समितियों द्वारा देश में स्वास्थ्य सेवा के बुनियादी ढांचे के निर्माण के लिए एक रूपरेखा तैयार की गई है। इसी के मद्देनजर केंद्रीय कृषि राज्यमंत्री पर उत्तम रुपाला ने यह जानकारी दी कि आने वाले वर्षों में एनसीडीसी 10 ,000 करोड रुपए तक का ऋण मुहैया कराएगी। इस योजना से यह आर्थिक सहायता मिलेगी कि सरकारी संस्थाएं भी मेडिकल कॉलेज और अस्पताल आसानी से खोल पाएंगे।

Latest Updates (हरियाणा में निश्शुल्क गोल्डन कार्ड की सीमा बड़ाई गयी है।)

  • पात्र व्यक्ति किसी भी अटल सेवा केंद्र (सीएससी) पर 30 अप्रैल तक आधार कार्ड और राशन कार्ड की फोटोकॉपी साथ लेकर निश्शुल्क गोल्डन कार्ड बनवा सकता है।
  • जिले में नागरिक अस्पताल, CSC व हरियाणा सरकार के पैनल पर प्राइवेट अस्पताल में भी अपना गोल्डन कार्ड बनवा सकते है।

केंद्र सरकार का यह किसान कल्याणकारी योजना किसानों को मजबूत करने की दिशा में एक सहायक कदम साबित होगी। इससे आयुष्मान सहकार योजना ग्रामीण क्षेत्रों में भी स्वास्थ्य सेवा अच्छे तरीके से पहुंचेगी और यह योजना एक क्रांतिकारी बदलाव लाएगी ऐसा केंद्र सरकार का मानना है।

इस योजना के तहत स्वास्थ्य प्रणालियों को आकार देने के उद्देश्य से स्वास्थ्य में निवेश स्वास्थ्य सेवाओं के संगठन करना प्रौद्योगिकियों तक पहुंच बनाना मानव संसाधन का विकास, अच्छे तरीके से करने चिकित्सा व्यवस्था को प्रोत्साहित करने, किसानों को शक्ति स्वास्थ्य सेवाएं और देखभाल इत्यादि को सम्मिलित किया गया है। इसका स्वरूप अस्पतालों स्वास्थ्य सेवा, चिकित्सा शिक्षा, नर्सिंग शिक्षा, पैरामेडिकल शिक्षा, स्वास्थ्य बीमा एवं अन्य स्वास्थ्य प्रणालियों जैसे आयुष के साथ व्यापक हैं।

इस योजना के तहत कोई भी सरकारी समिति जिस के नियमों में स्वास्थ्य देखभाल से संबंधित गतिविधियां संचालित करने के प्रावधान है। एनसीडीसी निधि से वह राशि प्राप्त कर सकेगी। वही एनसीडीसी सहायता राज्य सरकारों केंद्र शासित क्षेत्रों के प्रशासन के माध्यम से या योग्य सरकारी प्रत्यक्ष रूप से प्रदान की जाएगी। इसी के साथ अन्य स्रोतों से सब्सिडी अनुदान को संगठित किया जा सकता है।

आयुष्मान सरकारी योजना के अंतर्गत अस्पतालों में निर्माण करा सकेंगे। अस्पतालों का आधुनिकरण और उनका विस्तार और पुराने अस्पतालों की मरम्मत, नवीनीकरण, स्वास्थ्य सेवा और शिक्षा के बुनियादी ढांचे के साथ सभी को सही किया जा सकेगा।

इस योजना में निम्न को सम्मिलित किया गया है

मेडिकल अस्पताल, आयुष, दंत चिकित्सा , नर्सिंग, फार्मेसी, पैरामेडिकल, फिजियोथैरेपी , कॉलेजों में स्नातक और स्नातकोत्तर कार्यक्रम चलाने के लिए योग केंद्र, आयुर्वेद, एलोपैथिक, यूनानी, सिद्ध, होम्योपैथी एवं अन्य पारंपरिक चिकित्सा स्वास्थ्य केंद्र सम्मिलित किए गए हैं।

योजना का नामआयुष्मान सहकार योजना
इनके द्वारा शुरू की गयीराष्ट्रीय सहकारी विकास निगम, केंद्र सरकार
लाभार्थीग्रामीण क्षेत्रों के लोग
उद्देश्यमेडिकल कॉलेज और अस्पताओं की सुविधा प्रदान करना
ऑफिसियल वेबसाइटhttps://www.ncdc.in/

किन किन को मिलेगा इस योजना से लाभ जानिए

इस योजना के अंतर्गत बुजुर्गों के लिए स्वास्थ्य देखभाल सेवाएं, उप शासक देखभाल सेवाएं, विकलांग व्यक्तियों के लिए स्वास्थ्य देखभाल सेवाएं , मानसिक स्वास्थ्य देखभाल सेवाएं, एवं आपातकालीन चिकित्सा सेवाएं, और आघात केंद्र सम्मिलित किए गए है।

कुछ अन्य सेंटर भी इसमें सम्मिलित है वह निम्न प्रकार है
फिजियोथैरेपी सेंटर, मोबाइल क्लीनिक सेवाए, हेल्थ क्लब और जिम, आयुष ,फॉर मेडिकल, विनिर्माण औषधी परीक्षण प्रयोगशाला, डेंटल केयर सेंटर, नेत्र देखभाल सेंटर, प्रयोगशाला सेवाएं, डायग्नोस्टिक सेवाएं, ब्लड बैंक, रक्तदान सेवाएं, पंचकर्म, चार सूत्र चिकित्सा केंद्र, यूनानी चिकित्सा पद्धति, रेजिमेंटल, मातृ एवं शिशु देखभाल सेवाएं, और बाल स्वास्थ्य सेवाएं, और अन्य संबंधित के युवाओं को NCDT द्वारा सहायता के लिए उपयुक्त माना जाएगा।

इस योजना के अंतर्गत मेडिकल कॉलेज खोलने के लिए मिलेगा सस्ता ऋण और इसके लिए 10000 करोड का बजट आवंटित किया गया है केंद्र सरकार की ओर से।

केंद्र सरकार का कहना है कि 9.6 % की ब्याज दर पर आयुष अस्पताल, मेडिकल कॉलेज, लैब डायग्नोस्टिक सेंटर, दवा केंद्र खोलने के लिए ऋण उपलब्ध कराए जाएंगे।

इन सभी सरकारी संस्थाओं को मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल के क्षेत्र में प्रोत्साहित करने के पीछे सिर्फ एक ही कारण है। सरकार का कि ग्रामीण क्षेत्रों में चिकित्सा तंत्र को मजबूत करना जहां सरकारी सेवाएं ना के बराबर है। वहीं निजी अस्पतालों एवं मेडिकल कॉलेजों की तुलना में सरकारी सेवाएं इस योजना के तहत बेहतर साबित हो सकती है।

आयुष्मान सहकार योजना ऑनलाइन आवेदन | Ayushman Sahkar Online Application 

सबसे पहले आपको राष्ट्रीय सहकारी विकास निगम की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा।

आयुष्मान सहकार योजना 

विकल्प पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अगला पेज खुल जायेगा। इस पेज पर आपको न्यू रजिस्ट्रेशन के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।

Sahakar Mitra

विकल्प पर क्लिक करने के बाद आपके सामने एक पेज पर रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुलकर आ जायेगा। इस रजिस्ट्रेशन में पूछी गयी सभी जानकारी जैसे नाम ,ईमेल आईडी , डेट ऑफ़ बर्थ, मोबाइल नंबर आदि सही भरनी है।
सभी जानकारी भरने के बाद आपको रजिस्टर के बटन पर क्लिक करना है । इस तरह आपका रजिस्ट्रेशन पूरा हो जायेगा। और अगर आपको पहले से रजिस्टर है तो आपको already register के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा। और फिर अप्लाई करना है।

ayushman sahkar yojana

आयुष्मान सहकार योजना क्या है ?

गांव में स्वास्थ्य सेवा लगभग सही नहीं है इसी वजह को देखते हुए केंद्र सरकार ने एक और बड़ा कदम उठाया है और कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय ने आयुष्मान सहकार योजना की शुरुआत करि है। इस योजना के अंतर्गत सरकारी समितियों द्वारा देश में स्वास्थ्य सेवा के बुनियादी ढांचे के निर्माण के लिए एक रूपरेखा तैयार की गई है।

आयुष्मान सहकार योजना किसने शुरू की ?

कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय ने आयुष्मान सहकार योजना की शुरुआत करि है।

आयुष्मान सहकार योजना का लाभ कोन ले सकता है ?

आयुष्मान सहकार योजना का लाभ फिजियोथैरेपी सेंटर, मोबाइल क्लीनिक सेवाए, हेल्थ क्लब और जिम, आयुष ,फॉर मेडिकल, विनिर्माण औषधी परीक्षण प्रयोगशाला, डेंटल केयर सेंटर, नेत्र देखभाल सेंटर, प्रयोगशाला सेवाएं, डायग्नोस्टिक सेवाएं, ब्लड बैंक, रक्तदान सेवाएं, पंचकर्म, चार सूत्र चिकित्सा केंद्र, यूनानी चिकित्सा पद्धति, रेजिमेंटल, मातृ एवं शिशु देखभाल सेवाएं, और बाल स्वास्थ्य सेवाएं, और अन्य संबंधित के युवाओं को NCDT द्वारा सहायता के लिए उपयुक्त माना जाएगा।

इस योजना के अंतर्गत मेडिकल कॉलेज खोलने के लिए मिलेगा सस्ता ऋण और इसके लिए 10000 करोड का बजट आवंटित किया गया है केंद्र सरकार की ओर से।

आयुष्मान सहकार योजना के लिए ऑनलाइन अप्लाई कैसे करे ?

सबसे पहले आपको राष्ट्रीय सहकारी विकास निगम की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा।
विकल्प पर क्लिक करने के बाद आपके सामने एक पेज पर रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुलकर आ जायेगा। इस रजिस्ट्रेशन में पूछी गयी सभी जानकारी जैसे नाम ,ईमेल आईडी , डेट ऑफ़ बर्थ, मोबाइल नंबर आदि सही भरनी है।
सभी जानकारी भरने के बाद आपको रजिस्टर के बटन पर क्लिक करना है । इस तरह आपका रजिस्ट्रेशन पूरा हो जायेगा। और अगर आपको पहले से रजिस्टर है तो आपको already register के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा। और फिर अप्लाई करना है।

आयुष्मान सहकार योजना की ऑफिसियल वेबसाइट कोनसी है ?

आयुष्मान सहकार योजना की ऑफिसियल वेबसाइट “http://sip.ncdc.in/